nayaindia Lok Sabha Election 2024 Phase 6 Voting छठे चरण में सबसे कम मतदान
Trending

छठे चरण में सबसे कम मतदान

Share

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली सहित देश के छह राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश की 58 सीटों पर शनिवार को मतदान संपन्न हुआ। चुनाव आयोग की ओर से जारी अंतरिम आंकड़ों के मुताबिक रात आठ बजे तक 59 फीसदी मतदान हुआ। चुनाव आयोग ने शनिवार को ही पहले पांच चरण के मतदान का प्रतिशत और कुल पड़े मतों की संख्या दोनों जारी किया। इसके मुताबिक छठे चरण में सबसे कम मतदान हुआ है। हालांकि अंतिम आंकड़ों में 59 फीसदी की संख्या में कुछ और सुधार हो सकता है।

अब पूरे देश में 487 सीटों पर चुनाव की प्रक्रिया संपन्न हो गई। आखिरी चरण का मतदान एक जून को होगा और चार जून को वोटों की गिनती होगी। बहरहाल, शनिवार को छठे चरण का मतदान मोटे तौर पर शांतिपूर्ण रहा। पश्चिम बंगाल में एक सीट पर भाजपा उम्मीदवार के ऊपर हमला होने की शिकायत दर्ज की गई है। पार्टी ने सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस पर आरोप लगाया। मतदान शाम छह बजे समाप्त हो गया लेकिन उसके बाद भी कई मतदान केंद्रों पर लोगों की कतार लगी थी।

चुनाव आयोग के मुताबिक, शनिवार को 58 सीटों पर रात आठबजे तक 59 फीसदी वोटिंग हुई है। सबसे ज्यादा पश्चिम बंगाल में 78.19 फीसदी और सबसे कम जम्मूकश्मीर में 51.41 फीसदी मतदान हुआ। छठे चरण में उत्तर प्रदेश की 14 सीटों पर 54 फीसदी और हरियाणा की 10 सीटों पर 58 फीसदी मतदान हुआ। बिहार की आठ सीटों पर 53 फीसदी लोगों ने वोट डाले। राजधानी दिल्ली की सात सीटों पर 54.31 फीसदी मतदान हुआ। ओडिशा की छह सीटों पर 59.72 फीसदी वोटिंग हुई। झारखंड की चार सीटों पर 62.13 फीसदी मतदान हुआ।

राजधानी दिल्ली में शनिवार को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने वोट डाला। कांग्रेस नेता सोनिया और राहुल गांधी ने भी नई दिल्ली क्षेत्र में वोट डाला। यह पहली बार हुआ, जब गांधी परिवार ने कांग्रेस की बजाय किसी और पार्टी को वोट दिया। गौरतलब है कि नई दिल्ली सीट पर गठबंधन की सहयोगी आम आदमी का उम्मीदवार मैदान में था।

बहरहाल, हिंसा की छिटपुट घटनाओं के अलावा मतदान शांतिपूर्ण रहा। बिहार की वैशाली सीट पर लोक जनशक्ति पार्टी की उम्मीदवार की गाड़ी रोके जाने और उन्हें पिस्तौल दिखाए जाने की घटना हुई तो पश्चिम बंगाल के झारग्राम से भाजपा उम्मीदवार प्रणंत टुडू पर हमले की खबर है। बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि एक बूथ पर ईवीएम के साथ भाजपा का टैग लगा हुआ है। उधर ईवीएम से छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए अनंतनाग राजौरी की उम्मीदवार महबूबा मुफ्ती धरने पर बैठीं। शनिवार को जिन सीटों पर मतदान हुआ उन सीटों पर 2019 में सबसे ज्यादा 40 सीटें भाजपा ने जीती थी। बसपा और बीजू जनता दल को चार-चार, जदयू और टीएमसी को तीन-तीन और सपा, एलजेपी व आजसू को एक एक सीट मिली थी। कांग्रेस एक भी सीट नहीं जीत पाई थी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें