डरावना होता डेंगू का डंक और अनलाक होते स्कूल

प्रदेश में एक तरफ जहां कोरोना के मरीज दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे है तो दूसरी ओर महानगरों में डेंगू तेजी से पैर पसार रहा हैI

दिग्विजय सिंह का बड़ा बयान कहा – “मामू का जाना तय”, 2 संभावित भाजपा के सीएम के नाम भी बताए

भोपाल | Big statement of Digvijay Singh : हमेशा विवादों में रहने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने रविवार को एक ट्वीट कर मध्यप्रदेश में हड़कंप मचा दिया था. उन्होंने टवीट करते हए कहा था कि आने वाले कुछ दिनों में मध्य प्रदेश में एक नये मुख्यमंत्री शपथ लेने वाले हैं. हालांकि रविवार को किये गये इस ट्वीट में जब लोगों ने उनसे संभावित नामों के बारे में सवाल किये तो उन्होंने कहा था कि भाजपा वाले बताएंगे. लेकिन आज एक बार फिर से उन्होंने ना सिर्फ इस विवाद को आगे बढ़ाया है बल्कि दो संभावित नेताओं के नाम भी सुलझाएं हैं. मामा के नाम से जाने वाले मध्य प्रदेश के मौजूदा सीएम के बारे में लिखते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि “मामू का जाना तय.” आजकल भाजपामोदीशाह अपने मुख्यमंत्रियों को बदल रहे हैं। मध्यप्रदेश में भी कुछ हमारे भाजपा के अपने आप को योग्य समझने वाले नेताओं की उम्मीदें बढ़ गई हैं। कितने और कौन कौन मप्र भाजपा में उम्मीदवार हैं कोई हमें बता सकता है? नहीं बताओगे तो मैं कल सूचि दे दूँगा। — digvijaya singh (@digvijaya_28) July 18, 2021 इस दो नेताओं को बताया संभावित सीएम Big statement of Digvijay Singh : दिग्विजय सिंह… Continue reading दिग्विजय सिंह का बड़ा बयान कहा – “मामू का जाना तय”, 2 संभावित भाजपा के सीएम के नाम भी बताए

MP: कुएं में बच्चे को बचाने के चक्कर में एक साथ गिरे 35 लोग, 4 की मौत, कई लोग लापता

विदिशा | मध्य प्रदेश के विदिशा जिले में बड़ी दुखदायी घटना हो गई है। विदिशा के गंजबासौदा में कल देर रात लालपठार इलाके में एक 13 साल के बच्चे को बचाने के चक्कर में 35 लोग एक साथ कुएं में गिर (Major Well Accident in Vidisha) गए। सूचना पर पहुंची पुलिस और एसडीआरएफ की टीम ने 19 लोगों को राहत एवं बचाव कार्य करके सुरक्षित बाहर निकाल लिया। अब भी कई लोग लापता हैं, जबकि 4 की मौत हो चुकी है और उनके शव बरामद कर लिए गए हैं। जानकारी के अनुसार, कुएं में एक 13 साल का बच्चा गिर गया था। उसे बचाने के लिए गांव के कुछ लोग कुए में कूदकर बच्चे को तलाश रहे थे। तभी कुएं में बच्चे के गिरने की बात पर वहां लोगों का जमावड़ा लग गया और कुएं की मुंडेर पर लोग इकट्ठे हो गए। जिससे मुंडेर वहन नहीं झेल पाई और 35 लोग कुएं में साथ गिर गए। ये भी पढ़ें:- शॉपिंग करने गए है और वॉलेट भूल गए है तो अपने नाखूनों के ATM से करिए खरीददारी मची अफरा-तफरी और चीख-पुकार लोगों के कुएं में गिरते ही वहां अफरा-तफरी मच गई। चारों ओर चीख-पुकार शुरू हो गई। हादसे की सूचना पर पुलिस… Continue reading MP: कुएं में बच्चे को बचाने के चक्कर में एक साथ गिरे 35 लोग, 4 की मौत, कई लोग लापता

भाजपा संसदीय बोर्ड में बनी जगह

bjp parliamentary board :  भारतीय जनता पार्टी में फैसले करने वाली सर्वोच्च ईकाई संसदीय बोर्ड में एक और जगह बन गई है। संसदीय बोर्ड के सदस्य और केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत को कर्नाटक का राज्यपाल बना दिया गया है। संवैधानिक पद पर जाने के बाद वे भाजपा के संसदीय बोर्ड में नहीं रह पाएंगे। उनसे पहले संसदीय बोर्ड में तीन और जगह अलग अलग कारणों से बनी थी। लेकिन हैरानी की बात है कि भाजपा का शीर्ष नेतृत्व संसदीय बोर्ड में नए सदस्यों को नहीं शामिल कर रहा है। बोर्ड में जगह खाली होने का सिलसिला 2017 से चल रहा है। यह भी पढ़ें: संसदीय बोर्ड में किसे मिलेगी जगह सबसे पहले पार्टी के पूर्व अध्यक्ष वेंकैया नायडू के उप राष्ट्रपति बनने के बाद 2017 में एक जगह खाली हुई थी। लेकिन उनकी जगह कोई नई नियुक्ति नहीं हुई। पिछले 2019 के लोकसभा चुनाव के तुरंत बाद अगस्त में भाजपा संसदीय बोर्ड के दो सदस्य सुषमा स्वराज और अरुण जेटली का निधन हो गया। उनकी जगह भी किसी को नहीं नियुक्त किया गया और अब थावरचंद गहलोत को राज्यपाल बनाया गया है। इस तरह भाजपा संसदीय बोर्ड में अब चार जगहें खाली हो गई हैं। 12 सदस्यों वाली इस ईकाई… Continue reading भाजपा संसदीय बोर्ड में बनी जगह

MP सरकार का रविवार को Corona Curfew हटाने का ऐलान, फिर से खुल सकेंगी दुकानें-बाजार

भोपाल | Corona Curfew Remove in MP: मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण से लगातार राहत की खबर है। यहां नए कोरोना संक्रमितों में गिरावट दर्ज की जा रही हैं और मौतों का आंकड़ा कम हो गया है। मध्य प्रदेश सरकार ने राज्य में रविवार को लगाया जाने वाला कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) हटाने का निर्णय लिया है। शनिवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने कोरोना कर्फ्यू हटाने का ऐलान करते हुए कहा कि राज्य में कोरोना संक्रमण काबू में आ गया है और ऐसे में कोरोना कर्फ्यू लगाना सही नहीं होगा। ये भी पढ़ें:- Srinagar: सुरक्षाबालों पर ग्रेनेड से हमला, कई नागरिक जख्मी, आतंकियों की तलाश में इलाके की घेराबंदी सीएम ने ट्वीट कर जानकारी देते हुए कहा कि, हम तत्काल प्रभाव से रविवार के कोरोना कर्फ्यू को समाप्त कर रहे हैं। जिन्हें अपनी दुकानें खोलना हों, आर्थिक गतिविधियां जारी रखना हों, वे नियमानुसार कोविड 19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए अपनी गतिविधियां चालू रख सकते हैं। रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू पूर्ववत जारी रहेगा। हम तत्काल प्रभाव से रविवार के #CoronaCurfew को समाप्त कर रहे हैं। जिन्हें अपनी दुकानें खोलना हों, आर्थिक गतिविधियाँ जारी रखना हों, वे नियमानुसार #COVID19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए अपनी गतिविधियाँ चालू रख सकते… Continue reading MP सरकार का रविवार को Corona Curfew हटाने का ऐलान, फिर से खुल सकेंगी दुकानें-बाजार

भाजपा के सीएम नहीं बदलेंगे

भारतीय जनता पार्टी के शासन वाले राज्यों में भले पार्टी के अंदर खूब तिकड़म और दांव-पेंच चल रहे हैं पर ऐसा लग रहा है कि कोई भी मुख्यमंत्री बदला नहीं जाएगा। तभी यह हैरान करने वाली बात है कि जब पार्टी आलाकमान यह तय किए हुए है कि किसी मुख्यमंत्री को हटाया नहीं जाएगा फिर क्यों पार्टी के अंदर घमासान छिड़ा? भाजपा के एक जानकार नेता ने कहा कि इसके दो कारण हो सकते हैं। पहला तो यह कि पार्टी आलाकमान का इकबाल कम हुआ है, जिससे प्रदेशों के नेता स्वतंत्र हुए हैं या दूसरा यह कि पार्टी आलाकमान ने ही प्रदेशों में मजबूत हो रहे क्षत्रपों को उनकी जगह दिखाने और उनको अस्थिर करने का काम योजनाबद्ध तरीके से कराया। यह भी पढ़ें: फड़नवीस की पसंद को तरजीह बहरहाल, सबसे ज्यादा अस्थिर कुर्सी कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा की दिख रही थी। लेकिन वहां भी पार्टी आलाकमान ने साफ कर दिया कि उनको नहीं हटाया जाएगा। उलटे पार्टी के महासचिव और प्रभारी अरुण सिंह ने यह भी कहा कि येदियुरप्पा के खिलाफ बयान देने वाले नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। असल में अरुण सिंह की बेंगलुरू यात्रा के दौरान येदियुरप्पा ने अपनी ताकत दिखाई। पार्टी के करीब 65… Continue reading भाजपा के सीएम नहीं बदलेंगे

भाजपा के मुख्यमंत्रियों पर दबाव

पिछले सात साल में पहली बार हो रहा है भारतीय जनता पार्टी के मुख्यमंत्री दबाव में हैं। भाजपा शासित राज्यों में पार्टी के अंदर राजनीति हो रही है। जहां भाजपा का शासन नहीं है, जैसे राजस्थान या महाराष्ट्र वहां भी पार्टी के अंदर राजनीति तेज हो गई है। इसका भी एक कारण वहीं है, जो ऊपर बताया गया है। सात साल में पहली बार ऐसा हुआ है या कम से कम दिख रहा है कि भाजपा के आला नेता दबाव में हैं। नरेंद्र मोदी और अमित शाह बैकफुट पर हैं। कोरोना प्रबंधन, आर्थिक, बंगाल की हार आदि ऐसे मसले हैं, जिन पर पार्टी के अंदर चर्चा शुरू हो गई है। इससे केंद्रीय कमान कमजोर हुई है और आलाकमान के इकबाल पर भी सवाल उठा है। तभी प्रदेश में नेता अंदरखाने की तिकड़मी राजनीति में जुट गए हैं। भाजपा के मुख्यमंत्रियों या प्रदेश नेताओं पर दूसरा कारण यह है कि चुनावी तैयारियां चल रही हैं और मौजूदा हालात को देखते हुए पार्टी परेशान है। यह भी पढ़ें: राजनीति में उफान, लाचार मोदी! इस लिहाज से उत्तर प्रदेश सबसे अहम राज्य है। वहां अगले साल फरवरी-मार्च में चुनाव होने वाले हैं। उससे पहले हुए पंचायत चुनावों और विधान परिषद के चुनावों में… Continue reading भाजपा के मुख्यमंत्रियों पर दबाव

नेताओं को मोदी का क्या मैसेज?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी क्या अपनी और दूसरी पार्टी के मुख्यमंत्रियों से मुलाकात के दौरान होने वाले सिटिंग अरेंजमेंट यानी बैठने की व्यवस्था के जरिए कोई मैसेज दे रहे हैं? मध्य प्रदेश कांग्रेस के नेताओं ने इसे मुद्दा बनाया है। असल में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने दिल्ली आए थे। प्रधानमंत्री से मुलाकात के दौरान उनके बैठने की व्यवस्था सामान्य से अलग थी। अगल-बगल की दो कुर्सियों पर बैठने की बजाय प्रधानमंत्री अपने लिए निर्धारित कुर्सी पर बैठे और मुख्यमंत्री बीच की कुर्सी छोड़ कर उसके आगे वाली कुर्सी पर बैठे। इस तस्वीर को साझा करके कांग्रेस के नेता कह रहे हैं कि प्रधानमंत्री ने दूर बैठा कर मुख्यमंत्री से अपनी नाराजगी जाहिर की है। कहा जा सकता है कि इन दिनों कोरोना का जोर है और इसलिए सामाजिक दूरी का ख्याल रखते हए इस तरह बैठने की व्यवस्था की गई है। लेकिन यह तर्क नहीं चल पा रहा है क्योंकि इस मुलाकात से दो-चार दिन पहले ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रधानमंत्री से मिलने पहुंचे थे तो वे प्रधानमंत्री की बगल वाली कुर्सी पर बैठे थे। उसी कुर्सी पर जो शिवराज की मुलाकात के दौरान खाली रखी गई थी। तो… Continue reading नेताओं को मोदी का क्या मैसेज?

क्षत्रपों को मजबूत करेगी भाजपा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के केंद्र में सात साल तक एकछत्र राज करने के बाद अब लग रहा है कि संघ और भाजपा की रणनीति बदल रही है। अब पार्टी राज्यों में अपने क्षत्रपों को मजबूत करने की योजना पर काम कर रही है। तभी उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के चेहरे पर चुनाव लड़ने की बात निकली है। इससे पहले भी भाजपा अपने मुख्यमंत्रियों के चेहरे पर लड़ती रही है और उसमें अपेक्षाकृत अच्छी सफलता मिली है। जैसे महाराष्ट्र में पार्टी दूसरा चुनाव देवेंद्र फड़नवीस के चेहरे पर लड़ी थी, झारखंड में रघुवर दास और हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर के चेहरे पर लड़ी। गुजरात में भी पार्टी ने विजय रूपानी को मुख्यमंत्री का दावेदार बता कर चुनाव लड़ा था। इनमें हरियाणा और गुजरात में पार्टी जीती। महाराष्ट्र में सरकार नहीं बनने का कारण दूसरा रहा पर पार्टी का प्रदर्शन अच्छा रहा और झारखंड में भी पार्टी ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया। यह भी पढ़ें: मोदी का चेहरा बचाना या कुछ और बात? तभी कहा जा रहा है कि जिन प्रदेशों में भाजपा के पास मजबूत नेता हैं उनको आगे बढ़ाया जाएगा। पार्टी नेतृत्व और संघ की ताकत उनके पीछे लगेगी। पार्टी को लग रहा है कि उनके जरिए ही… Continue reading क्षत्रपों को मजबूत करेगी भाजपा

MP के पूर्व मंत्री Laxmikant Sharma का Corona से निधन, व्यापम घोटाले में आया था नाम

भोपाल। मध्यप्रदेश के चर्चित पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा (Laxmikant Sharma) का सोमवार को कोरोना (Corona) से निधन हो गया. कोरोना संक्रमित (COVID Positive) होने पर उन्हें 12 मई को भोपाल के चिरायु अस्पताल में एडमिट करवाया गया था. सोमवार को उनकी तबीयत ज्यादा ही गंभीर हो गई थी. उन्हें अस्पताल में 2 बार हार्ट अटैक आया था. बता दें कि एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) के पहले कार्यकाल में लक्ष्मीकांत शर्मा खनिज मंत्री के पद पर रहे. एमपी सरकार ने उन्हें 2008 से 2013 में उच्च शिक्षा, जनसंपर्क एवं संस्कृति जैसे महत्वपूर्ण विभाग दिए. पूर्व मंत्री (Former Madhya Pradesh Minister) के निधन पर मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी दुख व्यक्त किया है. गौरतलब है कि पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा विवादों में घिरे रहे. उनका नाम व्यापम घोटाले के साथ ही हनीट्रेप में भी काफी चर्चा में रहा था. ये भी पढ़ें:- खुशखबर! राजस्थान में कोरोना संक्रमण से राहत, 24 घंटे में मिले 1498 नए संक्रमित, सरकार ने भी दी Lockdown में राहत सीएम शिवराज सिंह चौहान ने व्यक्त की संवेदनाएं पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा के निधन पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने दुख जताते हुए लिखा है कि, पूर्व मंत्री और… Continue reading MP के पूर्व मंत्री Laxmikant Sharma का Corona से निधन, व्यापम घोटाले में आया था नाम

MP Unlock : 1 जून से अनलॉक होगा मध्य प्रदेश, नई गाइडलाइन के अनुसार इन्हें मिली छूट और इन पर रहेगी पाबंदी

भोपाल | MP Unlock: मध्यप्रदेश में लोगों के लिए बहुत ही सुखद खबर है. मध्यप्रदेश में 1 जून से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हो रही है. काफी लंबे समय से कोरोना संक्रमण (COVID-19) के कारण बंद पड़ा राज्य फिर से अनलाॅक (Unlock) हो जाएगा और धीरे-धीरे सबकुछ सामान्य हो सकेगा. हालांकि शुरूआत में कुछ पाबंदिया जरूर रहेगी. राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने कहा है कि, यदि कहीं भी संक्रमण बढ़ता है, तो प्रतिबंध फिर से लागू किए जाएंगे. सरकार ने अनलॉक की नई गाइडलाइन (MP Unlock Guidelines) सभी जिलों की क्राइसिस मैनेजमेंट समूहों को भेज दी है. इसके मुताबिक प्रदेश में प्रत्येक शनिवार रात 10 से सोमवार सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू रहेगा. ये भी पढ़ें:- Corona Update: एक्टिव केसेज 30 फीसदी घटे, 10 दिन में नौ लाख से ज्यादा कमी नई गाइडलाइन के अनुसार इन्हें मिली छूट (Unlock Guidelines in MP) – किराना दुकानें, राशन दुकानें, फल व सब्जी, डेयरी व दूध केंद्र, आटा चक्की, केमिस्ट, पशु आहार दुकानें पूरे दिन खुलेंगी. – मोहल्ले, कॉलोनियों व गांव में सिंगल दुकानें पूरे समय खुल सकेंगी. – कोल्ड स्टोरेज व वेयर हाउसिंग की सर्विस को अनुमति रहेगी. – मेंटेनेंस सर्विस इलेक्ट्रीशियन, प्लंबर, कारपेंटर, मोटर मैकेनिक, आईटी सर्विस… Continue reading MP Unlock : 1 जून से अनलॉक होगा मध्य प्रदेश, नई गाइडलाइन के अनुसार इन्हें मिली छूट और इन पर रहेगी पाबंदी

MP : पूर्व सीएम Kamal Nath पर केस दर्ज, बोले- मैं किसी FIR से डरने वाला नहीं

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ (Kamal Nath) के खिलाफ कथित तौर पर कोरोना संक्रमण (COVID-19) को लेकर भ्रामक जानकारी फैलाने के मामले में भोपाल में केस दर्ज किया गया है. कमलनाथ के कोरोना से मौत और इंडियन वेरिएंट (Indian Variant of Covid-19) को लेकर दिए गए बयान पर BJP की शि कायत के बाद क्राइम ब्रांच (Crime Branch ) में उनके खिलाफ धारा 188 और 54 के तहत केस दर्ज किया गया है. पूर्व सीएम कमलनाथ ने इस बयान पर पर विवाद होने पर कहा कि, मैं किसी एफआइआर (FIR) से डरने वाला नहीं हूं. मैं देशवासियों को वास्तविकता बता रहा हूं तो गलत क्या किया. ये भी पढ़ें:-Rajasthan COVID Update: 24 घंटे में 113 मरीजों की मौत, सामने आए 6521 नए संक्रमित, 8 जून तक बढ़ाया गया Lockdown पूर्व सीएम ने ये कहा पूर्व सीएम कमलनाथ ने कहा था कि, आज ब्लैक फंगस (Black Fungus) आ गया, मैंने पढ़ा कि व्हाइट फंगस भी आ रहा है. यह बढ़ता ही जा रहा है और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) संतुष्ट हैं. यह गांव-गांव में फैल रहा है. पहले यह चीन के कोरोना के नाम से शुरू हुआ अब यह इंडियन वेरिएंट… Continue reading MP : पूर्व सीएम Kamal Nath पर केस दर्ज, बोले- मैं किसी FIR से डरने वाला नहीं

MP: Covid 19 के बीच महंगाई की मार, यात्री बसों के किराए में 75% तक बढ़ोतरी

भोपाल। कोरोना संक्रमण (Covid 19) के बीच मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह चैहान  (Shivraj Singh Chouhan) सरकार ने आम जनता को एक बड़ा झटका दिया है. सरकार ने प्राइवेट बसों का किराया 25 प्रतिशत से 75 प्रतिशत तक बढ़ा दिया है. परिवहन विभाग ने इसका नोटिफिकेशन जारी करते हुए कहा कि बस का कम से कम किराया 7 रुपए तय किया गया है. सामान्य तौर पर 1.25 रुपए प्रति किलोमीटर की दर से किराया तय होगा. इसके बाद पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) ने शिवराज सरकार पर निशाना साधा है. बता दें कि पहले सरकार ने 28 मई 2018 को बस का किराया 1 रुपए प्रति किलोमीटर तय किया था। यह भी पढ़ें:- Supreme Court ने केंद्र सरकार को नोटिस भेज पूछा, कोरोना को लेकर क्या है ’’नेशनल प्लान’’ परिवहन विभाग के नोटिफिकेशन के अनुसार, यात्रियों को डीलक्स स्लीपर, डीलक्स और सुपर लग्जरी कोच के रात्रि प्रभार से छूट दी गई है. रात्रि प्रभार सिर्फ सामान्य बस ऑपरेटर ही ले सकेंगे. नोटिफिकेशन के अनुसार, सामान्य बस में रात्रि सेवा 10 प्रतिश त, डीलक्स बस में 25 प्रतिशत, स्लीपर कोच में 40 प्रतिशत, डीलक्स बस में 50 प्रतिशत और सुपर लग्जरी कोच के किराये में 75 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गई है. यह भी… Continue reading MP: Covid 19 के बीच महंगाई की मार, यात्री बसों के किराए में 75% तक बढ़ोतरी

सरकारी नौकरी में भेद-भाव क्यों ?

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने घोषणा की है कि उनके प्रदेश में अब नौकरियां मध्यप्रदेश के लोगों को ही दी जाएंगी। मध्यप्रदेश की नौकरियां अन्य प्रदेशों के लोगों को नहीं हथियाने दी जाएंगी। शिवराज चौहान की यह घोषणा स्वाभाविक है।

क्षेत्रवाद की नई होड़ शुरू होगी

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऐलान किया है कि उनकी सरकार ऐसा कानून लाने जा रही है, जिसके जरिए राज्य की सरकारी नौकरियां मध्य प्रदेश के युवाओं को ही मिलेंगी। इस तरह की घोषणा करने वाला मध्य प्रदेश देश का संभवतः पहला राज्य बन गया है।

और लोड करें