कांग्रेस मुक्त भारत में भाजपा तो सीपीएम भी!

अब सवाल है कि क्या लेफ्ट मोर्चे को पता है कि भाजपा उसकी मदद कर रही है? और दूसरा सवाल यह है कि इसके बदले में भाजपा को क्या मिल रहा है

यह सेकुलरवाद बहुत विकृत!

भारत में “सेकुलरवाद” कितना विकृत हो चुका है, इसे आगामी विधानसभा चुनावों ने फिर रेखांकित कर दिया। कांग्रेस ने भाजपा के विजय-उपक्रम को रोकने हेतु कुछ तथाकथित “सेकुलर” राजनीतिक दलों से चुनावी समझौता किया है

केजरीवाल, राहुल, ममता, मोदी सब भक्त!

नेताओं की भक्ति देख कर किसी ने सोशल मीडिया में लिखा है कि अच्छा है, जो अभी तक किसी ने अपने को सरस्वती का भक्त नहीं कहा है। यह भी कहा जा रहा है कि भक्ति चाहे महादेव की दिखाई जाए, या काली की या जय श्रीराम की, असली भक्ति लक्ष्मी की ही होती है।

बंगाल चुनाव : दोस्तों का बीच भी होगा मुकाबला, एक भाजपा की ओर से डालेगा यॉर्कर तो दूसरा टीएमसी के लिए जड़ेगा सिक्सर

Kolkata: देश में बंगाल चुनाव (Bengal elections) को लेकर चर्चाओं का बाजार (market of discussions) गर्म है. ऐसे में बंगाल से भी चुनाव के पास आने के साथ ही रोज नया बवाल (new uproar) सामने आ रहा है. कल ही ममता बनर्जी पर हुए हमले के बाद से बंगाल में चुनावी रण के और भी… Continue reading बंगाल चुनाव : दोस्तों का बीच भी होगा मुकाबला, एक भाजपा की ओर से डालेगा यॉर्कर तो दूसरा टीएमसी के लिए जड़ेगा सिक्सर

उत्तराखंड में भाजपा का मास्टर स्ट्रोक, रावत हिट विकेट

New Delhi: उत्तराखंड (Uttarakhand)  के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत(Trivendra Singh Rawat) ने आखिरकार इस्तीफा दे दिया. जानकारों की मानें तो पिछले कुछ दिनों सियासत( Politics) में हो रही उलट फेर से ये स्पष्ट था कि ऐसा होने वाला है. वहीं कुछ लोगों को मानना है कि भाजपा( BJP) ये बहुत अच्छे से समझ गयी थी… Continue reading उत्तराखंड में भाजपा का मास्टर स्ट्रोक, रावत हिट विकेट

‘नाथ’ कांग्रेस पर भारी ‘राजा’ की गैर राजनीतिक मुहिम..!

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ नेता प्रतिपक्ष की भूमिका में सदन में अपने सहयोगी विधायकों के साथ लगातार सक्रिय। लेकिन प्रदेश अध्यक्ष होते हुए भी पीसीसी में पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह की पुण्यतिथि

एक हैं बाबूलाल जिसने हिला दी पूरी कांग्रेस

एक बाबूलाल मध्य प्रदेश की राजनीति में पहले भी रहे हैं जिन्होंने अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत पूरे देश में पब्लिसिटी पाई थी, लोगो ने उनका नाम बुलडोजर मंत्री रख दिया था अब एक

निदान तो सही है

राहुल गांधी ने आज के भारत की राजनीतिक समस्या की नब्ज पर हाथ रखा है। उन्होंने जिस समाधान की ओर इशारा किया है, वह भी सही दिशा में है।

अब आपातकाल पर बयानों की आफत

दरअसल, राजनीति में कब क्या बोलना है इसका बहुत महत्व है। कांग्रेस के एक नेता के बयान ने रातों रात गुजरात विधानसभा का चुनाव परिणाम काफी प्रभावित कर दिया था और भी ऐसे अनेकों उदाहरण है

आनंद शर्मा की राजनीति खत्म होगी!

राज्यसभा में कांग्रेस के उप नेता आनंद शर्मा की क्या पार्टी के साथ राजनीति खत्म होने वाली है? बताया जा रहा है कि वे पार्टी आलाकमान से बहुत नाराज हैं।

राहुल का बयान बहन प्रियंका के लिये उत्तर प्रदेश में खड़ी कर सकता मुसीबत

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का उत्तर और दक्षिण भारत की राजनीति को लेकर दो दिन पहले दिया गया बयान उत्तर प्रदेश में पार्टी की जमीन तैयार करने में जुटी पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी के लिये एक नई मुसीबत खड़ी कर सकता है ।

कन्हैया की क्या राजनीति?

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और सीपीआई के सचिव कन्हैया कुमार की क्या राजनीति है? बिहार में लोकसभा का चुनाव लड़ने और हारने के बाद से लगता है कि वे तय नहीं कर पा रहे हैं कि उनको क्या करना है।

नेताओं की ‘मुलाकातों’ के बाद बिहार में सियासी तपिश

बिहार में मौसम में गर्माहट के साथ ही नेताओं की हो रही ‘मुलाकातों’ के बाद कयासों का दौर शुरू है, वहीं सियासत में भी गर्माहट देखी जा रही है।

भाजपा में गए कांग्रेस नेताओं की होड़!

कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में गए नेताओं में गजब होड़ लगी है। उनके बीच भाजपा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ की विचारधारा के प्रति निष्ठा साबित करने की कमाल की होड़ लगी है।

असम चुनाव में क्षेत्रीय पार्टियां निभा सकती हैं अहम भूमिका

असम में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए, राज्य की क्षेत्रीय पार्टियां बहुपक्षीय लड़ाई और पारंपरिक द्विध्रुवी राजनीति की संभावनाओं को कम करने के लिए खुद को मजबूत कर रही हैं।

स्वामी के नाम की राजनीति

भाजपा के सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी अपने को पार्टी के सभी नेताओं से ऊपर मानते रहे हैं। पढ़ाई-लिखाई से लेकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संबंधों, छवि और हिंदुत्व के प्रति समर्पण हर मामले में वे अपने को श्रेष्ठ मानते हैं

बिहार : किसान आंदोलन के समर्थन में पप्पू यादव उपवास पर बैठे

किसान आंदोलन के समर्थन के मुद्दे पर बिहार में भी राजनीति तेज हो गई है। जन अधिकार पार्टी के प्रमुख और पूर्व सांसद पप्पू यादव जहां शुक्रवार की सुबह छह बजे से ही गांधी मैदान में महात्मा गांधी मूर्ति

भाजपा-जेडीएस ने हाथ मिलाया

कर्नाटक में एक बार फिर राजनीतिक समीकरण पलट गया है। इसी विधानसभा में कांग्रेस के साथ मिल कर सरकार बनाने वाली जेडीएस अब भाजपा के साथ चली गई है।

मप्र में स्थानों के नाम बदलने की चर्चाओं से गर्मायी सियासत

मध्य प्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव से पहले स्थानों का नाम बदलने की चर्चाओं ने सियासत गर्मा दिया है। भाजपा के तमाम नेताओं ने उन स्थानों के नाम बदलने की पैरवी की है जिनसे दुखद यादें जुड़ी हुई हैं।

कांग्रेस को नए नेताओं की जरूरत

कांग्रेस पार्टी को नए नेताओं की जरूरत है। पिछले हफ्ते हुए कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में हालांकि इस पर विचार नहीं हुआ क्योंकि फिर से नए बनाम पुराने नेताओं का झगड़ा शुरू हो जाता।

बिहार : सोशल मीडिया पर टिप्पणी को लेकर जारी आदेश पर तेजस्वी ने कहा, ‘करो गिरफ्तार’

बिहार में सोशल मीडिया पर मंत्री, अधिकारी, विधायक, सांसद के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी किए जाने पर सख्त कार्रवाई करने को लेकर जारी आदेश के बाद अब सियासत शुरू हो गई है।

भाजपा-टीडीपी में वोट की खींचतान

भाजपा के पुराने सहयोगियों में से एक तेलुगू देशम पार्टी बहुत तीखी बयानबाजियों के बाद भाजपा से अलग अलग हो गई। बाद में भाजपा ने उसके चार राज्यसभा सांसदों को तोड़ लिया।

कुछ को अपनी पहचान से नफरत क्यों?

गत 30 दिसंबर को पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में बहुसंख्यक मुसलमानों की भीड़ ने अल्पसंख्यक हिंदुओं के एक प्राचीन मंदिर को ध्वस्त करके जला दिया। इस प्रकार के जमींदोज का यह भारतीय उपमहाद्वीप में कोई पहला मामला नहीं था

फिर भारत विरोधी कौन है?

राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के सर संघचालक मोहन भागवत ने कहा है कि हिंदू कभी भारत विरोधी नहीं हो सकता है, उसके संस्कार ऐसे हैं कि वह राष्ट्रभक्त होता है। यह बात उन्होंने महात्मा गांधी को हिंदू राष्ट्रवादी बताने वाली एक किताब के विमोचन में कही।

भाजपा और विपक्ष की राजनीति का फर्क

कोरोना वायरस की पूरी महामारी के दौरान और खास कर अभी पिछले दो-तीन महीनों से भारतीय जनता पार्टी जैसी राजनीति कर रही है उससे उसकी और विपक्ष की राजनीति का एक बार फिर अंतर दिखा है

अरुणाचल प्रदेश की सियासत की तपिश से गरमाई बिहार की राजनीति

बिहार से कोसों दूर भले ही अरुणाचल प्रदेश में जनता दल (यूनाइटेड) के छह विधायक भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हुए हों, लेकिन वहां के सियासत की तपिश के कारण बिहार की राजनीति गर्म हो गई है।

विपक्ष, राहुल की गुमशुदी का साल

एक तो महामारी, ऊपर से राजनीति के सारे पत्ते नरेंद्र मदी की जेब में तो विपक्ष भला कैसे राजनीति करता हुआ हो सकता है

ओवैसी की पार्टी नगरीय निकाय के जरिए मप्र में एंट्री की तैयारी में

मध्य प्रदेश की सियासत में आगामी समय में होने वाले नगरीय निकाय के चुनाव में सांसद असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम एंट्री कर सकती है।

केजरीवाल की वाया पंजाब केंद्र की राजनीति

किसान आंदोलन के शुरू होने के बाद लग रहा है कि अरविंद केजरीवाल की राष्ट्रीय महत्वाकांक्षा फिर जग गई है। उनको अपने आंदोलन के दिन याद आ रहे हैं। असल में भ्रष्टाचार के खिलाफ इंडिया अगेंस्ट करप्शन का पूरा आंदोलन केजरीवाल ने खड़ा किया था