nayaindia विपक्ष की 'महारैली': 26 पार्टियों के नेता एकत्र, रामलीला मैदान में।
Trending

विपक्ष की ‘महारैली’ आज

ByNI Desk,
Share
महारैली

नई दिल्ली। मुंबई में 17 मार्च को हुई विपक्षी गठबंधन की साझा रैली के बाद एक बार फिर विपक्षी पार्टियां एक मंच पर जमा हो रही हैं। रविवार को नई दिल्ली के रामलीला मैदान में विपक्ष की ‘महारैली’ होगी, जिसमें 26 विपक्षी पार्टियों के नेता शामिल होंगे।

दिल्ली पुलिस ने सिर्फ 20 हजार लोगों के साथ ही रैली करने की अनुमति दी है लेकिन विपक्ष का दावा है कि लाखों लोग जमा होंगे। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित कई और विपक्षी नेताओं की गिरफ्तारी और कांग्रेस का बैंक खाता सीज किए जाने के यह रैली हो रही है।

आम आदमी पार्टी और कांग्रेस दोनों मिल कर इस रैली की तैयारी कर रहे हैं। इसमें कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और राहुल गांधी सहित दिल्ली प्रदेश के तमाम कांग्रेस नेता शामिल होंगे।

गठबंधन की सहयोगी पार्टियों के नेताओं में शरद पवार और उद्धव ठाकरे के इस रैली में शामिल होने की खबर है। यह भी बताया गया है कि राजद के तेजस्वी यादव और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ साथ वामपंथी पार्टियों के नेता भी विपक्ष की इस रैली में हिस्सा लेंगे।

रैली से पहले शनिवार को आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली सरकार के मंत्री गोपाल राय और दिलीप पांडे ने रामलीला मैदान में तैयारियों का निरीक्षण किया। गोपाल राय ने कहा कि गठबंधन के नेता ‘तानाशाही हटाओ, लोकतंत्र बचाओ’ रैली में पहुंच रहे हैं।

उन्होंने कहा- केंद्र सरकार एजेंसियों की मदद से विपक्ष के नेताओं को निशाना बना रही है। एक चुने हुए मुख्यमंत्री को किसी के आरोपों के आधार पर जेल में डाल दिया गया। ये जो खेल चल रहा है, इसी के खिलाफ कल महारैली होने जा रही है।

इस बीच शनिवार को झारखंड मुक्ति मोर्चा की नेता और झारखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन की पत्‍नी कल्‍पना सोरेन दिल्ली पहुंचीं और अरविंद केजरीवाल की पत्‍नी सुनीता केजरीवाल से मुलाकात की। कल्‍पना सोरेन ने मुलाकात के बाद कहा- हम दोनों मिल कर ये लड़ाई लड़ेंगे। गौरतलब है कि हेमंत सोरेन को भी ईडी ने गिरफ्तार किया था और वे पिछले दो महीने से जेल में हैं।

सुनीता केजरीवाल से मिलने के बाद कल्‍पना सोरेन ने कहा- जैसी घटना दो महीने पहले झारखंड में हुई थी दिल्ली में भी वैसा ही कुछ हुआ है। मैं सुनीता केजरीवाल से मिलकर उनका दुख दर्द बांटने आई थीं। हमने मिलकर प्रण लिया है कि इस लड़ाई को हमें बहुत दूर तक लेकर जाना है। अरविंद केजरीवाल के साथ पूरा झारखंड रहेगा।

इस मुलाकात के बाद आम आदमी पार्टी के नेता नेता सौरभ भारद्वाज ने कहा- हेमंत सोरेन विपक्ष के एक बड़े नेता थे और गैर भाजपा राज्य में अच्छी सरकार चला रहे थे, जिस तरह से उन्हें जेल में डाला गया वह सबने देखा। उन्होंने कहा- अरविंद केजरीवाल को जिस तरह जेल में डाला गया वह भी सबने देखा।

आज कल्पना सोरेन सुनीता केजरीवाल से मिलने आई थी, दोनों की स्थिति लगभग एक सी है, केंद्र सरकार ने इन दोनों के पतियों को जेल में डाला है। आज दोनों ने एक-दूसरे से बातचीत कर एक-दूसरे को हौसला दिया। रविवार की रैली में सुनीता केजरीवाल और कल्पना सोरेन दोनों को भाषण करना है।

 

यह भी पढ़ें:

केजरीवाल को क्या इस्तीफा देना होगा?

केजरीवाल की अब गिरफ्तारी होगी

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें