nayaindia Modi poster Controversy मोदी विरोधी पोस्टर पर विवाद
ताजा पोस्ट

मोदी विरोधी पोस्टर पर विवाद

ByNI Desk,
Share

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ पोस्टर लगाने का विवाद बढ़ गया है। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में एक सौ से ज्यादा एफआईआर दर्ज की है और छह लोगों को गिरफ्तार किया है। इस मामले को लेकर आम आदमी पार्टी ने भाजपा और केंद्र सरकार पर तीखा हमला किया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस पर सवाल उठाते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी आखिर इतने डरे हुए क्यों हैं? गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी गुरुवार से पूरी दिल्ली में ‘मोदी हटाओ, देश बचाओ’ अभियान शुरू करने जा रही है।

इससे पहले दिल्ली के कुछ हिस्सों में ‘मोदी हटाओ, देश बचाओ’ के पोस्टर लगे थे। इसे लेकर बुधवार को पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की। पुलिस ने दिल्ली में जगह जगह चिपकाए गए पोस्टर हटाए। इतना ही नहीं आम आदमी पार्टी के ऑफिस से निकलते हुए एक वैन से भी पोस्टर जब्त किया। इस केस में छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है। यह संभवतः पहली बार है, जब राजनीतिक पोस्टर को लेकर इस तरह की कार्रवाई हुई है। राजद के सांसद मनोज झा ने इसे लेकर सरकार का विरोध किया और कहा कि पहले भी प्रधानमंत्रियों के खिलाफ ऐसे पोस्टर लगते रहे हैं।

बहरहाल, इस मामले को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री मोदी पर तंज किया। केजरीवाल ने बुधवार को पुलिस की कार्रवाई का जिक्र करते हुए मीडिया से कहा कि पीएम मोदी डर गए हैं। केजरीवाल ने कहा- पोस्टरों पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। मोदी जी इतने डरे हुए क्यों हैं? कोई भी इस पोस्टर को लगा सकता है। इतना डरा हुआ प्रधानमंत्री, इतना असुरक्षित प्रधानमंत्री!

इस बीच पुलिस ने कहा है कि पूरी दिल्ली में ऐसे 50 हजार पोस्टर लगाने की तैयारी थी। पुलिस ने प्रिंटिंग प्रेस के मालिकों को भी गिरफ्तार किया है, जिन्होंने बताया है कि उनको 50 हजार पोस्टर छापने का ऑर्डर मिला था। पुलिस ने आम आदमी पार्टी के कार्यालय से जो वैन पकड़ी है बताया जा रहा है कि उसमें दो हजार पोस्टर थे। आम आदमी पार्टी ने पुलिस की कार्रवाई को तानाशाही बताया है। पार्टी ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा है- मोदी सरकार की तानाशाही चरम पर है। पोस्टर में ऐसा क्या आपत्तिजनक है, जो इसे लगाने पर मोदी जी ने एक सौ एफआईआर कर दीं? पीएम मोदी आपको शायद पता नहीं, पर भारत एक लोकतांत्रिक देश है, एक पोस्टर से इतना डर क्यों?

Tags :

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें