The Prime Minister, Shri Narendra Modi exchanging the gifts with the President of the People’s Republic of China, Mr. Xi Jinping, in Mamallapuram, Tamil Nadu on October 12, 2019.

वर्चुअल ब्रिक्स सम्मेलन में होंगे मोदी और शी

भारत और चीन के बीच पिछले छह महीने से चल रहे गतिरोध के बीच पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग आमने सामने हो सकते हैं। ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका यानी ब्रिक्स के 12वां शिखर सम्मेलन 17 नवंबर से होगा।

मोदी ने यूएन में सुधार की जरूरत बताई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र संघ में सुधारों की जरूरत बताई है। उन्होंने कहा कि व्यापक सुधारों के अभाव में संयुक्त राष्ट्र पर भरोसे की कमी का संकट मंडरा रहा है।

मोदी 26 सितंबर को महासभा को संबोधित करेंगे

संयुक्त राष्ट्र संघ की 75वीं वर्षगांठ के मौक पर संयुक्त राष्ट्र महासभा की सालाना बैठक को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 26 सितंबर को संबोधित करेंगे। कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से इस बार महासभा का सत्र वर्चुअल तरीके से आयोजित किया जा रहा है।

पीएम मोदी कभी प्रेसर पॉलटिक्स में नहीं आते : नड्डा

देश में कृषि क्षेत्र से जुड़े तीन बिलों पर विपक्ष के विरोध के बीच बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने अहम बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि प्रधानमंत्री मोदी जी के नेतृत्व में है कि कभी प्रेसर पॉलटिक्स में नहीं आना है।

एक राशन कार्ड, एक वोटर लिस्ट के बाद एक राष्ट्रीय पार्टी…!

पार्टी के घोषणा-पत्र की पूर्ति के बाद अब स्वयं मोदी जी ने अपने भी कुछ अहम् तथ्य तय किए है, जिन्हें वे मूर्तरूप देना चाहते है, इनमें प्रमुख है ‘‘पूरे राष्ट्र को एक रंग में रंगना

सरकार ने असंगठित पर प्रहार कर अर्थव्यवस्था को बर्बाद किया: राहुल

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए आरोप लगाया है

भारत ने दक्षिण चीन सागर में भेजा था जलपोत

चीन के साथ पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में 15 जून की रात को हुई हिंसक झड़प के तुरंत बाद भारतीय नौसेना ने अपना एक युद्धपोत दक्षिण चीन सागर में भेज दिया था। माना जा रहा है कि भारत ने चीन पर दबाव बनाने के लिए यह कदम उठाया था।

क्या भारत-चीन में युद्ध होगा?

सीमा पर तनातनी के बीच विदेश मंत्री एस. जयशंकर का एक वक्तव्य सामने आया है। एक वेबसाइट को दिए साक्षात्कार में उन्होंने लद्दाख की वर्तमान स्थिति को 1962 के बाद, सबसे गंभीर बताया है।

दिल्ली कांग्रेस ने बेरोजगारी पर मोदी और केजरीवाल सरकार पर साधा निशाना

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ. अनिल कुमार ने दिल्ली में लगातार लोगों की आत्महत्या के मामलों पर चिंता जताई है।

राजनेताओं की मनमर्जी और बेचारा संविधान…?

भारत की आजादी से अब तक के तिहत्तर सालों में से यदि प्रारंभिक उन्तीस महिने और ग्यारह दिन संविधान रहित देश का समय निकाल दिया जाए तो करीब-करीब सत्तर सालों से हमारे देश में संविधान लागू है,

बंगाल में गुजराती का मुद्दा

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अस्मिता की राजनीति का दांव चलती रही हैं। उन्होंने मा, माटी और मानुष का नारा बहुत पहले दिया था।

भाजपा की ‘नामनीति’ के बाद अब ‘रामनीति’….?

भारत पर पिछले पचहत्तर महीनों से राज कर रही भारतीय जनता पार्टी की ‘नामनीति’ अब ‘रामनीति’ में परिवर्तित होने जा रही है, चूंकि इस सत्तारूढ़ दल में सब कुछ मोदी जी के ‘नाम’ पर ही होता आ रहा है

भारत खरीदेगा 33 लड़ाकू विमान

लद्दाख में भारत और चीन की सीमा पर चल रहे तनाव के बीच भारत ने 33 लड़ाकू विमान खरीदने का फैसला किया है। भारत सरकार रूस से 33 लड़ाकू विमान खरीदेगी, जिसमें 12 सुखाई और 21 मिग विमान होंगे।

चुनौतियों का सामना करने के लिए देश मोदी के साथ: त्रिवेंद्र

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि तमाम चुनौतियों का सामना करने के लिए पूरा देश अपने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ है।

कांग्रेस के तीखे सवाल

पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में कांग्रेस ने तीखे तेवर दिखाए। उन्होंने यह भी कहा कि सरकार ने देश को अंधेरे में रखा है।

सर्वदलीय बैठक बुलाएं प्रधानमंत्री: कांग्रेस

बीती रात पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में चाइनीज पीपल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की टुकड़ियों के साथ हुई हिंसक झड़प में अधिकारियों समेत 20 भारतीय सैनिकों के शहीद

सही समय पर फैसला लेंगे मोदी: मायावती

लद्दाख में चीन की सेना के भारतीय क्षेत्र में अतिक्रमण की कोशिश और 20 भारतीय सैनिकों की शहादत पर चिंता व्यक्त करते हुये बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने कहा

राहुल ने मोदी पर साधा निशाना

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने लाॅकडाउन के बावजूद कोरोना वायरस‘कोविड-19’ संक्रमण के लगातार बढ़ रहे मामलों पर चिंता जाहिर करते हुए

क्या सचमुच तनाव घटा है?

पहले भारतीय मीडिया में यह खबर आई और फिर भारत के विदेश मंत्रालय ने यह कहा। उसके एक दिन बाद चीनी विदेश मंत्रालय ने उसे दोहराया कि वास्तविक नियंत्रण रेखा पर तनाव घटाने और मसले का शांतिपूर्ण हल निकालने पर भारत और चीन सहमत हो गए हैं।

भारत-चीन के सैन्य अधिकारी फिर मिले

पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा, एलएसी पर भारत और चीन के बीच चल रहे तनाव के बीच पांच दिन के भीतर बुधवार को दूसरी बार सैन्य अधिकारियों की वार्ता हुई।

कोविड 19 की चुनौती को अवसर में परिवर्तित करने का समय

केंद्रीय कृषि मंत्री विगत दस दिनो में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व मे केंद्र सरकार ने किसानों के हित में चार बड़े निर्णय किए है। ये निर्णय भविष्य के लिए एक नया इतिहास बनने जा रहे है।

सीमा पर तनाव घटने के संकेत

भारत और चीन के बीच पिछले एक महीने से चल रहे तनाव के बीच खबर है कि सैन्य अधिकारियों के स्तर की बातचीत के बाद अब तनाव घटने लगा है और दोनों तरफ सेनाएं पीछे हटी हैं।

चीन के साथ तनाव जारी

भारत और चीन के सैन्य कमांडरों के बीच हुई वार्ता के बावजूद सीमा पर तनाव कम नहीं हो रहा है। वार्ता के जरिए विवाद सुलझाने पर सहमति बनने के बावजूद चीन लगातार ऐसी गतिविधियां कर रहा है

चीन डराने की भाषा समझता है

कई सामरिक जानकारों का मानना है कि भारत दब कर या बैकफुट पर आकर चीन से बात कर रहा है।

भारत-चीन में आज वार्ता

लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा, एलएसी पर भारत और चीन के बीच चल रह तनाव को दूर करने के लिए सैन्य स्तर की एक अहम वार्ता शनिवार को होगी

मोदी को भी नेहरू जैसा धोखा!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सन 2020 की गर्मियों में क्या वैसा ही महसूस कर रहे हैं, जैसा अक्टूबर 1962 में तब के प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने महसूस किया था? कहना मुश्किल है क्योंकि वक्त वैसा नहीं है

भारत-चीन में छह जून को वार्ता

भारत और चीन के बीच पिछले सीमा पर करीब एक महीने से चल रही तनातनी के बीच खबर है कि छह जून को दोनों देशों के बीच लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की पहली बातचीत होगी।

भारत के कंधे पर अमेरिकी बंदूक

कोरोना वायरस की वजह से दुनिया भर का भू-राजनीतिक संतुलन बिगड़ा हुआ है। अमेरिका, चीन, भारत सब अपने अपने कारणों से परेशान हैं और एक-दूसरे से उलझे हैं।

चीन ने कहा, सीमा पर हालात स्थिर

भारत के साथ वास्तविक नियंत्रण रेखा, एलएसी पर बढ़ते तनाव के बीच चीन ने सोमवार को कहा कि भारत से लगती सीमा पर स्थिति कुल मिला कर स्थिर और नियंत्रण में करने के लायक है।

चीन के साथ विवाद गंभीर है

भारत और चीन के बीच हजारों किलोमीटर लंबी सीमा है और इसमें कई जगह विवाद हैं। सिक्किम के नाकू ला से लेकर लेह-लद्दाख के कई इलाकों में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर दोनों देशों के बीच विवाद है