nayaindia sandeshkhali case mamata संदेशखाली मामले में फंस गईं ममता
Politics

संदेशखाली मामले में फंस गईं ममता

ByNI Political,
Share
TMC Candidate List
TMC Candidate List

पश्चिम बंगाल की ममत बनर्जी सरकार ने उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखाली मामले को बहुत गलत तरीके से हैंडल किया, जिसका नतीजा है कि सरकार इस मामले में फंस गई है। इतना ही नहीं लोकसभा चुनाव से पहले ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस भी इस मामले में फंस गई है। sandeshkhali case mamata

भाजपा ने इस मामले को हाथों हाथ लिया और बड़ा राजनीतिक मुद्दा बना दिया। यहां तक कहा जाने लगा कि संदेशखाली ममता बनर्जी के लिए नंदीग्राम साबित हो सकता है। ध्यान रहे उन्होंने नंदीग्राम हिंसा का मुद्दा बना कर लेफ्ट मोर्चे की साढ़े तीन दशक पुरानी सरकार को हरा दिया था।

बहरहाल, संदेशखाली में शिबू हाजरा भी आरोपी हैं लेकिन सारा फोकस शाहजहां शेख पर बना है। हाई कोर्ट को आदेश देना पड़ा है कि शाहजहां शेख को जल्दी से जल्दी गिरफ्तार किया जाए। अदालत की नाराजगी के बाद राज्य सरकार ने वादा किया कि वह एक हफ्ते में उसे गिरफ्तार करेगी।

सवाल है कि सरकार ने इतना समय क्यों लगाया, कि अदालत को आदेश करना पड़े? जब ईडी के अधिकारियों के ऊपर शाहजहां शेख के लोगों ने पथराव किया और उसके बाद उसके ऊपर महिलाओं के साथ यौन दुर्व्यहार करने के आरोप लगे तभी अगर राज्य की पुलिस ने उसको गिरफ्तार कर लिया होता तो अदालत को आदेश नहीं देना पड़ता। अब सरकार उसे गिरफ्तार भी कराएगी और राजनीतिक पूंजी का नुकसान भी उठाएगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें