nayaindia Madhya Pradesh Leaders Knock On The Door Of Gods मध्य प्रदेश के नेताओं की देवताओं के दर पर दस्तक
Cities

मध्य प्रदेश के नेताओं की देवताओं के दर पर दस्तक

ByNI Desk,
Share

Assembly Elections :- मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के नतीजे आने से पहले उम्मीदवारों से लेकर राजनीतिक दलों के नेता देवी देवताओं के मंदिरों से लेकर मठों तक दस्तक दे रहे हैं। राज्य की 230 विधानसभा सीटों के लिए 17 नवंबर को मतदान हो चुका है और तीन दिसंबर को नतीजे आने हैं। चुनाव परिणाम आने से पहले नेता मंदिर मठों की शरण में है। कोई उज्जैन के बाबा महाकाल के दरबार में पूजा अर्चना कर रहा है तो कोई दतिया में पीतांबरा पीठ के दरबार में विशेष अनुष्ठान करने में लगा है। इतना ही नहीं, कई लोग तो वैष्णो देवी और तिरुपति बालाजी के मंदिर में भी पहुंच रहे हैं। राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपनी पत्नी साधना सिंह के साथ दतिया के पीतांबरा मंदिर पहुंचकर दर्शन किए और पार्टी की जीत की अर्जी भी लगाई। शिवराज सिंह ने मैहर में मां शारदा के दर्शन करने भी गए। इसके अलावा उन्होंने बाबा महाकाल का अभिषेक भी किया। 

वे नर्मदा नदी के तट पर हीरापुर स्थित त्रिपुर सुंदरी राजराजेश्वरी माता के मंदिर भी पहुंचे और उन्होंने संतों से आशीर्वाद लिया। राज्य सरकार के मंत्री राजेंद्र शुक्ला और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय सिंह तिरुपति बालाजी पहुंचे और वहां विशेष पूजा अर्चना की। इसी तरह उज्जैन से भाजपा प्रत्याशी अनिल जैन ने वृंदावन पहुंचकर आराधना की और इंदौर क्रमांक एक से कांग्रेस उम्मीदवार संजय शुक्ला ने अमृतसर में दरबार साहिब के दर्शन किए। इसके अलावा नासिक में त्र्यंबकेश्वर महादेव का अभिषेक भी किया। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और राज्य सरकार के मंत्री कमल पटेल सहित तमाम बड़े नेताओं ने नलखेड़ा स्थित मां बगलामुखी देवी के मंदिर में विशेष अनुष्ठान कराया। कुल मिलाकर देखा जाए तो परिणाम आने से पहले तमाम राजनेता और उम्मीदवार अपने-अपने आराध्य की भक्ति में लगे हैं और चुनाव जीतने की मनोकामना भी कर रहे हैं। (आईएएनएस)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें