nayaindia Lok Sabha election चुनाव में अब उम्र का मुद्दा
Election

चुनाव में अब उम्र का मुद्दा

ByNI Political,
Share

लोकसभा चुनाव के प्रचार में अब नेताओं की उम्र का मुद्दा बन गया है। अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री की उम्र का मुद्दा बनाया है तो प्रधानमंत्री भी किसी तरह से राहुल गांधी की उम्र खींच कर ले आए हैं। जेल से छूटने के बाद केजरीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी अगले साल 17 सितंबर को 75 साल के हो जाएंगे उसके बाद वे क्या रिटायर हो जाएंगे और अमित शाह को प्रधानमंत्री बना देंगे। हालांकि तुरंत ही अमित शाह ने इसका जवाब दिया और कहा कि पार्टी के संविधान में 75 साल में रिटायर होने का कोई नियम नहीं है। इसके बाद केजरीवाल की पार्टी ने अमित शाह का ही एक वीडियो वायरल किया, जिसमें वे 75 साल की उम्र सीमा के नियम का हवाला दे रहे हैं। वैसे पार्टी इसे कब का पीछे छोड़ चुकी है और इस बार ही हेमामालिनी सहित कई नेता ऐसे लड़ रहे हैं, जो 75 साल के आसपास या उससे ज्यादा उम्र के हैं।

बहरहाल, केजरीवाल के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने राहुल की उम्र से कांग्रेस की सीट को जोड़ते हुए एक शिगूफा छोड़ा और कहा कि कांग्रेस पार्टी को उसके शहजादे की उम्र से भी कम सीटें मिलेंगी। ध्यान रहे राहुल गांधी 54 साल के हैं। सो, प्रधानमंत्री का कहना है कि कांग्रेस को 54 से कम सीटें मिलेंगी। पिछली बार कांग्रेस को 52 सीटें मिली थीं और वह दो सीट से वह मुख्य विपक्षी पार्टी का दर्जा हासिल करने में नाकाम रही थी। गौरतलब है कि मनमोहन सिंह जब प्रधानमंत्री थे तब नरेंद्र मोदी ने उनकी उम्र का भी एक शिगूफा छोड़ा था और कहा था कि डॉलर की कीमत प्रधानमंत्री की उम्र को मात देने जा रही है। हालांकि तब मनमोहन सिंह 70 साल से ज्यादा उम्र के थे और डॉलर की कीमत 60 रुपए से कुछ ज्यादा थी। अब प्रधानमंत्री मोदी करीब 74 साल के हैं और डॉलर की कीमत 83 रुपए हो गई है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें