nayaindia Madhya pradesh assembly election अभी से कमलनाथ सबके निशाने पर
Election

अभी से कमलनाथ सबके निशाने पर

ByNI Political,
Share

एक्जिट पोल में मध्य प्रदेश में कांग्रेस के हारने के अनुमानों को लेकर भाजपा के नेता जीतने खुश नहीं हैं उससे ज्यादा खुश समाजवादी पार्टी के समर्थक खुश हैं। सोशल मीडिया में सपा का समर्थन करने वाले कई बड़े लोग, जिनमें रिटायर आईएएस, पुराने पत्रकार और कुछ नेता भी इस बात से खुश हैं कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस हार सकती है। उन्होंने अभी से कमलनाथ पर ठीकरा फोड़ना भी शुरू कर दिया है। यह प्रचार किया जा रहा है कि कमलनाथ ने समाजवादी पार्टी के साथ समझौता नहीं किया और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को लेकर एक बार पत्रकारों से कह दिया था कि ‘अखिलेश वखिलेश की बात छोड़िए’। सो, सपा समर्थक खुशी मना रहे हैं कि कांग्रेस हार जाएगी। उनको इस बात की चिंता नहीं है कि भाजपा जीत जाएगी, जबकि सब अपने को सेकुलर और भाजपा विरोधी बताते हैं!

बहरहाल, एक कांग्रेस के नेता हैं प्रमोद कृष्णनम वे भी इस बात पर काफी खुश हैं कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस हार सकती है। उन्होंने ट्विट करके कहा कि अगर मध्य प्रदेश में भाजपा की सरकार बनती है तो उसका श्रेय शिवराज सिंह से ज्यादा अखिलेश यादव को जाएगा। कई सेकुलर लोग ऐसे हैं, जिनका कहना है कि कमलनाथ बहुत ज्यादा नरम हिंदुत्व की राजनीति करते थे और बागेश्वर धाम वाले बाबा धीरेंद्र शास्त्री के चरणों में लोट लगा रहे थे इसलिए अगर हार जाते हैं तो अच्छा होगा। उन्हें भी भाजपा के जीत जाने से कोई परेशानी नहीं है। इस बीच कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह एक्जिट पोल के नतीजों को सबसे मुखर तरीके से खारिज कर रहे हैं। लेकिन एक जानकार का कहना है कि वे इस बात को लेकर परेशान हैं कि कमलनाथ ने कोई 15 टिकटें ऐसी बांटी, जिनमें उन्होंने किसी की बात नहीं मानी। उन सीटों पर कांग्रेस को नुकसान हो सकता है। सो, नतीजों से पहले कमलनाथ चौतरफा घिर रहे हैं। कांग्रेस, कांग्रेस समर्थक, सोशल मीडिया के सेकुलर, सपा के समर्थक सब उनकी ओर बंदूक ताने हुए हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें