nayaindia Khajuraho Lok Sabha Election खजुराहो में खुला मैदान
Columnist

खजुराहो में खुला मैदान

Share
Loksabha Elections 2024
Loksabha Elections 2024

भोपाल। प्रदेश में दूसरे चरण के जिन लोकसभा सीटों पर 26 अप्रैल को मतदान होना है उसमें खजुराहो लोकसभा सीट भी शामिल है जहां भाजपा प्रत्याशी और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा के लिए खुला मैदान मिला हुआ है। उनकी पूरी कोशिश रिकॉर्ड मतों से जीतने की है इसके लिए मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए कसरत हो रही है।
दरअसल, प्रदेश में पहले चरण के मतदान में छह लोकसभा सीटों पर चुनाव संपन्न हो चुके हैं लेकिन इन सीटों पर 2019 अपेक्षाकृत कम मतदान हुआ है और उसी के बाद मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए प्रयास तेज हो गए हैं।

यह भी पढ़ें: यह चुनावी धांधली नहीं तो क्या?

प्रदेश में दूसरे चरण के तहत 26 अप्रैल को टीकमगढ़, दमोह, खजुराहो, सतना, रीवा, होशंगाबाद और बैतूल लोकसभा क्षेत्र में चुनाव होना है। इसमें खजुराहो लोकसभा सीट पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा चुनाव लड़ रहे हैं जो कि 2019 के लोकसभा चुनाव में 4,92,000 के भारी मतों के अंतर से चुनाव जीते थे जबकि उस समय उनके सामने तत्कालीन विधायक विक्रम सेनाती राजा की पत्नी कविता राजे सिंह चुनाव मैदान में थी और वे क्षेत्र के लिए नए थे उनका नाम मुरैना या भोपाल लोकसभा सीट से लिया जा रहा था लेकिन ऐन वक्त पर पार्टी ने उन्हें खजुराहो चुनाव लड़ने के लिए भेजा था चुनाव जीतने के बाद विष्णु दत्त शर्मा न केवल क्षेत्र में सक्रिय रहे वरन विकास कार्यों को भी गति देते रहे और लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली सभी विधानसभा क्षेत्र में पिछले विधानसभा चुनाव में पार्टी को जीत दिलाने में भी सफल रहे। खजुराहो लोकसभा सीट कांग्रेस ने समझौते के तहत समाजवादी पार्टी को दे दी।

यह भी पढ़ें: दल-बदल विरोधी कानून खत्म हो!

समाजवादी पार्टी ने पहले डॉक्टर मनोज यादव को टिकट दिया और उसके बाद मीरा यादव को टिकट दिया और मनोज यादव को पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष बना दिया लेकिन मीरा यादव का नामांकन पत्र निरस्त हो गया और एक तरह से भाजपा के लिए विपक्ष की ओर से वाकोवर मिल गया। हालांकि कांग्रेस और समाजवादी पार्टी ने फारवर्ड ब्लाक के प्रत्याशी सेवानिवृत्ति इस आर बी प्रजापति को समर्थन दे दिया है लेकिन वे मुकाबले में कहीं नजर नहीं आ रहे।

बहरहाल, विपक्ष की कमजोर स्थिति को देखते हुए अब भाजपा जीत के लिए नहीं बल्कि रिकॉर्ड जीत के लिए मेहनत कर रही है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भाजपा प्रत्याशी विष्णु दत्त शर्मा स्वयं भी क्षेत्र में मेहनत कर रहे हैं और उनके समर्थक भी चप्पे-चप्पे पर भारी मतदान के लिए प्रयास कर रहे हैं। खासकर पहले चरण में छह लोकसभा सीटों पर अपेक्षाकृत का मतदान के बाद पार्टी चौकन्ना हो गई है और बूथ स्तर पर जमावट भारी मतदान के लिए हो रही है।

यह भी पढ़ें: प्रकाश अम्बेडकर है तो भाजपा क्यों न जीते!

खजुराहो लोकसभा सीट की सभी विधानसभा सीटों पर भाजपा का कब्जा है और सभी विधायक भी अपने-अपने विधानसभा क्षेत्र से अधिकतम बढ़त बनाने के लिए प्रयास कर रहे हैं। एक तरह से पूरे लोकसभा क्षेत्र में इस बात की होड़ चल रही है कि कौन-कौन कितने मतों से जिताता है। हाल ही में दमोह में सभा करने आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिस तरह से पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा की तारीफ की है उसके बाद उनके समर्थक और भी उत्साहित होकर चुनाव मैदान में सक्रिय हो गए। छतरपुर पन्ना और कटनी जिले की विधानसभा क्षेत्र को मिलाकर बनी खजुराहो लोकसभा सीट इस समय सत्ता पक्ष के लिए सबसे अनुकूल सीट मानी जा रही है। जहां प्रचार अभियान से लेकर मतदान तक खुला मैदान दिखाई दे रहा है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें