nayaindia Parliament adjourned Rahul Gandhi राहुल पर दूसरे दिन भी हंगामा
ताजा पोस्ट

राहुल पर दूसरे दिन भी हंगामा

ByNI Desk,
Share
युवा

नई दिल्ली। संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण का दूसरा दिन भी राहुल गांधी के लंदन में दिए बयान पर हंगामे की भेंट चढ़ गया। लगातार दूसरे दिन सत्तापक्ष यानी भाजपा और उसकी सहयोगी पार्टियों ने संसद की कार्यवाही ठप्प की। सत्ता पक्ष ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के लंदन में दिए गए भाषण पर दोनों सदनों में हंगामा किया और कहा कि राहुल गांधी माफी मांगे तो दूसरी ओर विपक्षी पार्टियों ने अदानी-हिंडनबर्ग मामले में संयुक्त संसदीय समिति यानी जेपीसी की मांग की। इस बीच खबर है कि राहुल गांधी मंगलवार को लंदन से लौट रहे हैं और बुधवार को वे संसद की कार्यवाही में हिस्सा लेंगे।

बहरहाल, मंगलवार को दूसरे दिन की कार्यवाही शुरू होने से पहले सत्तापक्ष के बड़े नेताओं की बैठक हुई तो दूसरी ओर विपक्षी पार्टियों ने भी बैठक करके अपनी रणनीति बनाई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय मंत्रियों प्रह्लाद जोशी, पीयूष गोयल, नरेंद्र सिंह तोमर, किरेन रिजिजू, अनुराग ठाकुर, नितिन गडकरी आदि के साथ बैठक की। दूसरी ओर कांग्रेस अध्यक्ष और राज्यसभा में नेता विपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के संसद भवन स्थित कमरे में विपक्षी नेताओं की बैठक हुई। इसमें खड़गे के अलावा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता केसी वेणुगोपाल, जयराम रमेश, डीएमके के टीआर बालू, शिव सेना उद्धव ठाकरे गुट के संजय राउत, आम आदमी पार्टी के राघव चड्ढा और कुछ अन्य नेता शामिल हुए। तृणमूल कांग्रेस लगातार दूसरे दिन विपक्ष की बैठक में शामिल नहीं हुई। उसके सांसदों ने अडानी समूह के मसले पर संसद परिसर में प्रदर्शन किया।

पक्ष और विपक्ष की बैठक के बाद संसद के दोनों सदनों की कार्यवाही शुरू होते ही हंगामा शुरू हो गया। राज्यसभा में सदन के नेता पीयूष गोयल ने राहुल गांधी के बयान का मुद्दा उठाया और कहा कि राहुल ने विदेश जाकर भारत का अपमान किया है, जिसके लिए उनको माफी मांगनी चाहिए। विपक्ष की तरफ से अडानी मसले पर जेपीसी जांच की मांग उठाई गई। हंगामे के बीच लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही पहले दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित की गई और फिर बुधवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

दोनों सदनों की कार्यवाही स्थगित होने के बाद कांग्रेस ने अदानी सहित दूसरे मुद्दों पर संसद में विरोध प्रदर्शन किया। इससे पहले अदानी-हिंडनबर्ग मामले में जेपीसी जांच की मांग को लेकर कांग्रेस सांसद मणिकम टैगोर ने लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया। आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने भी इस  मसले पर काम रोको प्रस्ताव का नोटिस उच्च सदन में दिया। राज्यसभा में कांग्रेस सांसद शक्तिसिंह गोहिल ने सदन में लोकसभा सांसद राहुल गांधी का नाम लेने के लिए केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता पीयूष गोयल के खिलाफ एक विशेषाधिकार प्रस्ताव पेश किया। कांग्रेस ने साफ शब्दों में कह दिया है कि राहुल गांधी माफी नहीं मांगेगे और पार्टी अदानी मामले में जेपीसी बनाने की मांग करती रहेगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें