• सीटों के पूर्वानुमान पर भी नैरेटिव!

    चुनाव में पार्टियां हर चीज का मुद्दा बनाती है और हर छोटी बड़ी घटना से नैरेटिव सेट करती हैं। ऐसा लग रहा है कि इस बार के चुनाव में प्रशांत किशोर और सट्टा बाजार भी नैरेटिव का पार्ट हैं। वैसे सट्टा बाजार पिछले कई चुनावों से नैरेटिव का हिस्सा हो गया है। पार्टियां सट्टा बाजार के नाम पर झूठे, सच्चे आंकड़े वायरल कराती हैं। कोई भी व्यक्ति, जिसके पास मोबाइल फोन है यह नहीं कह सकता है कि उसको किसी न किसी सट्टा बाजार का आंकड़ा नहीं मिला है। कहीं सादे कागज पर हाथ से लिखे आंकड़े वायरल हो रहे...

  • समर्थक भी भाजपा को आंखे दिखाते हुए।

    भारतीय जनता पार्टी बिहार और झारखंड में कुछ जातियों को बंधुआ समझती थी। यह माना जाता था कि कुछ भी हो जाए इनका वोट तो भाजपा को ही जाएगा। लेकिन इस बार चुनाव में यह मिथक टूटा है। भाजपा के कोर वोट आधार की जातियों ने पाला बदला है या बहुत मान मनौव्वल के बाद भाजपा की ओर लौटे हैं। यह बात बिहार और झारखंड की ज्यादातर सीटों पर देखने को मिला। इन दोनों राज्यों में तीन सवर्ण जातियों ब्राह्मण, भूमिहार और कायस्थ को भाजपा का कोर वोट माना जाता है। इसी तरह वैश्य और कोईरी, कुर्मी भी बिहार में...

  • रायबरेली में क्या करेगी कांग्रेस?

    उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटें हैं, जिनमें से एक सीट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी चुनाव लड़ रहे हैं। लेकिन सबसे ज्यादा चर्चा अमेठी और रायबरेली सीट की हुई है। दोनों सीटों पर मतदान हो गया है। कांग्रेस ने अमेठी सीट से परिवार के करीबी किशोरी लाल शर्मा को चुनाव लड़ाया है। इसलिए वहां जो होगा उसका असर परिवार की राजनीति पर नहीं होना है। लेकिन रायबरेली सीट से राहुल गांधी खुद लड़े हैं। लगातार 15 साल अमेठी से सांसद रहने के बाद राहुल 2019 का चुनाव हार गए थे। अब उस सीट को छोड़ कर वे अपनी मां...

  • जम्मू कश्मीर में क्या अब चुनाव होगा?

    जम्मू कश्मीर में विधानसभा चुनाव को लेकर सस्पेंस जारी है। सुप्रीम कोर्ट ने बहुत साफ शब्दों में 30 सितंबर तक चुनाव कराने को कहा है। लेकिन क्या केंद्र सरकार और चुनाव आयोग इसके लिए तैयार होंगे या वे सुप्रीम कोर्ट से और समय देने की मांग करेंगे? नई सरकार बनने के बाद इसका पता चलेगा। लेकिन अभी लोकसभा चुनाव में जम्मू कश्मीर के लोगों ने जैसा उत्साह दिखाया है वह कमाल का है। जम्मू कश्मीर की दो सीटों पर लोकसभा के चुनावों में लोगों ने रिकॉर्ड तोड़ मतदान किया है। राजधानी श्रीनगर की सीट पर 38.5 फीसदी मतदान हुआ, जहां...

  • विपक्षी नेता इस बार मंदिर नहीं जा रहे

    लोकसभा चुनाव 2024 के लिए 429 सीटों पर मतदान हो चुका। अब दो चरणों में 114 सीटों पर मतदान बाकी है लेकिन अभी तक कांग्रेस नेता राहुल गांधी या कोई भी दूसरा विपक्षी नेता मंदिर जाता नहीं दिखा है। पिछले चुनाव में ऐसा लग रहा था कि कांग्रेस के नेता चुनाव प्रचार कम और तीर्थाटन ज्यादा कर रहे थे। किसी भी शहर का शायद ही कोई मंदिर रहा होगा, जिसमें राहुल गांधी या प्रियंका गांधी वाड्रा नहीं गए थे या दूसरे विपक्षी नेताओं के पूजा पाठ करते तस्वीर सामने नहीं आई थी। यहां तक कि राहुल गांधी जब पहली बार...

  • हिमंत बिस्वा सरमा की मांग हर जगह

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बाद लोकसभा चुनाव प्रचार में जिस एक नेता की सबसे ज्यादा मांग है वह नेता हैं हिमंत बिस्वा सरमा। उत्तर भारत के हर राज्य में, हर उम्मीदवार चाहता है कि वे उसके यहां प्रचार करें। झारखंड की आदिवासी आरक्षित सीटों पर भी उनको प्रचार के लिए बुलाया गया और बिहार की सीटों पर भी वे प्रचार कर रहे हैं। दिल्ली में भी उन्होंने चुनाव प्रचार किया। यह पिछले पांच साल का विकास है, जो असम से बाहर उनकी इतनी पूछ हो गई है। मुख्यमंत्री बनने के बाद उन्होंने अपने...

  • महाराष्ट्र में भाजपा को कितना नुकसान

    यह लाख टके का सवाल है क्योंकि देश की तमाम विपक्षी पार्टियां और चुनाव विश्लेषक महाराष्ट्र को स्विंग स्टेट मान रहे हैं। उनको लग रहा है कि कर्नाटक, बिहार, झारखंड जैसे कुछ राज्यों के साथ साथ महाराष्ट्र से भाजपा को सबसे बड़ा झटका लगेगा। महाराष्ट्र को लेकर कई किस्म की अटकलों के बीच राज्य के सबसे अनुभवी और पुराने नेता शरद पवार ने अपना अंदाजा जाहिर किया है। पवार ने कहा है कि महाराष्ट्र में कम से कम 50 फीसदी सीटें विपक्षी गठबंधन महाविकास अघाड़ी को मिलेंगी। इसका मतलब है कि राज्य की 48 में से कम से कम 24...

  • कन्हैया के खिलाफ झूठे प्रचार की बाढ़

    उत्तर पूर्वी दिल्ली सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार कन्हैया कुमार के खिलाफ दुष्प्रचार की बाढ़ आई हुई है। देश की 543 सीटों में से शायद ही कोई दूसरी सीट होगी, जहां उम्मीदवार के खिलाफ इतना झूठा प्रचार किया जा रहा हो। उनकी तस्वीरें वायरल करके कहा जा रहा है कि वे देशद्रोही हैं और जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी छात्र संघ का अध्यक्ष रहते उन्होंने भारत विरोधी नारे लगाए थे। उनकी डफली बजाते एक तस्वीर वायरल करके सोशल मीडिया में दावा किया जा रहा है कि छत्तीसगढ़ में जब नक्सलियों के हमले में सुरक्षा बलों के 50 से ज्यादा जवान शहीद...

  • इंजीनियर राशिद ने बढ़ाई उमर की समस्या

    जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ऐसा लग रहा है कि बारामूला लोकसभा सीट पर चुनाव लड़ कर फंस गए हैं। पहले तो लड़ाई उनके लिए बहुत आसान दिख रही थी लेकिन अब लग रहा है कि त्रिकोणात्मक लड़ाई में उनके लिए मुश्किल बढ़ गई है। पहले लग रहा था कि उमर अब्दुल्ला की सीधी लड़ाई सज्जाद लोन से होगी। लेकिन बाद में इंजीनियर राशिद ने भी नामांकन कर दिया। वे अभी दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद हैं और उनकी तरफ से उनके बेटे अबरार राशिद चुनाव प्रचार संभाल रहे हैं। राशिद के मैदान में उतरने से बारामूला...

  • योगी प्रशासन पर फिजूल शक, सवाल?

    उत्तर प्रदेश में क्या मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का प्रशासन भाजपा उम्मीदवारों का साथ नहीं दे रहा है? क्या पुलिस और प्रशासन के लोग समाजवादी पार्टी के उम्मीदवारों की मदद कर रहे हैं? यह सवाल उठा है प्रदेश भाजपा के एक ट्विट से, जो उसने 13 मई को चौथे चरण के मतदान के दिन किया। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर भाजपा के आधिकारिक हैंडल से 13 मई को दोपहर दो बजे के करीब एक ट्विट हुआ, जिसमें कहा गया- सपाई गुंडों के सामने पुलिस प्रशासन नतमस्तक। इसमें कन्नौज लोकसभा क्षेत्र में चुनाव को लेकर शिकायत की गई। इसमें लिखा गया- विधानसभा...

