nayaindia Covid 19 Infection कोविड संक्रमण एक महीने तक कान में रहता है वायरस..
जीवन मंत्र

कोविड संक्रमण के बाद एक महीने तक कान में रहता है वायरस : शोध

ByNI Desk,
Share
Covid 19 Infection

नई दिल्ली। कोविड-19 बीमारी के लिए जिम्‍मेदार वायरस एसएआरएस-सीओवी-2, एक साइलेंट रिसरवोयर के रूप में कार्य कर सकता है और संक्रमण के बाद एक महीने तक मध्य कान में मौजूद रह सकता है। एक नए शोध में यह बात सामने आई। Covid 19 Infection

अमेरिकन जर्नल ऑफ ओटोलरींगोलॉजी में प्रकाशित शोध निष्‍कर्ष में कोविड-19 के वेरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित मरीजों में ओटिटिस मीडिया विद इफ्यूजन (ओएमई) विकसित करने वाले मरीजों और कोविड वायरस के बीच एक संभावित संबंध पाया गया। ओएमई मध्य कान में फ्लूइड का एक कलेक्शन है, जो गाढ़ा या चिपचिपा हो सकता है। सर्दी, गले में खराश के कारण कान के पर्दे में फ्लूइड जमा हो जाता है और इससे अस्थायी तौर पर सुनने में दिक्कत भी हो सकती है। यह 3 से 7 साल उम्र के बच्चों में सबसे आम है।

चीन के वूशी हुइशान डिस्ट्रिक्ट पीपुल्स हॉस्पिटल के चेंगझोउ हान ने कहा हमारा शोध मध्य कान पर कोरोना वायरस के संभावित प्रभावों पर रोशनी डालता है, जो एसएआरएस-सीओवी-2 और ओएमई शुरुआत के बीच संबंध काेउजागर करता है। उन्होंने आगे कहा कि ओएमई में महत्वपूर्ण योगदान देने वाला वायरस ओमिक्रॉन संक्रमण के करीब एक महीने बाद मध्य कान में पाया जा सकता है, जो ओएमई उपचार रणनीतियों में संभावित बदलाव और दोबारा जोखिम का संकेत देता है। Covid 19 Infection

जनवरी से जून 2023 तक किए गए अध्ययन में 32 से 84 साल के 23 मरीजों को शामिल किया गया, जिनमें ओमिक्रॉन के बाद ओएमई संक्रमण पाया गया था। इनमें से 21 में एकतरफा लक्षण दिखाई दिए। सैंपल लेने तक की औसत अवधि 21 दिन थी। 80.0 प्रतिशत कानों में फ्लूइड जमाव देखा गया। 12 प्रतिशत नमूनों में एसएआररएस-सोएवी-2 पाया गया, जिसका चक्र सीमा मान 25.65 और 33.30 के बीच था।

यह भी पढ़ें:

पुरुषों की तुलना में महिलाओं को माइग्रेन का तीन गुना खतरा क्यों

140 करोड़ देशवासी ही मेरा परिवार हैं: पीएम मोदी

भाजपा नेताओं ने सोशल मीडिया पर बदला बायो, नाम के साथ जोड़ा ‘मोदी का परिवार’

मुख्यमंत्री ममता के सभा स्थल के निकट देसी बम बरामद

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें