कपिल मिश्रा और ताहिर हुसैन

दिल्ली में कपिल मिश्रा हिन्दुओं के और ताहिर हुसैन मुसलमानों का चेहरा बन गए हैं। भाजपा कह रही है कि हिन्दुओं के खिलाफ हिंसा के पीछे आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन का हाथ है , जिस के घर में पत्थरों, इटों और तेज़ाब का जाखीरा पकड़ा गया है। आई बी अफसर अंकित शर्मा के घर वालों ने आरोप लगाया है कि हत्या ताहिर हुसैन ने की थी। अंकित शर्मा का शव ताहिर हुसैन के घर के साथ ही गंदे नाले में मिला था| सोशल मीडिया पर एक वीडियो चल रहा है जिसमें उस नाले और ताहिर हुसैन के घर और फेक्ट्री की छत को दिखाया जा रहा है। छत पर ताहिर हुसैन खुद डंडा ले कर खड़ा है| ताहिर हुसैन ने कबूल कर लिया है कि वीडियो में दिख रहा आदमी वही है ,लेकिन उस ने सफाई दी है कि कुछ लोग उस की फेक्ट्री की छत पर चढ़ गए थे , जिन्हें वहां से निकालने के लिए वह छत पर गए थे। ताहिर हुसैन की फेक्ट्री और छत पर पत्थर–ईंट और तेज़ाब पकड़े जाने के बाद उन की फेक्ट्री को सील कर दिया गया है। आम आदमी पार्टी ताहिर के बचाव में आ गई है। सौरभ भारद्वाज… Continue reading कपिल मिश्रा और ताहिर हुसैन

आप ने कपिल मिश्रा पर लगाया दंगे भड़काने का आरोप

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) ने भाजपा नेता कपिल मिश्रा पर दंगे भड़काने का आरोप लगाया है। पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने बुधवार को कहा कि एक ओर गृहमंत्री हिंसाग्रस्त इलाकों में शांति बहाली के लिए बैठकर कर रहे हैं और दूसरी तरफ उन्हीं की पार्टी के लोग ऐसी हरकतें कर रहे हैं। आप ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली के सभी हिंसाग्रस्त क्षेत्रों में तुरंत कर्फ्यू लगाने की भी मांग की है। पार्टी के सांसद संजय ने कहा, मंगलवार पूरी रात मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और हम लोग अपने विधायकों से हिंसाग्रस्त क्षेत्रों में मौजूद अपने कार्यकर्ताओं से लगातार संपर्क में बने रहे। इस दौरान पता लगा कि उपद्रवियों ने किसी गली में भीड़ में घुसकर किसी का मकान जलाया, दुकानें जलाईं तो किसी चौराहे पर इकट्ठा हुए लोगों ने गोलियां चलाईं। संजय सिंह ने कहा हमने हिंदू-मुस्लिम समाज के प्रतिष्ठित लोगों व पार्टी नेताओं के साथ घोंडा विधानसभा क्षेत्र में बैठक की, हिंसाग्रस्त इलाकों का दौरा किया। शांति की अपील की। साथियों ने बताया कि मुश्किल वक्त में लोगों ने किस तरह एक-दूसरे की मदद की। गौरतलब है कि उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद, मौजपुर, करावल नगर, गोकुलपुरी, भजनपुरा, बृजपुरी, कबीर नगर और विजय पार्क आदि इलाके हिंसा की… Continue reading आप ने कपिल मिश्रा पर लगाया दंगे भड़काने का आरोप

न्यायाधीश ने कोर्टरूम में चलाया कपिल मिश्रा का वीडियो

नई दिल्ली। देश की राजधानी के उत्तरी-पूर्वी क्षेत्रों में हिंसा भड़काने वाले राजनीतिक नेताओं की गिरफ्तारी और पीड़ितों के लिए मुआवजा और स्वतंत्र जांच की मांग करने वाली याचिका पर सुनवाई के दौरान दिल्ली हाईकोर्ट में बुधवार को हाई वोल्टेज ड्रामा हुआ। न्यायाधीश मुरलीधर ने सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता से कहा वहां की परिस्थिति बेहद अप्रिय है। इस दौरान कोर्टरूम में न्यायाधीश द्वारा भाजपा नेता कपिल मिश्रा की कथित भड़काऊ बयान वाले वीडियो को भी चलाया गया। इस वीडियो को तब चलाया गया, जब पुलिस अधिकारी ने कहा कि उसने वीडियो नहीं देखा है। न्यायाधीश मुरलीधर ने कहा सब इसे देखिए। कोर्ट में कपिल मिश्रा का भाषण सुनने के बाद पुलिस अधिकारी ने वीडियो में मौजूद सब-इंस्पेक्टर की पहचान की। मेहता ने समय मांगते हुए कोर्ट से इस मामले पर गुरुवार को सुनवाई करने की मांग की। हालांकि इस मामले पर दोपहर 2.30 बजे फिर सुनवाई होगी। कोर्ट ने बुधवार को सुबह याचिका पर सुनवाई के लिए हामी भरी थी और दिल्ली के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी को भी सुनवाई के दौरान उपस्थित रहने के लिए कहा था।

हिंसा भड़काने के लिए कपिल मिश्रा के खिलाफ शिकायत दर्ज

भारतीय जनता पार्टी के नेता कपिल मिश्रा के खिलाफ रविवार और कल हिसा भड़काने के आरोप में दो मामले दर्ज किए गए हैं। एक शिकायत आम आदमी पार्टी (अप) की कॉर्पोरेटर रेशमा नदीम और दूसरी हसीब उल हसन ने दर्ज कराई है।

कपिल मिश्रा पर 48 घंटे की पाबंदी

नई दिल्ली। सांप्रदायिक बयान देकर विवादों में घिरे दिल्ली में भाजपा के विधानसभा चुनाव के उम्मीदवार कपिल मिश्रा पर चुनाव आयोग ने 48 घंटे के लिए पाबंदी लगा दी है। वे 48 घंटे तक चुनाव प्रचार नहीं कर सकेंगे। उन पर लगी पाबंदी शनिवार की शाम पांच बजे से शुरू हो गई है। गौरतलब है कि पिछले दिनों मिश्रा ने ट्विट किया था कि आठ फरवरी को भारत और पाकिस्तान के बीच दिल्ली की सड़कों पर मुकाबला होगा। गौरतलब है कि दिल्ली में आठ फरवरी को मतदान होना है। उनके इस बयान पर इस पर कांग्रेस और आप की आपत्ति के बाद चुनाव आयोग ने उम्मीदवार मिश्रा पर एफआईआर दर्ज करने की मांग की थी। इसके बाद दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी रणबीर सिंह के निर्देश पर दिल्ली पुलिस ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। पुलिस ने मॉडल टाउन थाना में जन प्रतिनिधित्व कानून 1951 की धारा 125 में कपिल मिश्रा के खिलाफ एफआईआर नंबर 78/20 दर्ज की है, जिसमें तीन साल की जेल, जुर्माना या दोनों एक साथ दिया जा सकता है। कपिल मिश्रा ने गुरुवार को ट्विट किया था- आम आदमी पार्टी और कांग्रेस ने शाहीन बाग जैसे मिनी पाकिस्तान खड़े किए हैं। जवाब में आठ फरवरी… Continue reading कपिल मिश्रा पर 48 घंटे की पाबंदी

कपिल मिश्रा पर एफआईआर का निर्देश

नई दिल्ली। अपने विवादित बयानों के लिए मशहूर रहे पूर्व आप नेता और अब भाजपा की टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ रहे कपिल मिश्रा की मुश्किलें बढ़ गई हैं। उनके एक ट्विट पर हुए विवाद के बाद केंद्रीय चुनाव आयोग ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया। कपिल मिश्रा आम आदमी पार्टी की सरकार में मंत्री थे। पार्टी बदल कर वे इस बार भाजपा की टिकट पर मॉडल टाउन सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। गौरतलब है कि सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के लिए हिंदू-मुस्लिम वाले बयान दिए जा रहे हैं। पिछले दिनों कपिल मिश्रा ने आठ फरवरी को होने वाले मतदान को भारत और पाकिस्तान की लड़ाई की तरह बताया था। बहरहाल, चुनाव आयोग  कपिल मिश्रा के एक ट्विट को लेकर उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए हैं। चुनाव आयोग ने पुलिस को नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करने वालों के खिलाफ किए गए सांप्रदायिक ट्विट पर कपिल मिश्रा के खिलाफ शिकायत दर्ज करने के लिए कहा है।

पाकिस्तान वाले बयान पर कपिल मिश्रा को चुनाव आयोग का नोटिस

चुनाव आयोग ने दिल्ली के मॉडल टाउन विधानसभा क्षेत्र से भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) के उम्मीदवार कपिल मिश्रा द्वारा नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर शाहीन बाग में प्रदर्शन कर रहे

कपिल मिश्रा के खिलाफ शिकायत दर्ज

नई दिल्ली। दीवाली पर अल्पसंख्यक समुदाय के खिलाफ ट्वीट करने के मामले में दक्षिणी पूर्वी जिले के जामिया नगर थाने में कपिल मिश्रा के खिलाफ शिकायत दर्ज की गयी है। आम आदमी पार्टी के नेता महमूद अहमद ने पुलिस को दी गई शिकायत में कहा है कि शर्मा ने दीवाली पर संप्रदाय विशेष पर टिप्पणी की है वह आपत्तिजनक और भड़काऊ है। शिकायत में आप से भाजपा में शामिल हुए विधायक कपिल मिश्रा की टिप्पणी को सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वाला करार दिया है। इससे संप्रदाय के लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं। गौरतलब है कि मिश्रा ने एक फोटो ट्वीट किया जिसमें अल्पसंख्य समुदाय के लोग दिखाये दे रहे हैं। इस फोटो के साथ उन्होंने लिखा ‘प्रदूषण कम करने हैं तो ये वाले पटाखे कम करो, दीवाली के पटाखे नहीं।’

और लोड करें