  • केजरीवाल क्या प्रचार के लिए बंगाल जाएंगे?

    सुप्रीम कोर्ट के आदेश से चुनाव प्रचार के लिए अंतरिम जमानत पर जेल से बाहर आए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सहयोगी पार्टियों के लिए प्रचार शुरू कर दिया है। उन्होंने अपनी पार्टी के उम्मीदवार के लिए दिल्ली और हरियाणा में प्रचार किया और साथ ही दिल्ली में कांग्रेस के दो उम्मीदवारों के लिए जनसभा की। इसके बाद वे उत्तर प्रदेश गए, जहां उन्होंने समाजवादी पार्टी के लिए वोट मांगा। हालांकि उनके उत्तर प्रदेश के कार्यक्रम को लेकर कुछ कंफ्यूजन भी रहा। पहले उनको बुधवार को उत्तर प्रदेश जाना था, जहां कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और सपा...

  • इंदौर में कांग्रेस का नोटा अभियान नहीं चला

    मध्य प्रदेश की इंदौर लोकसभा सीट पर भाजपा वैसा खेला नहीं कर सकी, जैसा उसने गुजरात की सूरत सीट पर किया था। इंदौर में भी कांग्रेस उम्मीदवार ने पर्चा वापस ले लिया था लेकिन समय रहते सभी निर्दलीय और छोटी पार्टियों के उम्मीदवारों की नाम वापसी नहीं हुई, जिससे मतदान की नौबत आ गई। इंदौर लोकसभा सीट पर सोमवार यानी 13 मई को मतदान हुआ। इससे पहले कांग्रेस ने अभियान चलाया था कि उसके समर्थकों को नोटा पर वोट करना चाहिए। कांग्रेस ने एक तरह से नोटा को अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया। हालांकि एक बड़ा वर्ग यह कहता रहा...

  • मतदान के आंकड़ों का विवाद क्यों है?

    पहले दो चरण के मतदान के अंतिम आंकड़े देर से जारी करने और उनमें बहुत ज्यादा बढ़ोतरी को विपक्षी पार्टियों ने खास कर कांग्रेस ने मुद्दा बनाया है। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने इसे लेकर सभी विपक्षी पार्टियों को एक चिट्ठी लिखी थी। बाद में चुनाव आयोग ने इसका जवाब भी दिया। लेकिन सवाल है कि पार्टियां इसका विवाद क्यों बना रही हैं? क्या पार्टियों को यह अंदेशा है कि मतदान के दिन यानी 19 और 26 अप्रैल को जितने वोट पड़े चुनाव आयोग के अंतिम आंकड़े में उससे ज्यादा बताया जा रहा है? गौरतलब है कि दूसरे चरण के...

  • पीएम के रोड शो में नीतीश कुमार

    इन दिनों वैकल्पिक मीडिया और ‘इंडिया’ ब्लॉक के समर्थक पत्रकारों के पसंदीदा पंचिंग बैग नीतीश कुमार है। कोई भी मौका खोज कर उन पर हमला किया जाता है। रविवार को नीतीश कुमार पटना में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रोड शो में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने भाजपा के चुनाव चिन्ह कमल का एक डिजाइन भी अपने हाथ में ले रखा था। इसे लेकर उन पर जो हमले हो रहे हैं उनमें कहा जा रहा है कि नीतीश कुमार ने अपनी साख पूरी तरह से खत्म कर ली। यह भी कहा जा रहा है कि वे ‘इंडिया’ ब्लॉक में रहते तो...

  • चुनाव में अब उम्र का मुद्दा

    लोकसभा चुनाव के प्रचार में अब नेताओं की उम्र का मुद्दा बन गया है। अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री की उम्र का मुद्दा बनाया है तो प्रधानमंत्री भी किसी तरह से राहुल गांधी की उम्र खींच कर ले आए हैं। जेल से छूटने के बाद केजरीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी अगले साल 17 सितंबर को 75 साल के हो जाएंगे उसके बाद वे क्या रिटायर हो जाएंगे और अमित शाह को प्रधानमंत्री बना देंगे। हालांकि तुरंत ही अमित शाह ने इसका जवाब दिया और कहा कि पार्टी के संविधान में 75 साल में रिटायर होने का कोई नियम नहीं है।...

