देश के कई राज्यों में बदला मौसम! दिल्ली में बारिश, राजस्थान में ठंडी हवाएं शुरू, उत्तराखंड में भारी बारिश और बर्फबारी का अलर्ट

पहाड़ों पर बदले मौसम ने फिर से कई राज्यों में शीतलहर और ठिठुरन को बढ़ा दिया है। दिल्ली-राजस्थान समेत कई इलाकों में आज गुरूवार को मौसम का मिजाज बदल गया है।

राजस्थान में मौसम ने ली करवट, घने कोहरे के आगोश में गुलाबी नगरी, आज से बारिश-ओेलावृष्टि का अलर्ट

राजस्थान समेत आस-पास के क्षेत्रों में एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने जा रहा है जिसका असर दो से तीन दिन तक रहेगा। ऐसे में राज्य के कई जिलों में बारिश होने के साथ ही ओले गिरने के आसार है।

दिल्ली-राजस्थान सहित देश के कई हिस्सों में बारिश, कड़ाके की ठंड की चपेट में उत्तर भारत

पहाड़ों पर भारी बर्फबारी हो रही है, वहीं मैदानी इलाकों में बारिश, शीतलहर और कोहरे ने लोगों की दिनचर्या बदल दी है। दिल्ली-एनसीआर समेत पूरा उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड की चपेट में है।

तमिलनाडु, आंध्र में भारी बारिश से तबाही

वेल्लोर शहर में सुबह मकान ढहने से नौ लोगों की मौत हुई। मरने वालों में चार बच्चे और चार महिलाएं शामिल।

Rajasthan में आज से मौसम में होगा बड़ा बदलाव, आंधी-तूफान के साथ बारिश के आसार, कड़ाके की ठंड देगी दस्तक

राजस्थान में पश्चिमी विक्षोभ के कारण कई हिस्सों में अगले कुछ दिनों में बारिश होने की संभावना है। जिससे तापमान में गिरावट का दौर शुरू होगा। मौसम में परिवर्तन की ये हलचल कल बुधवार से शुरू हो गई है।

Rajasthan में आज कई जिलों में भारी बारिश का यलो अलर्ट, बारां में हादसा, नदी में दो बहनों समेत तीन बच्चे डूबे

राज्य के बारां जिले के अंता थाना क्षेत्र में रविवार को दर्दनाक हादसा हो गया जिसमें तीन बच्चों की नदी में डूबने से मौत हो गई। बारां के आसन गांव के पास परवन नदी में दो बहनों समेत तीन बच्चे डूब गए।

समाज की उलटी दिशा

बारिश करवाने के लिए कम से कम छह नाबालिग लड़कियों को निर्वस्त्र कर गांव में वहां घुमाया गया। मीडिया रिपोर्टों से साफ है कि इस रिवाज को गांव के सभी लोगों की सामूहिक स्वीकृति थी।

राजस्थान में बारिश राहत नहीं आफत, बिजली गिरने से हुई दो की मौत

राजस्थान के बारां के किशनगंज इलाके में बिजली गिरने से दो की मौत हो गई। ( two died due to lightning ) जबकि दो घायल हो गए।

बारिश आते ही खुली प्रशासन की पोल, पिंकसिटी में बारिश से हुए गढ्ढों से परेशान स्थानीय लोग

जयपुर के मानसरोवर के सबसे फेमस थड़ी मार्केट में 1 अगस्त को सड़क धंसने का मामला सुनने को मिला। इससे पहले थड़ी मार्केट का अगला चौराहा विजय पथ इलाके में 31 जुलाई को सड़क धंसने का मामला सामने आया।

ये मौसम की नहीं आफत की बारिश..राजस्थान में भारी बारिश से 4 की मौत, 1 बालक बहा..

अब ये मौसम की बारिश आफत की बारिश बन चुकी है। पूर्वी राजस्थान में लगातार बरस रहे पानी के कारण बाढ़ जैसे हालात बन गये हैं। करौली के सपोटरा इलाके में भारी बारिश के कारण एक मकान की दीवार गिर गई जिससे पिता-पुत्री की मौत हो गई है और एक बच्ची पानी में डूब गई।

Rajasthan में यहां भारी बारिश का कहर! कई गांव जलमग्न, नदी-नालों में उफान, कच्चे घर ढहे, कई घायल

राजस्थान के भरतपुर जिले में रविवार को मूसलाधार बारिश से जिले की कई नदियां और नाले उफान पर आ गए। कई इलाकों में वर्षाजनित हादसों की भी खबरे हैं। मौसम विभाग ने भरतपुर जिले में आज भी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

Rajasthan: मानसून के 1 महीने बाद भी बरसात की ‘कमी’, 10 जिलों में आधी भी नहीं हुई वर्षा

जयपुर | less Rain in Rajasthan : आज फिर से राजस्थान में सुबह झमाझम बारिश के बाद दिनभर बरसात नहीं हुई. कुछ ऐसा ही हाल पूरे मानसून के दौरान देखने को मिला है. यहीं कारण है कि इस बार राजस्थान में मानसून का कोई खास असर देखने को नहीं मिला . हर बार से अगर इस बार के मानसून की तूलना करें तो एक महीने बाद भी करीब 40 प्रतिशत वर्षा की कमी बनी हुई हैं. इससे प्रदेश के 27 जिलों में अब तक सामान्य बरसात भी नहीं हुई. जल संसाधन विभाग के अनुसार प्रदेश में गत एक जून से 18 जुलाई तक सामान्य वर्षा 160़ 88 मिलीमीटर बारिश के मुकाबले 97़ 56 मिलीमीटर वर्षा हुई जो सामान्य से 39़ 4 प्रतिशत कम है. बता दें कि गत वर्ष इस दौरान 120़ 96 मिलीमीटर बरसात हो चुकी थी. राज्य में मानसून के गत 18 जून को प्रवेश करने के एक-दो दिन बाद ही फीका पड़ जाने से पिछले एक महीने में बहुत कम वर्षा हुई. 10 जिलों में 50 प्रतिशत तक की कमी less Rain in Rajasthan : जानकारी के अनुसार राजस्थान में अभी 10 जिले ऐसे हैं जहां 50 प्रतिशत से अधिक की वर्षा की कमी है. बरसात की… Continue reading Rajasthan: मानसून के 1 महीने बाद भी बरसात की ‘कमी’, 10 जिलों में आधी भी नहीं हुई वर्षा

uttarakhand : देवभूमि में भारी बारिश के चलते हुआ भूस्खलन, बद्रीनाथ नेशनल हाईवे ठप

चमोली|  देश भर में मानसून का दौर शुरु हो चुका है। पहाड़ी इलाकों में मानसून आते ही खतरे की घंटी बज जाती है। पहाड़ी इलाकों में बारिश आते ही भूस्खलन, बाढ़, सहित तमाम मुसीबतें शुरु हो जाती है। ताजा मामला उत्तराखंड से जुड़ा है। चमोली ज़िले के गुलाबकोटी और कौड़िया के बीच बद्रीनाथ नेशनल हाईवे बंद हो गया है। समाचार एजेंसी के मुताबिक भारी बारिश होने के कारण लैड स्लाइड की घटना हो गई है। जिसके कारण बद्रीनाथ नेशनल हाईवे बंद हो गया है। मौसम विभाग के मुताबिक शुक्रवार को तीन ज़िलों में भारी बारिश को लेकर रेड अलर्ट जारी किया जा चुका है। प्रशासन ने चेतावनी भी जारी की है। भारी बारिश के चलते अभी नदियां उफान पर है। इस कारण से कोई भी नदी किनारे ना जाएं। कोई भी दुर्घटना का शिकार हो सकता है। also read: बाबा केदारनाथ की नगरी का सफर 400 साल पहले बर्फ में दबे होने से लेकर अब तक …कीजिए हमारे साथ मौसम विभाग का रेड अलर्ट मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की है और कहा है कि नैनीताल, चंपावत और पिथौरागढ़, चमोली, बागेश्वर, उधमसिंह नगर ज़िलों में बेहद भारी बारिश होने के आसार नज़र आ रहे है। मौसम विभाग ने इन ज़िलों के… Continue reading uttarakhand : देवभूमि में भारी बारिश के चलते हुआ भूस्खलन, बद्रीनाथ नेशनल हाईवे ठप

Pre Monsoon की गतिविधियां शुरू, दिल्ली-राजस्थान सहित कई राज्यों में आंधी-बारिश के आसार, गर्मी-उमस से मिलेगी निजात

नई दिल्ली | भीषण गर्मी और उमस से जूझ रहे उत्तर भारत के लोगों को अब जल्द ही राहत मिलने वाली है। जैसे-जैसे मानसून (Monsoon 2021) भारत के हिस्सों में आगे बढ़ता जा रहा है वैसे-वैसे उत्तर भारत में उमस भी लोगों को परेशान कर रही है। लेकिन अब एक बार फिर से मौसम पलटने वाला है और गर्मी-उमस से राहत मिलने वाली है। मानसून (Monsoon 2021 Update) तेजी से आगे बढ़ रहा है। मानसून ने महाराष्ट्र कवर कर लिया है, ऐसे में दिल्ली में 15 जून तक मानसून के पहुंचने की संभावना है। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, करीब 12 दिन पहले ही मानसून (Monsoon) के दस्तक देने की संभावना है। ये भी पढ़ें:- Delhi सरकार के निशाने पर Modi सरकार, मनीष सिसोदिया ने जमकर बोला हमला, कहा- SC की फटकार पर ही काम करता है केन्द्र राजस्थान में भी पलटेगा मौसम मौसम विभाग ने आज शनिवार से राजस्थान में आंधी तूफान के साथ बारिश की संभावना जताई है। मौसम विभाग के अनुसार, पूर्वी राजस्थान में 12 जून से प्री-मानसून (Pre Monsoon) की गतिविधियां चालू हो जाएगी। जिससे आंधी चलेगी और बारिश होगी। राज्य के कई जिलों में आज बारिश की संभावना है। ये भी पढ़ें:- राजस्थान में 10 हजार से… Continue reading Pre Monsoon की गतिविधियां शुरू, दिल्ली-राजस्थान सहित कई राज्यों में आंधी-बारिश के आसार, गर्मी-उमस से मिलेगी निजात

आइये जानते हैं दुनिया की वो 5 जगह जहां सालभर चलता है बारिश का सिलसिला ..

उत्तर भारत में मानसून ने दस्तक दे दी है। हाल ही में मानसून ने जमकर मुंबई को भिगोया है। मुंबई में मानसून का आगाज जमकर हुआ। मुंबई खूब गीली हुई। वैसे अब जब भी मुंबई में एकसाथ ज्यादा बारिश होती है तो मुंबई वाले घबरा जाते हैं।भारी बारिश के कारण मायनगरी में रहने वाले लोगों का जीवन अस्त-व्यस्थ हो गया। लेकिन कुछ जगहें ऐसी हैं जहां खूब बारिश होती है और सालभर होती रहती है। इन जगहों में सालबर बारिश का दौर चलता रहता है। इनमें से कुछ जगहें भारत में है तो कुछ बाहर की। जानते हैं वो कौन सी पांच जगहें हैं…. also read: MP में सात दिन पहले पहुंचा ‘Monsoon’, मौसम विभाग ने जारी किया ऑरेंज और यलो अलर्ट मासिनराम, मेघालय, भारत भारत के मेघालय में स्थित मासिनराम वह गांव है जहां पूरी दुनिया की सबसे अधिक बारिश होती है। यहां सालाना 11,871 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है। यह पहाड़ी स्थान है जहां हिमालय की चोटियां बंगाल की खाड़ी से आने वाले बादलों को रोक लेती हैं और ये बादल यहां बरस जाते हैं। मासिनराम भारत के मेघालय राज्य के पूर्व खासी हिल्स ज़िले में स्थित एक बस्ती है। यह राज्य राजधानी, शिलांग, से लगभग 60.9 किमी… Continue reading आइये जानते हैं दुनिया की वो 5 जगह जहां सालभर चलता है बारिश का सिलसिला ..

और लोड करें