झारखंड चुनाव: 11 बजे तक 29.19 फीसदी मतदान

आज कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था के बीच शांतिपूर्ण ढंग से जारी मतदान के दौरान पहले चार घंटे में 29.19 मतदाताओं ने अपने-अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

झारखंड चुनाव : देवघर में प्रत्याशियों की आस्था दांव पर

देश दुनिया में ‘बाबा नगरी’ के रूप में प्रसिद्ध झारखंड स्थित देवघर हिंदू धर्म के लोगों के लिए एक महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों में से एक है। झारखंड विधानसभा चुनाव के चौथे चरण में देवघर विधानसभा क्षेत्र में 16 दिसंबर को मतदान होना है। इस सीट पर चुनावी रण का मुकाबला बराबर दिलचस्प होता है।

मोदी का झारखंड चुनावों में बड़ी संख्या में मतदान का आग्रह

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज झारखंड में विधानसभा चुनावों के तीसरे चरण में 17 सीटों पर हो रहे चुनाव में बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह किया।

झारखंड विधानसभा चुनाव: दूसरे चरण का मतदान आज

रांची। झारखंड विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण का मतदान आज है। दूसरे चरण में कुल 20 सीटों पर वोट डाले जाएंगे। इसमें मुख्यमंत्री रघुवर दास की जमशेदपुर पूर्वी सीट भी शामिल है, जहां उनके खिलाफ पार्टी के ही बागी नेता सरयू राय के लड़ने से मामला दिलचस्प हो गया है। राज्य की 20 सीटों पर कुल 260 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। सभी मतदान केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। झारखंड के मुख्य निर्वाचन अधिकारी विजय कुमार चौबे ने कहा, “20 विधानसभा क्षेत्रों में कुल 48,25,038 वोटर हैं, जिसमें 23,93,437 महिला और 90 थर्ड जेंडर हैं। मतदान के लिए कुल 6,066 बूथ बनाए गए हैं। इसमें 1,016 बूथ शहरी और बाकी केंद्र ग्रामीण इलाके में हैं।” उन्होंने बताया कि 1,662 मतदान केंद्रों से वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि 40,000 जवानों को दूसरे चरण के मतदान की सुरक्षा व्यवस्था में लगाया गया है। नक्सली इलाके में स्थित मतदान केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। पूर्वी जमशेदपुर और पश्चिमी जमशेदपुर में जहां सुबह सात से पांच बजे तक मतदान होगा, वहीं अन्य 18 सीटों की संवेदनशीलता को देखते हुए वहां दिन में तीन बजे तक ही मतदान होगा। दूसरे चरण में 16 अनुसूचित जनजाति… Continue reading झारखंड विधानसभा चुनाव: दूसरे चरण का मतदान आज

झारखंड चुनाव: बिना ‘कप्तान’ के जदयू ‘खिलाड़ी’ मायूस!

झारखंड के चुनावी समर में बिहार की सत्ताधारी पार्टी जनता दल (यूनाइटेड) की टीम भी उतरी है, मगर अब तक कप्तान (अध्यक्ष) नीतीश कुमार मैदान में नहीं उतरे हैं।

झारखंड चुनाव : दूसरे चरण के लिए प्रचार थमा

पांच चरणों में होने वाले झारखंड चुनाव के दूसरे चरण के मतदान के लिए प्रचार का दौर थम गया। यहां दूसरे चरण का चुनाव शनिवार को होने वाला है।

झारखंड चुनाव : कुछ के लिए शादी से महत्वपूर्ण मतदान

रांची। एक बहन-भाई की जोड़ी ने इस बात को साबित किया कि उनके लिए शादी से अधिक महत्वपूर्ण मतदान है। इसलिए हल्दी की रस्म के बीच हल्दी लगे चेहरों के साथ ही उन्होंने अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने मतदान केंद्र पहुंचे। लोहरदगा विधानसभा सीट के बूथ संख्या 259 पर दोनों यहां शनिवार को पहुंचे, वोट डाला और वापस रस्म निभाने के लिए शादी में लौट गए। राजन राम शनिवार को ही शादी कर रहे हैं, वहीं उनकी बहन चंदा कुमारी रविवार को विवाह के बंधन में बंधेंगी। हिंदुओं की शादी में निखार के लिए वर-वधु दोनों पर ही हल्दी चंदन लगाने की रस्म होती है। इसे भी पढ़ें : झारखंड में प्रथम चरण का मतदान समाप्त, करीब 63 प्रतिशत पड़े वोट राजन राम ने कहा हमने परिजनों के साथ अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने का फैसला किया। हमें पांच साल में एक बार अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने का मौका मिलता है। शादी भी जरूरी है, लेकिन वह शाम को है। चुनाव के पहले चरण में झारखंड में 52 प्रतिशत मतदान हुए हैं। 81 विधानसभा सीटों में से 13 के लिए मतदान सबुह सात बजे से शुरू होकर अपराह्न् तीन बजे खत्म हुए।

भाजपा के सामने झारखंड में भी गठबंधन की समस्या

महाराष्ट्र में सहयोगी शिवसेना के रवैये के कारण सरकार बनाने का अवसर खो चुकी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सामने सहयोगियों से समस्या अभी खत्म नहीं हुई है

झारखंड चुनाव: आजसू के ‘डबल डिजिट’ से भाजपा भंवर में!

झारखंड में चुनावी रणभेरी बजने के साथ ही सभी राजनीतिक दलों ने संग्राम के लिए राजनीतिक ‘योद्धाओं’ की तलाश तेज कर दी है। अभी तक जो स्थिति उभरी है, उसमें यह माना जा रहा है

झारखंड चुनाव में कांग्रेस दिग्गजों पर लगाएगी दांव!

विपक्षी दलों के संभावित महागठबंधन को लेकर अभी भले ही तस्वीर साफ नहीं हो पाई है, परंतु अधिकांश विपक्षी दलों ने चुनाव की घोषणा के बाद प्रत्याशियों के चयन को लेकर जोड़तोड़ प्रारंभ हो गई है।

झारखंड चुनाव : बाबूलाल मरांडी को मनाने का दौर शुरू

रांची। झारखंड में विधानसभा चुनाव की घोषणा के बाद विपक्षी दलों का महागठबंधन दरकता नजर आ रहा है। एक साक्षात्कार में झारखंड विकास मोर्चा (झाविमो) के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के अकेले चुनाव लड़ने की घोषणा के बाद अब उन्हें मनाने का दौर शुरू हो गया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव ने सोमवार को मरांडी से मुलाकात की। दोनों नेताओं के बीच लंबी बातचीत चली। मरांडी द्वारा झारखंड में अकेले चुनाव लड़ने की घोषणा के बाद राज्य की राजनीति गरम हो गई। विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस हर हाल में झाविमो को महागठबंधन में शामिल कराना चाहती है। कहा जा रहा है कि यही कारण है कि रामेश्वर उरांव ने बाबूलाल मरांडी से मुलाकात की। सूत्रों का दावा है कि उरांव ने मरांडी को भरसक मनाने की कोशिश की है, लेकिन वह अब तक अपने फैसले पर अडिग हैं। उल्लेखनीय है कि शनिवार को मरांडी ने दिए साक्षात्कार में महागठबंधन से अलग चुनाव लड़ने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा था कि पार्टी संघर्ष करेगी और जनता के बीच जाएगी। सूत्रों का कहना है कि झाविमो चुनाव के बाद गठबंधन के पक्ष में है। मरांडी का कहना है कि उम्मीदवारों का चयन करने से पहले सभी विधानसभा… Continue reading झारखंड चुनाव : बाबूलाल मरांडी को मनाने का दौर शुरू

झारखंड: विपक्षी दलों की एक ही चरण में चुनाव कराने की मांग

झारखंड में विपक्षी दलों ने एक ही चरण में चुनाव कराने की मांग रखी। बीजेपी को छोड़कर सभी विपक्षी पार्टियां चाहती है कि चुनाव एक ही चरण में हो। चुनाव आयोग (ईसी) की टीम ने गुरुवार को रांची में विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं से मुलाकात की।

और लोड करें