nayaindia khajuraho lok sabha seat वीडी के लिये बढ़ी विजय का अवसर
Columnist

वीडी के लिये बढ़ी विजय का अवसर

Share

भोपाल। पिछले लोकसभा चुनाव में खुजराहों सै बड़ी जीत हासिल करने वाले भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा के लिए एक बार फिर अवसर आया है जिसमें वे और भी बड़ी जीत हासिल कर सकते हैं क्योंकि कांग्रेस ने गठबंधन में यह सीट समाजवादी पार्टी को दे दी है जिसका ना तो इस क्षेत्र में संगठन है और ना ही जनाधार पिछले विधानसभा चुनाव में भी भाजपा ने खजुराहो लोकसभा क्षेत्र की सभी विधानसभा सीटों पर जीत दर्ज की थी।

दरअसल पिछले लोकसभा चुनाव में खजुराहो लोकसभा सीट से चुनाव के कुछ दिन पहले ही भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा को खजुराहो लोकसभा का टिकट दिया गया था और भोपाल से खजुराहो जाकर विष्णु दत्त शर्मा ने कांग्रेस प्रत्याशी कविता सिंह को 492 382 वोटो के बड़े अंतर से चुनाव हराया तब शर्मा के लिए यह नया क्षेत्र था लेकिन पिछले 5 वर्षों में शर्मा ने न केवल खजुराहो लोकसभा क्षेत्र में विकास कार्य बना कराए हैं वरन सक्रिय रूप से क्षेत्र में संपर्क भी बनाए रखा है पिछले विधानसभा चुनाव में भी खजुराहो लोकसभा सीट की अधिकांश विधानसभा सीटे भाजपा ने लंबे अंतर से जीती अब जबकि कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के बीच उत्तर प्रदेश में सीटों को लेकर बटवारा हुआ और इस बंटवारे के तहत कांग्रेस ने मध्य प्रदेश की खजुराहो लोकसभा सीट समाजवादी पार्टी को दे दी है जिसे एक तरह से भाजपा के लिए वआकओवर माना जा रहा है।

यह भी पढ़ें: क्यों किसानों की मांगे नहीं मानते?

भाजपा मीडिया प्रभारी आशीष अग्रवाल कहते हैं कि खजुराहो लोकसभा पर सपा के लिए सीट छोड़ना खजुराहो लोकसभा पर कांग्रेस की जमानत जप्त होने की स्वीकारोक्ति है उन्होंने यह भी कहा कि विधानसभा चुनाव में कांग्रेस खजुराहो लोकसभा की सारी सीटें हार गई थी और अब लोकसभा में सपा को इस लोकसभा सीट का झुनझुना पकड़ा दिया गया है वाह री कांग्रेस सपा के साथ ही कर दिया खेल हारी सीट अखिलेश को देकर कह दिया अब लोकसभा तू झेल भाजपा ही नहीं कांग्रेस के नेता भी आश्चर्यचकित है कांग्रेस की ओर से आलोक चतुर्वेदी और वीरेंद्र द्विवेदी चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे थे।

बहरहाल खनिज संपदा से भरपूर विश्व पर्यटक केंद्र के रूप में पहचान बनाने वाला खजुराहो लोकसभा मैं अधिकांश प्रतिनिधित्व करने वाले दिग्गज नेता रहे हैं पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रहे सत्यव्रत चतुर्वेदी विद्यावती चतुर्वेदी लक्ष्मी नारायण नायक पंडित राम सहाय रामकृष्ण कुशमारिया जितेंद्र सिंह बुंदेला और नागेंद्र सिंह के बाद पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा ने विष्णु दत्त शर्मा को मैदान में उतारा और नामांकन दाखिल करने के दिन भाजपा के रणनीतिकार केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने पहले ही सभा में आम जन को संबोधित करते हुए कहा कि आप विष्णु दत्त शर्मा को लोकसभा भेजिए हम बहुत बड़ा नेता बनायेंगे और सब जानते हैं की विष्णु दत्त शर्मा को मध्य प्रदेश भाजपा का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गयाI

अब जबकि एक बार फिर खजुराहो लोकसभा सीट पर गठबंधन की तस्वीर स्पष्ट हो गई है जिसमें कांग्रेस की जगह समाजवादी पार्टी लोकसभा चुनाव लड़ेगी तब चुनावी शंखनाद करने के लिए 25 फरवरी को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह मध्य प्रदेश के दौरे पर आ रहे हैं इस दौरान ग्वालियर भोपाल के अलावा खजुराहो में 3:00 बजे आमसभा और लोकसभा बूथ समिति का सम्मेलन खजुराहो में आयोजित किया गया है जिसे अमित शाह संबोधित करेंगे इस दौरान क्या नया संदेश देंगे यह भी देखने लायक होगा।
कुल मिलाकर प्रदेश में भाजपा सभी 29 लोकसभा सीट जीतने का टारगेट लेकर चल रही है ऐसे में खजुराहो सीट समाजवादी पार्टी को देने से भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा के लिए न केवल बड़ी जीत हासिल करने का अवसर मिल गया है वरन वे प्रदेश की अन्य लोकसभा सीटों पर भी अधिकतम समय दे सकेंगे क्योंकि खजुराहो लोकसभा सीट में सपा को देने से भाजपा और शर्मा समर्थक उत्साहित है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें