महाराज के स्वागत के लिए मुन्ना भैया मोदी की लाइन..!

 गुजरात के बाद बदलती बीजेपी में राज्यों की राजनीति में क्या सत्ता और संगठन की जोड़ियां बदलती नजर आ रही है.. यह सवाल इसलिए क्योंकि जहां भाजपा की सरकार है.

कांग्रेस छोड़ने वालों की चांदी

कांग्रेस पार्टी छोड़ने वालों की मौज है। दूसरी पार्टियां उनके हाथों हाथ ले रही हैं। भाजपा के साथ साथ कांग्रेस की अपनी सहयोगी पार्टियां भी इसके लिए तैयार बैठी हैं।

कांग्रेस छोड़ कर जाने वालों की पूछ

कांग्रेस छोड़ कर दूसरी पार्टियों में जाने वालों की पूछ बढ़ गई है। पिछले छह महीने के घटनाक्रम ने कांग्रेस नेताओं की बेचैनी बढ़ाई है।

ओवैसी की पार्टी AIMIM  का ट्वीटर अकाउंट हैक, एलन मस्क की लगाई तस्वीर

नई दिल्ली । AIMIM twitter account hacked: अपने विवादित बयानों और तेवर के कारण सुर्खियों में रहने वाले AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी का अकाउंट हैक हो गया. अकाउंट को हैक करने वाले हैं करने छेड़खानी करते हुए प्रोफाइल फोटो में एलन मस्क की तस्वीर लगा दी. इसके साथ ही ओवैसी की पार्टी का काम जहां लिखा होता था वहां एलन मस्क का नाम लिख दिया. आपको बता दें कि एलन मस्क दुनिया के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति हैं. स्पेक्स एक्स और टेस्ला जैसी कंपनियों के मालिक हैं. इतना ही नहीं उत्तर प्रदेश के AIMIM की पार्टी चीफ का अकाउंट भी हैक कर लिया गया था. इसके बाद ट्विटर ने कार्रवाई करते हुए दोनों अकाउंट को अस्थाई रूप से बंद कर दिया था बाद में इसे एक बार फिर से खोल दिया गया. सिंधिया का भी हुआ था अकाउंट हैक AIMIM twitter account hacked: बता दें कि कुछ दिनों पहले ही केंद्रीय मंत्री बनने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया का भी फेसबुक अकाउंट हैक कर लिया गया था. फेसबुक अकाउंट को हैक करने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया की कुछ पुरानी वीडियो डाली गई थी जिसमें वह कांग्रेस की तारीफ करते हुए नजर आ रहे थे. हालांकि इसके तुरंत बाद योगी… Continue reading ओवैसी की पार्टी AIMIM का ट्वीटर अकाउंट हैक, एलन मस्क की लगाई तस्वीर

Maharashtra में हेलीकॉप्टर क्रैश, एक पायलट की मौत, दूसरी महिला ट्रेनी घायल, सिंधिया ने जताया दुख

मुंबई | Helicopter Crash in Maharashtra: महाराष्ट्र के जलगांव में एक हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त (Helicopter Crash) हो गया है। जिसमें फ्लाइट इंस्ट्रक्टर की मौत हो गई जबकि एक अन्य महिला ट्रेनी गंभीर रूप से घायल हो गई है। ये भी पढ़ें:- हंस मत देना ! उत्तर प्रदेश के इस विधायक की थी 6 बेटियां, बेटे की चाह में पहुंची ‘अजमेर का दरगाह’ और बेटा हुआ तो नाम दिया ‘अजमेरी वर्मा’ Helicopter Crash in Maharashtra: मिली जानकारी के मुताबिक, हेलीकॉप्टर में महिला पायलट सहित दो पायलट थे। हेलीकाॅप्टर ट्रेनिंग अकादमी का था और आज शाम चार बजे के करीब जलगांव जिले के चोपडा में एक खेत में दुर्घटनाग्रस्त (Helicopter Crash in Jalgaon) हो गया। हेलीकाॅप्टर कैसे दुर्घटनाग्रस्त हुआ इसकी जांच की जा रही है। इलाके में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया है। ये भी पढ़ें:- पेट्रोल-डीजल के दामों में भारत से आगे निकला पाकिस्तान, Price जानकर रह जाओगे दंग हेलीकाॅप्टर हादसे (Helicopter Crash) पर केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने दुख प्रकट किया है। सिंधिया ने ट्वीट करते हुए कहा कि, एनएमआईएमएस एकेडमी ऑफ एविएशन, महाराष्ट्र से संबंधित एक प्रशिक्षण विमान के दुखद दुर्घटना के बारे में सुनकर स्तब्ध हूं। Shocked to hear about the tragic crash of a training aircraft that… Continue reading Maharashtra में हेलीकॉप्टर क्रैश, एक पायलट की मौत, दूसरी महिला ट्रेनी घायल, सिंधिया ने जताया दुख

हिमंता के बाद सिंधिया की ताजपोशी

Himanta Biswa Sarma jyotiraditya scindia : यह सवाल भारतीय जनता पार्टी के नेता उठा रहे हैं कि आखिर पार्टी क्यों अपने लोगों को छोड़ कर दूसरी पार्टी से आए नेताओं को इतनी तरजीह दे रही है। असल में भाजपा एक रणनीति के तहत यह काम कर रही है। वह कांग्रेस मुक्त भारत के अपने नारे को पूरा करने के लिए कांग्रेस के ऐसे चेहरों को ऊंचे पदों पर बैठा रही है, जो पार्टी नेतृत्व से नाराज होकर या उसकी आलोचना करके पार्टी से बाहर हुए हैं। इसी योजना के तहत भाजपा ने छह साल पहले कांग्रेस छोड़ने वाले हिमंता बिस्वा सरमा को असम का मुख्यमंत्री बनाया है। राहुल गांधी के साथ उनके विवाद को बहुत हाईलाइट किया गया था। हिमंता सरमा को मुख्यमंत्री बनाने का तात्कालिक फायदा जितिन प्रसाद के रूप में हुआ। हिमंता की ताजपोशी ने जितिन को प्रेरित किया कि वे पाला बदलें और भाजपा के साथ जाएं। यह भी पढ़ें: सरकार में कम हुआ बिहार का महत्व! इसी तरह पिछला साल कांग्रेस की मध्य प्रदेश सरकार गिरवा कर भाजपा में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया को राज्यसभा सदस्य बनाने के बाद कैबिनेट मंत्री बनाना भी बहुत से कांग्रेस नेताओं को प्रेरित करेगा कि भाजपा की ओर प्रस्थान करें।… Continue reading हिमंता के बाद सिंधिया की ताजपोशी

पीएम मोदी के इस मंत्री ने पद मिलने के बाद खुलकर की कांग्रेस की तारीफ ! जानें क्या है मामला ..

नई दिल्ली | Scindia’s Facebook account hacked : पीएम मोदी ने कल अपनी टीम की विस्तार कर लिया . माना जा रहा है कि आजाद भारत में ये सबसे युवा नेतृत्व है. लेकिन पीएम के नये मंत्रियों के शपथ ग्रहण के साथ ही ऐसा कुछ हुआ जिसकी किसी को भी उम्मीद नहीं था. दरअसल, कांग्रेस के बड़े नेताओं में शामिल रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी कल मंत्रिमंडल में शामिल कर लिया गया. लेकिन शपथ ग्रहण के बाद उनके फेसबुक के एकाउंट से कांग्रेस का तारीफ वाले वीडियो वायरल होने लगा. वीडियो के वायरल होने से राजनीतिक गलियारों में एक बार के लिए तो हड़कंप मच गया. बता दें कि ये वीडियो ज्योतिरादित्य सिंधिया का एक पुराना वीडियो था जिसमें वे कांग्रेस की तरफदारी और भाजपा को घेरते हुए नजर आ रहे थे. यह घटना कल रात के 1 बजे के आस-पास की बतायाी जा रही है. फेसबुक अकाउंट हो गया था हैक Scindia’s Facebook account hacked : बता दें कि ये वीडियो ज्योतिरादित्य सिंधिया ने नहीं डाला था. बल्कि ज्योतिरादित्य सिंधिया का फेसबुक अकाउंट हैक कर लिया गया था. बताया जा रहा है कि उनके अकाउंट को कुछ शरारती तत्वों ने हैक कर लिया था. इसके बाद उन्हीं शरारती तत्वों… Continue reading पीएम मोदी के इस मंत्री ने पद मिलने के बाद खुलकर की कांग्रेस की तारीफ ! जानें क्या है मामला ..

केंद्रीय मंत्री का पदभार ग्रहण करते ही ज्योतिरादित्य सिंधिया क्यों करने लगे अपनी पुरानी पार्टी कांग्रेस का गुणगान..

दिल्ली |  बुधवार शाम यानी 7 जुलाई को मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ था। उसमें कई नए चेहरे देखने को मिले है। जिनमें से एक ज्योतिरादित्य सिंधिया भी है। ज्योतिरादित्य सिंधिया को सिविल एविएशन का प्रभार मिला है। ( jyotiraditay fb account hacked )  इसकी कमान ज्योतिरादित्य सिंधिया को सौंपी गई है। पदभार ग्रहण करते ही ज्योतिरादित्य सिंधिया का फेसबुक अकाउंट हैक हो गया है। अकाउंट हैक होने के बाद किसी ने उनके FB पेज पर पुराना वीडियो शेयर किया है। इस वीडियों में ज्योतिरादित्य सिंधिया अपनी पुरानी पार्टी कांग्रेस की तारीफ करते नज़र आ रहे है। यह पुराना वीडियो किसने अपलोड किया है, अकाउंट को हैक करने वाला कौन था इसका अभी तक पता नहीं चल पाया है। लेकिन इसकी छानबीन की जा रही है। यह तो सभी को पता ही है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया सोशल मीडिया पर कितने एक्टिव रहते है।  उनके सोशल मीडिया अकाउंट्स पर उनसे जुड़ी पल-पल की खबर अपडेट होती रहती है also read: Rajasthan : गहलोत सरकार ने दिया शिक्षकों को बड़ा तोहफा, 50 साल बाद बदला शिक्षा विभाग का ढांचा , जानें इसके फायदे रात 1 बजे शेयर किया गया वीडियो ( jyotiraditay fb account hacked ) भोपाल के बीजेपी नेता और सिंधिया समर्थक… Continue reading केंद्रीय मंत्री का पदभार ग्रहण करते ही ज्योतिरादित्य सिंधिया क्यों करने लगे अपनी पुरानी पार्टी कांग्रेस का गुणगान..

PM Modi की नई टीम में सिंधिया को मिल सकता है रेल मंत्रालय , 43 नेता मंत्री पद की लेंगे शपथ

नई दिल्ली | PM Modi’s Cabinet Extension : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज अपनी टीम का विस्तार करने वाले हैं. जानकारी के अनुसार शान के 6 बजे से ये नई टीम की घोषणा कर दी जाएगी. इस विस्तार एवं पुनर्गठन के पहले मंत्री पद की शपथ के लिए आमंत्रित किये गये 20 से अधिक नेताओं से आज अपने निवास पर भेंट की. सात लोक कल्याण मार्ग स्थित प्रधानमंत्री निवास पर आयोजित इस बैठक में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा और केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह मौजूद थे. बता दें कि नये मंत्रियों की सूची में श्री वरुण गांधी का नाम भी चर्चा में था लेकिन उन्हें प्रधानमंत्री निवास पर नहीं देखा गया. इधर कुछ केंदीय मंत्रियों के इस्तीफे भी आने शुरू हो गये हैं. इनमें सबसे बड़ा नाम देश के शिक्षा मंत्री का है. मोदी सरकार की नई कैबिनेट में ये नए चेहरे 1. नारायण तातु राणे 2. सर्बानंद सोनोवाल 3. डॉ वीरेंद्र कुमार 4. ज्योतिरादित्य सिंधिया 5. रामचंद्र प्रसाद सिंह 6. अश्विनी वैष्णव 7. पशुपति कुमार पारस 8. किरेन रिजिजू 9. राज कुमार सिंह 10. हरदीप सिंह पुरी 11. मनसुख मंडाविया 12. भूपेंद्र यादव 13. पुरुषोत्तम रूपाला 14. जी किशन रेड्डी 15. अनुराग सिंह ठाकुर 16. पंकज… Continue reading PM Modi की नई टीम में सिंधिया को मिल सकता है रेल मंत्रालय , 43 नेता मंत्री पद की लेंगे शपथ

अब जल्दी मंत्रिमंडल का विस्तार?

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार का विस्तार अब जल्दी हो जाएगा। भाजपा के जानकार सूत्रों का कहना है कि उत्तराखंड के घटनाक्रम के बाद अब जल्दी से जल्दी विस्तार होना तय है ताकि उधर से लोगों का ध्यान हटे। पहले कहा जा रहा था कि चार जुलाई को कैबिनेट विस्तार हो सकता है। लेकिन चूंकि चार जुलाई को उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री की शपथ हो सकती है इसलिए उसी दिन कैबिनेट विस्तार का काम शायद नहीं हो। सो, अब आठ जुलाई की तारीख बताई जा रही है। वैसे भी यह चर्चा आम है कि 19 जुलाई से शुरू होने वाले मॉनसून सत्र से पहले मोदी सरकार का विस्तार होगा। मंत्री बनने वाले संभावित नेता दिल्ली में डटे हैं और शुभ मुहूर्त का इंतजार कर रहे हैं। उत्तराखंड में नए मुख्यमंत्री के बाद राज्य के युवा नेता अनिल बलूनी को मंत्री बनाए जाने की चर्चा है। वे मंत्री बनेंगे तो पार्टी को नया राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी नियुक्त करना होगा। ज्योतिरादित्य सिंधिया, सर्बानंद सोनोवाल, सुशील मोदी, वरुण गांधी, दिलीप घोष, मीनाक्षी लेखी जैसे अनेक भाजपा नेताओं की चर्चा चल रही है। इनके अलावा अपना दल की अनुप्रिया पटेल और जदयू के तीन नेताओं- राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह, रामनाथ ठाकुर और संतोष… Continue reading अब जल्दी मंत्रिमंडल का विस्तार?

सिंधिया को सीट की तलाश

कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में गए ज्योतिरादित्य सिंधिया ( bjp leader jyotiraditya scindia ) का केंद्र सरकार में मंत्री बनने का सपना अभी पूरा नहीं हुआ है लेकिन अभी से उनको अपनी लोकसभा सीट की चिंता सताने लगी है। भाजपा ने उनको पिछले साल राज्यसभा में भेजा तब से वे मंत्री बनने की आस में हैं। इस बीच वे प्रदेश के कई अलग अलग इलाकों का दौरा कर रहे हैं ताकि अगले लोकसभा चुनाव के लिए एक सुरक्षित सीट तलाश सकें। उनके परिवार की पारंपरिक सीट रही ग्वालियर सीट पर भाजपा के विजय सिंह शेजवलकर इस समय सांसद हैं। पिछली लोकसभा में नरेंद्र सिंह तोमर इस सीट से जीते थे। तोमर खुद मुरैना सीट से जीते हैं। लेकिन उनकी नजर भी ग्वालियर पर रहेगी। यह भी पढ़ें: ये बदलाव गौरतलब है यह भी पढ़ें: छोटे हमले, बड़े आयाम इसी तरह सिंधिया के परिवार ( bjp leader jyotiraditya scindia) की दूसरी पारंपरिक सीट गुना है, जहां से वे खुद जीतते रहे हैं। पिछली बार भाजपा की टिकट पर कृष्ण पाल यादव ने उनको हराया था। उससे पहले वे तीन बार इस सीट से जीते थे और उनसे पहले उनके पिता इस सीट से जीतते थे। उनको इस बात की चिंता है… Continue reading सिंधिया को सीट की तलाश

जितिन प्रसाद प्रसंग : ‘राजनीति आज’ का सत्य

जितिन प्रसाद प्रसंग : सीधे-सरल शब्दों में इजराइल ने एकजुट होने की इच्छाशक्ति हासिल की और ऐसा पार्टियों द्वारा पुरानी मान्यता, जिद्द-स्वार्थों को छोड़ कर हुआ। यह एकता, “आओ, मिल कर बेंजामिन नेतन्याहू को बाहर करें” के बीज मंत्र पर थी। इस तरह, इजराइल ने एकजुटता पाई, संकल्प पाया जबकि भारत में विपक्ष परत दर परत खोता हुआ। यह भी पढ़ें: ब्लू टिक… वक्त को खाता नया नशा! कुछ साल पहले जितिन प्रसाद से एक कम प्रभाव वाली निस्तेज हस्ती के रूप में सामना हुआ था। वे बनारस की एक उड़ान पकड़ने के लिए लाइन में थे। उनके बारे में सुना कम था लेकिन वे कांग्रेस के ‘ब्राह्मण चेहरे’ हैं, यह पता था। उस नाते उन्हें 2017 चुनाव में पार्टी के लिए प्रचार करने, लोगों को यकीन दिलाने और मूड बनाने का जिम्मा मिला था। जी हां, नोटबंदी बाद वाला वहीं चुनाव, जिसमें ‘करेंसी’ कम हो पवित्र-सफेद बन गई थी, और नरेंद्र मोदी की अपराजेयता जस की तस। जितिन प्रसाद धुले हुए, इस्त्री किए, अच्छे कड़क कपड़े पहने हुए चिंताविहीन और परेशानी से मुक्त लगे थे। लेकिन वे जानते थे तभी निश्चिंत-शांत भाव कहना था नुकसान तय है… कोई अवसर नहीं! सुन कर साथी यात्री की टिप्पणी थी, “कांग्रेस के… Continue reading जितिन प्रसाद प्रसंग : ‘राजनीति आज’ का सत्य

रेल, कृषि, कानून मंत्रालय पर दावेदारी

अभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सरकार में फेरबदल या विस्तार करने का ऐलान नहीं किया है लेकिन मंत्रालयों पर दावेदारी शुरू हो गई है। पता नहीं कैसे पर यह धारणा बन गई है कि रेल, कृषि और कानून मंत्रालय में बदलाव होगा। तभी इन तीन मंत्रालयों के दावेदार सबसे ज्यादा दिख रहे हैं। वैसे भी बिहार की सहयोगी जनता दल यू ने पहले से इस मंत्रालय की दावेदारी की हुई है। जदयू नेता और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार काफी समय तक रेल मंत्री रहे हैं। बिहार के नेता लालू प्रसाद और रामविलास पासवान भी रेल मंत्री रहे हैं। सो, रेल मंत्रालय पर बिहार के नेता स्वाभाविक रूप से अपनी दावेदारी मानते हैं। इस बीच खबर है कि कांग्रेस से भाजपा में गए ज्योतिरादित्य सिंधिया भी रेल मंत्रालय चाहते हैं। उनके पिता दिवंगत माधव राव सिंधिया भी रेल मंत्री रह चुके हैं। हालांकि रेल के अलावा मानव संसाधन और शहरी विकास मंत्रालय भी उनकी पसंद है। यह भी पढ़ें: भारत-चीन का कारोबार डेढ़ गुना बढ़ा बहरहाल, रेल के अलावा बिहार की दावेदारी कृषि मंत्रालय पर भी है। ध्यान रहे बिहार के चतुरानन मिश्र, नीतीश कुमार और राधामोहन सिंह कृषि मंत्री रह चुके हैं। कहा जा रहा है कि बिहार के पूर्व… Continue reading रेल, कृषि, कानून मंत्रालय पर दावेदारी

कैसा होगा ‘मोदी मंत्रिमंडल’ का फेरबदल?

बीजेपी हर हालत में उत्तर प्रदेश का चुनाव दोबारा जीतना चाहेगी। लिहाज़ा उत्तर प्रदेश से कुछ चेहरों को ख़ास तवज्जो देते हुए मंत्री परिषद में शामिल किया जा सकता है। प्रधानमंत्री की यह कवायद ठीक 2016 की की तरह होगी उस समय भी 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर मंत्रिमंडल में बड़ा फेरबदल और विस्तार किया गया था। इस बार भी ऐसा ही कुछ होने की उम्मीद लगती है। लेखक: यूसुफ़ अंसारी सत्ता के गलियारों से लेकर राजनीतिक हलक़ों में चर्चा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्द ही अपने मंत्रिमंडल में फेरबदल और उसका विस्तार करने वाले हैं। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के दो साल पूरे हो चुके हैं। अभी तक मंत्रिपरिषद में न तो कोई फेरबदल हुआ है और नही कोई विस्तार। इस संभावित पहले विस्तार को लेकर अटकलें लग रही हैं कि पीएम मोदी कॉसमेटिक सर्जरी से ही काम चलाएंगे या फिर बड़ी चीरफाड़ करके अपनी सरकार का चेहरा बदल कर इसे और प्रभावी दिखाने की कोशिश करेंगे। शुक्रवार को प्रधानमंत्री ने गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ इस बारे में देर तक चर्चा की बताते है। बताया जा रहा है कि पिछले दो दिन से पीएम मोदी ने कई मंत्रियों… Continue reading कैसा होगा ‘मोदी मंत्रिमंडल’ का फेरबदल?

फेरबदल या ध्यान भटकाना?

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में फेरबदल की चर्चा एक बार फिर शुरू हो गई है। प्रधानमंत्री मंत्रालयों की समीक्षा कर रहे हैं और उनके साथ पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी मौजूद रह रहे हैं। इसका मतलब है कि प्रधानमंत्री और पार्टी अध्यक्ष दोनों मंत्रियों के कामकाज की रिपोर्ट ले रहे हैं ताकि उनके प्रदर्शन का आकलन करके सरकार में फेरबदल का फैसला हो। दूसरी ओर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सहयोगी दलों के नेताओं से मिल रहे हैं और उनकी मांगों पर विचार कर रहे हैं। मोदी के साथ शाह और नड्डा की बैठक से भी यह संकेत मिला कि सरकार में फेरबदल की तैयारी हो रही है। लेकिन क्या सचमुच इस बार मोदी सरकार का विस्तार होगा या इस बार की चर्चाएं भी फॉल्स अलार्म साबित होंगी? ध्यान रहे 30 मई 2019 को दूसरी बार शपथ लेने के बाद से ही सरकार में फेरबदल की चर्चा हो रही है। उसके बाद एक एक करके अनेक मंत्रियों के पद खाली हो गए। शिव सेना के अरविंद सावंत और अकाली दल की हरसिमरत कौर बादल सरकार से बाहर हो गए तो रामविलास पासवान और सुरेश अंगडी का निधन हो गया। एक दर्जन नेता एक या दो से ज्यादा मंत्रालयों के… Continue reading फेरबदल या ध्यान भटकाना?

और लोड करें