Naya India

Kangana Ranaut: अभिनेता से नेता तक, विवादों में घिरी राजनीति

Image Credit: NDTV

अभिनेता से नेता बनीं Kangana Ranaut का इरादा एक विपक्षी नेता पर निशाना साधने का था। लेकिन उन्होंने गलती से अपने भाजपा सहयोगी पर हमला बोल दिया। कंगना की गड़बड़ी के पीछे नामों में समानता थी। उन्होंने कहा था की बिगड़ैल राजकुमारों की एक पार्टी है…चाहे वह राहुल गांधी हों जो चंद्रमा पर आलू उगाना चाहते हैं। या तेजस्वी सूर्या जो गुंडागर्दी करते हैं। और मछली खाते हैं।

राजद नेता और बिहार की पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को उनकी आलोचना का मुख्य निशाना माना जा रहा था। क्योंकि उनका एक वीडियो जिसमें वह मछली खाते हुए दिख रही थी। हाल ही में भाजपा और विपक्ष के बीच एक प्रमुख विवाद भी बन गया था।

तेजस्वी सूर्या, जिनका Kangana Ranaut ने कल एक चुनावी रैली के दौरान गलत तरीके से उल्लेख किया और वह कर्नाटक में बेंगलुरु दक्षिण निर्वाचन क्षेत्र से भाजपा की लोकसभा उम्मीदवार हैं।

इस बीच, यादव ने Kangana Ranaut के बयान की एक क्लिप पर प्रतिक्रिया दी और कहा की यह शहीद कौन है? (यह महिला कौन है?), उन्होंने एक्स पर पोस्ट किया।

Kangana Ranaut ने कल मंडी संसदीय क्षेत्र के सुंदरनगर क्षेत्र में एक सार्वजनिक रैली को संबोधित किया जहा उन्होंने वंशवाद की राजनीति को लेकर सिंह और गांधी पर कटाक्ष किया और कहा की इन दोनों के पास विकास के लिए जादू की छड़ी हैं। और वे केवल गैर-व्यावहारिक चीजों के बारे में बात करते हैं।

कांग्रेस ने उनपर पलटवार करते हुए कहा की 37 वर्षीय अभिनेता को पहले अपनी पार्टी के नेताओं के बारे में जांच करनी चाहिए और वंशवादी राजनीति के बारे में बोलना चाहिए। कांग्रेस की राष्ट्रीय मीडिया समन्वयक अमृत कौर ने भी उनकी योग्यता पर सवाल उठाया और जिसके आधार पर उन्हें मंडी से भाजपा का टिकट मिला। मंडी लोकसभा क्षेत्र में 2024 के लोकसभा चुनाव सातवें चरण में 1 जून को मतदान होगा।

यह भी पढ़ें: 

चुनाव आयोग दोहरा रैवया नहीं रख सकता

उद्धव, खड़गे, स्टालिन प्रधानमंत्री बनें तो मोदी से कई गुना बेहतर पीएम होंगे!

Exit mobile version