nayaindia gujarat university hostel Afghanistan Student गुजरात में अफगानी
गुजरात

गुजरात में अफगानी छात्रों से मारपीट

ByNI Desk,
Share
gujarat university hostel Afghanistan Student
gujarat university hostel Afghanistan Student

अहमदाबाद। लोकसभा चुनाव से पहले गुजरात में नमाज को लेकर विदेशी मुस्लिम छात्रों से मारपीट का मामला सामने आया है। अहमदाबाद की गुजरात यूनिवर्सिटी में शनिवार देर रात हॉस्टल में रहने वाले अफगानी और अन्य छात्रों पर एक भीड़ ने हमला कर दिया था। बताया जा रहा है कि भगवा गमछा पहने और जय श्रीराम का नारा लगाती भीड़ हॉस्टल में घुसी और छात्रों से मारपीट की। हॉस्टल में पथराव और तोड़फोड़ भी की गई। इसमें पांच लोगों के घायल होने की खबर है। gujarat university hostel Afghanistan Student

यह भी पढ़ें: भारत का यह अंधा, आदिम चुनाव!

छात्रों से पिटाई का मामला यूनिवर्सिटी हॉस्टल के ए ब्लॉक की है। अफगानी छात्रों ने आरोप लगाया है कि शनिवार को रमजान की रात वे ए ब्लॉक में तरावीह यानी नमाज पढ़ रहे थे। इस दौरान बी ब्लॉक से आए तीन छात्रों ने इसका विरोध किया। उन्होंने बताया कि उनके जाने के बाद करीब दो सौ लोगों की भीड़ पहुंच गई और जय श्रीराम का नारा लगाते हुए हमला शुरू कर दिया। इनमें से कुछ ने हॉस्टल के कमरों में पथराव किया। कुछ हॉस्टल में घुस आए और लैपटॉप, एसी, अलमारी, टेबल, दरवाजे, म्यूजिक सिस्टम तोड़ दिया। बाहर खड़ी गाड़ियों में भी तोड़फोड़ की गई। घटना का वीडियो भी सामने आया है। gujarat university hostel Afghanistan Student

यह भी पढ़ें: कांग्रेस की चिंता में कविता की गिरफ्तारी

इस बीच राज्य के गृह मंत्री हर्ष सांघवी ने घटना के बाद पुलिस और यूनिवर्सिटी के अधिकारियों की इमरजेंसी मीटिंग बुलाई। उन्होंने पुलिस महानिदेशक और पुलिस कमिश्नर को तुरंत कार्रवाई करने के आदेश दिए। पुलिस ने घटना की जांच शुरू कर दी है। बाद में अहमदाबाद के पुलिस कमिश्नर जीएस मल्लिक ने कहा- 16 मार्च की रात करीब साढ़े 10 बजे छात्रों का एक समूह नमाज पढ़ रहा था। इस दौरान बाहर से 20-25 लोग आए और नमाज पढ़ने को लेकर सवाल किया। दोनों तरफ से बहस हुई। कुछ लोगों ने पथराव और तोड़फोड़ की। इस मामले में एफआईआर दर्ज कर ली गई है। एक व्यक्ति की पहचान हुई है। बताया गया है कि श्रीलंका और तजाकिस्तान के दो  छात्र अस्पताल में भर्ती हैं।

यह भी पढ़ें: भाजपा के चार सांसदों ने पार्टी छोड़ी

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें