nayaindia Rohit Shetty अपने पसंदीदा विषयों पर लौटे रोहित शेट्टी
बॉलीवुड

अपने पसंदीदा विषयों पर लौटे रोहित शेट्टी

Share

‘सर्कस’ के जरिये पहली बार रोहित शेट्टी ने स्टंट और ऐक्शन फिल्मों से बाहर निकल कर पुराने किस्म की कॉमेडी में हाथ आजमाने का प्रयास किया था। लेकिन यह फिल्म इस बुरी तरह पिटी कि रोहित शेट्टी के साथ रणवीर सिंह को भी जबरदस्त झटका लगा। रणवीर पहले ही ‘83’ और ‘जयेश भाई जोरदार’ से लगी चोट सहला रहे थे कि ‘सर्कस’ का दुख भी उन पर आ गिरा। वे अब ‘रॉकी और रानी की प्रेम कहानी’ और ‘अन्नियन’ के रीमेक की उम्मीद में समय काट रहे हैं। मगर रोहित शेट्टी स्टंट और एक्शन की अपनी जानी-पहचानी और सुरक्षित दुनिया में लौट गए हैं।

सबसे पहले उनकी वेब सीरीज ‘इंडियन पुलिस फोर्स’ आने वाली है। यह रोहित और रिलायंस एंटरटेनमेंट का साझा निर्माण है जिसमें सिद्धार्थ मल्होत्रा, शिल्पा शेट्टी और विवेक ओबरॉय मुख्य भूमिकाओं में हैं। प्राइम वीडियो पर आने जा रही इस सीरीज़ की शूटिंग के दौरान हैदराबाद में एक कार स्टंट में रोहित घायल भी हो गए थे। इस सीरीज के बाद वे ‘सिंघम 3’ और ‘सूर्यवंशी 2’ पर काम करेंगे। इस बीच वे नई किस्म की विचित्र कॉमेडी के अपने एक अलहदा ब्रांड ‘गोलमाल’ के पांचवें भाग को भी पूरा करना चाहते हैं। दिलचस्प बात यह कि इंडस्ट्री के लोग भी चाहते हैं कि रोहित ऐसे ही विषयों पर फिल्में बनाएं। यहां तक कि सिनेमाघरों या मल्टीप्लेक्स वाले भी उनसे यही चाहते हैं, क्योंकि ये फिल्में खूब कमाई करती हैं।

रोहित शेट्टी की मां रत्ना शेट्टी एक जूनियर आर्टिस्ट थीं तो पिता मधु बाबू शेट्टी अथवा एमबी शेट्टी अपने जमाने के हिंदी और कन्नड़ फिल्मों के अभिनेता, स्टंटमैन और फाइट मास्टर थे। वे केवल शेट्टी नाम से जाने गए। गंजे सिर और पहलवान से दिखने वाले वही शेट्टी जो सत्तर के दशक में हीरो के सामने दीवार की तरह आकर खड़े हो जाते थे। उनके बेटे रोहित शेट्टी ने असिस्टेंट डायरेक्टर से शुरू करके बहुत मेहनत से अपनी जगह बनाई है। और अगर वे अपने जॉनर में बने रहें तो वे बॉलीवुड के सबसे भरोसेमंद निर्माता-निर्देशकों में हैं। जिन फिल्मकारों के करिश्मे ने अजय देवगन, अक्षय कुमार और रणवीर सिंह को उनकी आज की हैसियत में पहुंचाया है उनमें रोहित शेट्टी प्रमुख हैं।

By सुशील कुमार सिंह

वरिष्ठ पत्रकार। जनसत्ता, हिंदी इंडिया टूडे आदि के लंबे पत्रकारिता अनुभव के बाद फिलहाल एक साप्ताहित पत्रिका का संपादन और लेखन।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें