nayaindia nitish kumar lalu yadav लालू-नीतीश एक हैं और एक रहेंगे!
ताजा पोस्ट

लालू-नीतीश एक हैं और एक रहेंगे!

ByNI Desk,
Share

पूर्णिया। बिहार में सत्तारूढ़ गठबंधन की दोनों बड़ी पार्टियों राष्ट्रीय जनता दल और जनता दल यू ने एक साल पहले ही 2024 के लोकसभा चुनाव के प्रचार का आगाज किया। बिहार के पूर्वी हिस्से में सीमांचल के पूर्णिया में एक बड़ी रैली करके महागठबंधन ने ताकत का प्रदर्शन किया। इस मौके पर लालू प्रसाद और नीतीश कुमार दोनों ने दो टूक अंदाज में कहा कि उनका गठबंधन मजबूत है और 2024 के चुनाव में भाजपा को हराएगा। किडनी बदलवा कर सिंगापुर से लौटे लालू प्रसाद ने रैली को दिल्ली से वर्चुअल तरीके से संबोधित किया और कहा कि लालू-नीतीश एक हैं और एक रहेंगे।

लालू ने कहा- भाजपा कोई पार्टी नहीं, वो राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का मुखौटा है। भाजपा और आरएसएस घोर आरक्षण विरोधी हैं। एकजुट रहिए। हम साथ रहेंगे तो ये लोग कुछ नहीं कर पाएंगे। उन्होंने जोर देकर कहा- देश से नरेंद्र मोदी सरकार की विदाई का समय आ चुका है। हम और नीतीश एक हो गए हैं। अब हमेशा साथ रहेंगे। 2024 में रिकॉर्ड तोड़ना है। रैली में नीतीश कुमार ने भी कहा कि लोग अफवाहों में न फंसे। राजद और जदयू साथ रहेंगे। उन्होंने एक बार फिर दोहराया कि कांग्रेस तय करे कि 2024 में किस तरह से तालमेल हो।

नीतीश ने अपने भाषण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह दोनों पर निशाना साधा। उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि प्रधानमंत्री ने बिहार को सवा लाख करोड़ रुपए का पैकेज देने का वादा किया था उसका क्या हुआ। नीतीश ने विपक्ष के एकजुट होने की बात दोहराते हुए कहा- कांग्रेस तय करे कि अगर हम सभी एकजुट हों तो 2024 में भाजपा को एक सौ से ज्यादा सीटें नहीं मिलेंगी। नीतीश कुमार ने अपनी स्थिति स्पष्ट करते हुए कहा- जीवन भर आप लोगों के हित के लिए काम करेंगे। मेरी कोई व्यक्तिगत इच्छा नहीं है। मेरी ख्वाहिश है कि देश आगे बढ़े, इसके लिए बीजेपी को हराना होगा। बिहार में जैसे हम एकजुट है, वैसे देश में एकजुट होना होगा। उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग जीतन राम मांझी को अलग करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन हम उनको कहीं भी नहीं जाने देंगे।

उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने केंद्र सरकार और भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा- बीजेपी के खिलाफ बोलते ही देश में छापे पड़ जाते हैं। उनसे मिल कर रहने वालों को बचाया जाता है। उन्होंने कहा- नीतीश जी ने बिल्कुल सही समय पर उनका साथ छोड़ कर महागठबंधन बना लिया। हम लोग एकजुट होकर लड़ाई लड़ेंगे तो हमारी जीत पक्की है। तेजस्वी ने कहा- जब जब बिहार लड़ता है तब तब दिल्ली हारती है। बिहार की धरती ने बीजेपी को संदेश दे दिया है। जब बिहार कर सकता है तो देश क्यों नहीं कर सकता है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें