भारत-पाक सुरक्षा बलों के बीच वार्ता

भारत और पाकिस्तान के सुरक्षा बलों ने रविवार को वार्ता की, जिसमें भारत ने सैन्य  प्रतिष्ठानों के आसपास दिखाई दे रहे संदिग्ध ड्रोन गतिविधियों का मुद्दा उठाया।

UTTARAKHAND landslide: भूस्खलन के कारण चारधाम जाने वाला प्रमुखा रास्ता ऋषिकेष-गंगोत्री हाइवे हुआ बंद, अवरुद्ध मार्ग को शुरु करने के लिए काम ज़ारी..

उत्तरकाशी: उत्तराखंड में आए दिन भूस्खलन, बादल फटना, रास्ते में चट्टान गिरना.. ऐसी घटना आए दिन होती ही रहती है। जिसे पहाड़ी लोगों का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो जाता है। सोमवार की सुबह ऋषिकेश से गंगोत्री जाने वाला नेशनल हाइवे भूस्खलन के कारण बंद हो गया है। चट्टान के गिरने से यहा आवाजाही बंद हो गई है। जिसके कारण आम लोगों और सेना के लोगों को आने-जाने में समस्या का सामना करना पड़ रहो है। ऋषिकेश-गंगोत्री नेशनल हाइवे भारत और चीन के बॉर्डर तक जाने वाला महत्वपूर्ण हाइवे है। यह चारधाम जाने वाला प्रमुख रास्ता है। फिलहाल चारधाम यात्रा श्रद्धालुओं के बंद है। आधिकारिक सूचनाओं में यह भी बताया गया कि जल्द ही इस अवरुद्ध मार्ग को फिर शुरू किए जाने के लिए ज़रूरी काम तेज़ी से किया जा रहा है। also read: उत्तराखंड में बदल रही है लिंगानुपात की तस्वीर, देवभूमि के इन आंकड़ों को देख आप भी करेंगे तारीफ 11 गांवों का सड़क मार्ग से संपर्क कट गया सीमा सड़क संगठन के अधिकारियों के हवाले से समाचारों में कहा गया कि भूस्खलन की घटना के कारण इस नेशनल हाईवे के बंद होने से सिर्फ गंगोत्री ही नहीं बल्कि 11 गांवों का सड़क मार्ग से संपर्क पूरी तरह कट गया। अधिकारियों… Continue reading UTTARAKHAND landslide: भूस्खलन के कारण चारधाम जाने वाला प्रमुखा रास्ता ऋषिकेष-गंगोत्री हाइवे हुआ बंद, अवरुद्ध मार्ग को शुरु करने के लिए काम ज़ारी..

सरकार का इकबाल कहां चला गया?

कहते हैं कि राम से बड़ा उनका नाम होता है। देश की सत्तारूढ़ पार्टी ने यह साबित किया है। आखिरी राम का नाम लेकर ही वह देश की सत्ता में है और बंगाल में भी चुनाव लड़ रही है। बहरहाल, इसी तरह सरकार से बड़ा उसका इकबाल होता है। आज पूरी दुनिया में किसी अमेरिकी नागरिक की तरफ आंख उठा कर देखने से पहले कोई भी व्यक्ति हजार बार सोचता है। लेकिन भारत में किसी भारतीय की जान की कोई कीमत ही नहीं है। इराक से लेकर अफगानिस्तान तक भारतीय नागरिक अगवा हो जाते हैं और महीनों तक उनका अता-पता नहीं होता है। बहरहाल, अभी असम में उल्फा के आतंकवादियों ने ओएनजीसी के छह कर्मचारियों को बंधक बना लिया है। अभी कुछ दिन पहले छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने सीआरपीएफ के एक कमांडो को बंधक बना लिया था और पूरी जन पंचायत लगा कर उसे रिहा किया। उधर पूर्वी लद्दाख में चीन ने भारत की जमीन कब्जा कर ली है और छोड़ने से इनकार कर रहा है। पहले तो बातचीत भी कर रहा था लेकिन अब दो टूक अंदाज में कह दिया है कि भारत को जितना मिल गया है उतने में ही खुश रहे। सोचें, चीन ने भारत को धकेल… Continue reading सरकार का इकबाल कहां चला गया?

दस लाख का नोट फिर भी इतना सस्ता

अब तक का सबसे बड़ा नोट जिसकी कीमत सुनकर आप भी एक बार चौक जाएंगे। ऐसे नोट को ज़ारी करने वाला देश बना है वेनेजुएला। इस नोट की कीमत है  दस लाख बोलिवर। वेनेजुएला की मुद्रा का नाम बोलिवर है। लेकिन इस नोट की कीमत मात्र 0.23 डॉलर ही रहेगी। और इसके साथ ही यह भी चौकाने वाली बात है कि वेनेजुएला में भारत के एक रूपये की कीमत 25584.66 बोलीवर है और दूनिया का सबसे बड़ा नोट माने जा रहे दस लाख बोलीवर को नोट की कीमत मात्र 36 रूपये है। यानी आप इसे ऐसे भी समझ सकते है कि भारत में यदि आप आधा किलो चावल 36 रूपये में खरीद सकते है तो इन्हीं आधा किलो चावल के लिए आपको वेनेजुएला में दस लाख का नोट देना होगा। वेनेजुएला में आलम यह है कि लोग बैग और बोरो में भरकर नोट ले जाते है और पॉलिथीन में सामान खरीद कर लाते है। इसलिए इस असुविधा से बचने के लिए वहां की सरकार ने बड़े मुल्यों का नोट छापने की योजना बनाई है। इसे भी पढ़ें फ्रांस के मंत्री से क्यों नहीं मिले मोदी? आर्थिक मंदी चपेट में वेनेजुएला वेनेजुएला एक समय में लोटिन अमेरिका का सबसे अमीर देश था… Continue reading दस लाख का नोट फिर भी इतना सस्ता

बढ़ते कोरोना मामले पर बोले राकेश टिकैत, पूरे देश में लग जाए लॉकडाउन, आंदोलन नहीं होगा खत्म

गाजीपुर बॉर्डर। देशभर में Corona के मामले बढ़ते जा रहे हैं और हालात फिर बिगड़ते जा रहे हैं। Corona के कारण हर तरफ खतरा बढ़ गया है। ऐसे में दिल्ली की सीमाओं पर बैठे सैंकड़ो की संख्या में किसानों पर भी Corona का सीधा खतरा बना हुआ है। लेकिन Kisaan इस Aandolan को न खत्म करने की बात दोहरा रहे हैं। बीते कुछ समय से Corona ने ऐसी स्पीड पकड़ी कि सात-आठ महीने का रिकॉर्ड टूट गया हैं। देश में पहली बार अब एक दिन में एक लाख से ज्यादा मरीज मिल रहे हैं। लेकिन Agricultural Law के खिलाफ हो रहे विरोध में किसान ऐसे खतरा होने के बावजूद हटने का विचार नहीं कर रहें हैं। Bhartiya Kisan Union के नेता Rakesh Tikait ने इस मसले पर बात करते हुए कहा कि, इसको शाहीन बाग मत बनाने दो उन लोगों को। पूरे देश मे लॉकडाउन लग जाए लेकिन ये Aandolan खत्म नहीं होगा। जो भी Corona Guidelines होंगी उसका पालन Aandolan स्थलों पर किया जाएगा। हालांकि Border पर Kisan Corona नियमो की साफ अनदेखी भी कर रहें हैं। Kisan ना तो मुंहँ पर मास्क और न ही सेनिटाइजर इस्तेमाल करते नजर आते हैं। जिससे कोरोना का खतरा किसानों पर ज्यादा… Continue reading बढ़ते कोरोना मामले पर बोले राकेश टिकैत, पूरे देश में लग जाए लॉकडाउन, आंदोलन नहीं होगा खत्म

वायरस हो या बार्डर हर चुनौती से निपटने में सक्षम है देश: मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि देश तेजी से विश्व मानचित्र पर अपनी छाप छोड़ रहा है और वह किसी भी स्थिति से निपटने में पूरी तरह सक्षम है चाहे वह वायरस हो या बार्डर पर उत्पन्न चुनौती।

सरकार निश्चिंत क्यों है?

ताजा खबरों के बीच ये बात बेमतलब है कि कांग्रेस के शासन के दौरान भारत ने चीन के हाथों अपनी कितनी जमीन गंवाई।

किसानों ने सरकार का प्रस्ताव खारिज किया

कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमाओं पर डटे किसान संगठनों ने सरकार के प्रस्ताव को खारिज किया और सर्वोच्च राजनीतिक स्तर पर वार्ता की मांग करते हुए आने वाले दिनों में दिल्ली की सभी पांचों सीमाओं पर विरोध प्रदर्शन तेज करने की बात कही है।

किसान आ रहे हैं आंदोलन करने!

देश भर के किसान आंदोलन के लिए दिल्ली कूच कर रहे हैं। देश भर के पांच सौ किसान संगठनों ने आपस में बातचीत करके तीन कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन का साझा ऐलान किया है।

चीनी रणनीति की हकीकत पर पर्दा डालना संभव नहीं : राहुल

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि सीमा पर चीन की रणनीतिक तैयारी की हकीकत को मीडिया रणनीति के माध्यम से पर्दा डालकर कम नहीं किया जा सकता।

पाक सैनिकों की फिर गोलीबारी

पाकिस्तानी सैनिकों ने जम्मू-कश्मीर के कठुआ और राजौरी जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर अग्रिम चौकियों और गांवों को निशाना बनाया।

चीन एक मिशन के तहत पैदा कर रहा है सीमा विवाद: राजनाथ

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज कहा कि पाकिस्तान के बाद अब चीन भी सीमा पर एक मिशन के तहत विवाद पैदा कर रहा है लेकिन देश इस संकट का दृढता के साथ सामना कर रहा है।

सीमा पर चीन के 60 हजार सैनिक

लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा, एलएसी पर भारत और चीन के बीच पिछले कुछ दिन से तनाव कम होने की संभावना जताई जा रही थी पर अमेरिका ने एलएसी पर चीन के सैनिक जमावड़े को लेकर बड़ा दावा किया है।

भारत-चीन में हुई बैठक

लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा, एलएसी के पास कई जगह पिछले कई महीने से चल रहे गतिरोध को दूर करने के लिए भारत और चीन ने गुरुवार को एक अहम बैठक की।

भारत, चीन से कैसे निपटे?

भारत आखिर चीन से कैसे निपटे? एक तरीका तो यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने 13 पूर्ववर्तियों का अनुसरण करते रहे, जिन नीतियों का  परिणाम है कि आज भी 38 हजार वर्ग कि.मी. भारतीय भूखंड पर चीनी कब्जा है।

और लोड करें