  • मतदान प्रतिशत में ज्यादा अंतर नहीं

    लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण के मतदान के आंकड़े आने के बाद मतदान प्रतिशत को लेकर जिस तरह का हल्ला मचा था वह अब थम गया है। कम मतदान के हवाले जो नतीजे निकाले जा रहे थे उनकी बजाय अब नए सिरे से सोचा जा रहा है। असल में चुनाव आयोग ने तीन चरण के जो अंतिम आंकड़े जारी किए हैं उनसे पता चल रहा है कि पिछली बार के मुकाबले मतदान प्रतिशत में ज्यादा का अंतर नहीं आया है। मतदान निश्चित रूप से पहले से कम है लेकिन वह अंतर एक फीसदी के आसपास का है। बिना लहर...

  • कन्हैया के लिए दिल्ली बैठेंगे पप्पू यादव

    पूर्व सांसद पप्पू यादव पूर्णिया में निर्दलीय चुनाव लड़े और राजद व तेजस्वी यादव के तमाम दबाव के बावजूद कांग्रेस ने उनको पार्टी से नहीं निकाला। हालांकि बाद में कांग्रेस के एक प्रवक्ता ने कहा कि पप्पू यादव की पार्टी का आधिकारिक रूप से कांग्रेस में विलय नहीं हुआ था इसलिए पार्टी से निकालने का सवाल नहीं उठता है। लेकिन हकीकत यह है कि वे कांग्रेस पार्टी से जुड़ गए हैं और उनकी पत्नी रंजीत रंजन कांग्रेस की राज्यसभा सांसद भी हैं। बहरहाल, पूर्णिया का चुनाव खत्म होने के बाद कांग्रेस की ओर से पप्पू यादव को कहा गया है...

  • चार सौ सीट की कहानी में नया मोड़

    लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण के मतदान के बाद ऐसा लग रहा था कि भाजपा ने चार सौ सीट का राग गाना छोड़ दिया है। विपक्षी पार्टियां इस पर जश्न भी मनाने लगी थीं कि भाजपा को वास्तविकता का अहसास हो गया है और इसलिए उसने चार सौ सीट जीतने की बात बंद कर दी है। लेकिन अब चार सौ सीट के गाने का रिमिक्स आ गया है। नई धुन और नए तेवर के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे तीसरे चरण के मतदान के दिन लॉन्च किया। कह सकते हैं कि चार सौ सीट के पूरे नैरेटिव में...

  • ओडिशा में किस दिन, कौन शपथ लेगा?

    लोकसभा 2024 के साथ साथ चार राज्यों में विधानसभा के चुनाव हो रहे हैं। ओडिशा, आंध्र प्रदेश, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव हैं। इनमें से ओडिशा में अलग ही चुनाव प्रचार हो रहा है। वहां भारतीय जनता पार्टी और बीजू जनता दल में आमने सामने का मुकाबला है। पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा ने अकेले लड़ कर अपना सबसे अच्छा प्रदर्शन किया था तो उसे 147 सदस्यों की विधानसभा में 22 सीटें मिली थीं। दूसरी ओर बीजू जनता दल ने 111 सीटें जीती थीं। हालांकि लोकसभा चुनाव में नतीजे अलग रहे। भाजपा आठ सीट जीतने में कामयाब रही...

  • मायावती का जौनपुर में टिकट बदलना खेला

    बहुजन समाज पार्टी के स्टार प्रचार और मायावती के उत्तराधिकारी आकाश आनंद कई दिन तक चुनाव प्रचार से गायब रहे और इस बीच बसपा ने प्रतिष्ठा की सीट बनी जौनपुर में उम्मीदवार बदल दिया। बसपा ने इस सीट से बाहुबली नेता और पूर्व सांसद धनंजय सिंह की पत्नी श्रीकला रेड्डी को टिकट दिया था। लेकिन नामांकन की आखिरी तारीख से एक दिन पहले उनकी टिकट काट दी और उनकी जगह पार्टी के सांसद श्याम सिंह यादव को उम्मीदवार बना दिया। सवाल है कि मायावती ने क्यों धनंजय सिंह की पत्नी की टिकट काटी, जबकि उनको पता था कि धनंजय सिंह...

और लोड करें