पार्टी में अशांति, भ्रम में दिग्विजय

राजनीति, स्वभाव से, एक सतत परिवर्तनशील, ज्वलंत और विकसित होने वाला विषय है। किसी राजनीतिक व्यवस्था के कामकाज की भविष्यवाणी शायद ही कभी की जा सकती है।

गोवा में ‘ममता’ का सियासी खेला! Congress को झटका दे पूर्व CM  हो सकते हैं TMC में शामिल

TMC नेता डेरेक ओ ब्रायन भी इस बात की घोषणा कर चुके हैं कि उनकी पार्टी गोवा में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (Goa Elections 2022) में अपने उम्मीदवार उतारेगी…

कन्हैया और मेवानी कांग्रेस में शामिल होंगे

सीपीआई के नेता और जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार दो अक्टूबर को कांग्रेस पार्टी में शामिल हो सकते हैं।

Rajasthan : सतीश पूनिया ने कहा- कैप्टन के इस्तीफे के बाद गहलोत को अपने भविष्य की चिंता…

राहुल एक्शन के मूड में हैं. हालांकि सीएम बनने की चाह रखने वाले नवजोत सिंह सिद्धू के लिए कांग्रेस आलाकमान का ये फैसला चौंकाने वाला रहा है. पंजाब के साथ ही राजस्थान में भी हालात…

कांग्रेस में क्या करेंगे कन्हैया?

कांग्रेस पार्टी में शामिल होकर कन्हैया क्या कर लेंगे? बिहार में कांग्रेस पार्टी पूरी तरह से राष्ट्रीय जनता दल पर निर्भर है। उसे राजद के हिसाब से राजनीति करनी है।

कार्ति, दीपेंद्र और पायलट को क्या मिलेगा?

पिछले दिनों कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने विदेश जाने से पहले कार्ति चिदंबरम, दीपेंद्र हुड्डा और सचिन पायलट से मुलाकात या बात की थी।

कांग्रेस के तीनों राज्यों में झगड़ा!

कांग्रेस पार्टी में कमाल की राजनीति हो रही है। पता नहीं है कांग्रेस आलाकमान से मामला संभल नहीं रहा है या संभालने की इच्छा नहीं हो रही है या जान बूझकर संकट पैदा किया गया है।

कांग्रेस के लिए ममता की मजबूरी

कांग्रेस पार्टी की मजबूरी है कि वह ममता बनर्जी को विपक्षी गठबंधन में शामिल रखे। कांग्रेस के नेता खून का घूंट पीकर उनको साथ रखे हुए हैं।

राहुल ने ट्विटर का बहिष्कार कर दिया!

अमेरिका की माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर का बहिष्कार भाजपा को करना था। भाजपा के नेताओं ने इसका बड़ा हल्ला मचाया था।

चुनाव तक इंतजार करेंगे पीके

राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर कांग्रेस पार्टी में शामिल होने के लिए अगले साल होने वाले पांच राज्यों के चुनावों तक इंतजार करेंगे।

राहुल के कितने साथी पार्टी छोड़ गए?

सिर्फ गिनती करनी है कि राहुल गांधी ने कांग्रेस पार्टी के उपाध्यक्ष और फिर अध्यक्ष और अब पूर्व अध्यक्ष के रूप में कितने नेताओं को आगे बढ़ाया और उनमें से कितने आज उनके साथ हैं।

Congress को बड़ा झटका, Sushmita Dev Singh ने छोड़ी पार्टी, राहुल-प्रियंका के थी काफी करीब

नई दिल्ली | Sushmita Dev Singh Resigns : इंडियन नेशनल कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। असम में कांग्रेस पार्टी की सुष्मिता देव सिंह (Sushmita Dev Singh Resigns) ने पार्टी को छोड़ दिया है। सुष्मिता ने सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा सौंपा है। सुष्मिता देव सिंह असम के सिलचर से लोकसभा सांसद थी। अभी वह अखिल भारतीय महिला की अध्यक्ष (All India Mahila Congress President) की जिम्मेदारी भी संभाल रही थीं। ये भी पढ़ें :- स्वतंत्रता दिवस पर Punjab में मिले ’आई लव पाकिस्तान’ लिखे गुब्बारे, CM बोलें- ऐसा सबक सिखाएंगे, जीवनभर नहीं भूलेगा टिकट बंटवारे को लेकर सामने आई थी नाराजगी Sushmita Dev को राहुल गांधी और प्रियंका गांधी का काफी करीबी माना जाता है, लेकिन उन्होंने अचानक पार्टी छोड़ने का इतना बड़ा फैसला क्यों लिया इसका कारण फिलहाल स्पष्ट नहीं है। आपको बता दें कि, असम विधानसभा चुनावों के दौरान भी टिकट बंटवारे को लेकर सुष्मिता देव सिंह ने अपनी नाराजगी जताई थी। सुष्मिता के पिता भी बंगाली कांग्रेस के बड़े नेता रहे थे। ये भी पढ़ें :- UP : युवती को छेड़छाड की शिकायत पुलिस में करना पड़ा भारी, आरोपी के मां-बाप ने केरोसीन डाल लगाई आग ट्विटर पर लिखा- कांग्रेस की पूर्व सदस्य पार्टी छोड़ने के बाद सुष्मिता… Continue reading Congress को बड़ा झटका, Sushmita Dev Singh ने छोड़ी पार्टी, राहुल-प्रियंका के थी काफी करीब

राहुल के पुराने लोगों की वापसी होगी

राहुल गांधी ने पिछले 17 साल के अपने सक्रिय राजनीति जीवन में कई नए नेताओं को बड़ी जिम्मेदारी दी और कई पुराने नेताओं को आगे किया। इनमें से कुछ लोग अब भी पार्टी के लिए काम कर रहे हैं

कांग्रेस अभी इंतजार के मूड में

कांग्रेस पार्टी 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर किसी जल्दी में नहीं है। ममता बनर्जी भले उसके लिए बहुत उत्साह दिखा रही हैं लेकिन कांग्रेस को हड़बड़ी नहीं है। कांग्रेस पार्टी अपना समय आने का इंतजार कर रही है। पार्टी को लग रहा है कि अगले साल होने वाले पांच राज्यों के चुनाव के बाद कांग्रेस की स्थिति बदल जाएगी।

मुख्यमंत्री केजरीवाल आज गोवा के दौरे पर, ‘लेट्स क्लीन गोवाज पॉलिटिक्स’ पर करेंगे काम..

सभी राजनीतिक पार्टियां अपने-अपने चुनाव प्रचार में लगी है। ( AAP’s election preparations in Goa ) गोवा में 2022 में विधानसभा चुनाव होने है। सभी राजनीतिक पार्टियों में इसी को लेकर तैयारियां चल रही है। आम आदमी पार्टी पंजाब, उत्तराखंड के बाद अब गोवा में आने वाले विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल पार्टी के प्रचार को बढ़ावा देने के लिए मंगलवार यानी 13 जुलाई को गोवा के लिए रवाना होंगे। बता दें कि आम आदमी पार्टी 2022 में गोवा, उत्तराखंड और पंजाब समेत पांच राज्यों में चुनाव लड़ रही है। इसके लिए आप अपना चुनावी बिगुल बजा चुकी है। अपने दो दिवसीय दौरे से पहले केजरीवाल ने कहा कि गोवा बस बदलाव और ईमानदारी की राजनीति चाहता है। यहां धन की कोई कमी नहीं है। Goa wants change. Enough of parties buying and selling MLAs. Enough of dirty politics. Goa wants development. There is no shortage of funds, only shortage of honest intent. Goa wants honest politics. See you in Goa tomorrow. — Arvind Kejriwal (@ArvindKejriwal) July 12, 2021 also read: दिग्गज क्रिकेटर Yashpal Sharma का हार्ट अटैक से निधन, 1983 वर्ल्ड कप में किया था शानदार… Continue reading मुख्यमंत्री केजरीवाल आज गोवा के दौरे पर, ‘लेट्स क्लीन गोवाज पॉलिटिक्स’ पर करेंगे काम..

और लोड करें