स्वदेशी उत्पादों पर गर्व करने की सलाह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पानी की कमी को एक बड़ी चुनौती बताते हुए कहा है कि इसके समाधान के लिए सामूहिक प्रयास की जरूरत है इसलिए जल संचयन के सरकारी अभियान से सबका जुड़ना जरूरी है।

दिल्ली सरकार ने किसानों के लिए कराई पानी की व्यवस्था, सिसोदिया पहुंचे गाजीपुर बॉर्डर

गाजीपुर बॉर्डर पर आंदोलनकारी किसानों के लिए शुक्रवार एक नई सुबह लेकर आया। किसानों से मिलने और उनके समर्थन में खड़े होने के लिए राजनीतिक पार्टियों में होड़ लग गई।

विंध्‍य में पेयजल परियोजना का शिलान्‍यास

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जल जीवन मिशन के तहत घर-घर पाइप से पानी पहुंचने की वजह से माताओं-बहनों का जीवन आसान हो रहा है।

चेक डैम से बदली बुंदेलखंड के किसानों की जिंदगी

बुंदेलखंड पर इंद्रदेव की मेहरबानी पूर्वांचल के तराई क्षेत्र जितनी तो नहीं रहती, पर ऐसा भी नहीं कि वह बुंदेलखंड से बिल्कुल ही नाराज हो।

प्रधानमंत्री की हवा से पानी बनाने का राहुल ने बनाया मजाक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बीच विज्ञान के सवाल को लेकर तकरार जारी है। यह तकरार तब शुरू हुई जब राहुल ने प्रधानमंत्री मोदी ने एक वैश्विक पवन ऊर्जा के सीईओ

गांव में पानी लाने के लिए आदमी ने खोदी 5 किमी लंबी नहर

यदि व्यक्ति ठान ले तो वह अकेला भी बड़े से बड़ा काम कर सकता है, इसका एक बढ़िया उदाहरण बिहार में सामने आया है। यहां के गया जिले के एक निवासी ने अपने गांव के खेतों में सिंचाई के लिए पानी लाने के लिए 5 किलोमीटर लंबी नहर खोद डाली है

दिल्ली में भारी बारिश, निचले इलाकों में पानी भरा

मानसून की भारी बारिश और तेज हवाओं ने आज राष्ट्रीय राजधानी और पड़ोसी क्षेत्रों में जमकर प्रभाव दिखाया। इससे निचले इलाकों में काफी पानी भर गया।

बुंदेलखंड: गांव और खेत में पानी रोकने की जुगत

देश और दुनिया में बुंदेलखंड की पहचान सूखा, गरीबी, पलायन और बेरोजगारी के कारण है, मगर अब यहां के लोग हालात बदलना चाहते हैं। इसके लिए सबसे

राजस्थान के 3 विधायकों ने पंक्चर किया पायलट का प्लान

राजस्थान में जारी राजनीतिक ड्रामे के बीच कांग्रेस के तीन विधायक इस पूरे मामले के केंद्र में आ गए हैं, जिन्होंने अंतिम क्षण में अपनी निष्ठा बदलकर सचिन पायल के उन मंसूबों पर पानी फेर दिया

कोरोना नियंत्रण में लगी है सभी एजेंसिया : केजरीवाल

दिल्ली में आज तड़के कई क्षेत्रों में हुई भारी बारिश और नई दिल्ली में मिंटो ब्रिज पुल के नीचे पानी भर जाने से एक वाहन चालक की उसमें फंसकर मौत हो जाने की घटना पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस वर्ष सभी एजेंसियां कोरोना नियंत्रण में लगी हुई थी

हाथ धोएं लेकिन टोंटी बंद कर दें: लिएंडर पेस

कोरोनावायरस के बढ़ते प्रभाव ने एक ओर जहां लोगों को परेशान कर रखा है वहीं भारत के स्टार टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस ने लोगों से शांत रहने और स्वास्थ्य मंत्रालय तथा विश्व स्वास्थ्य संगठन

विश्व की सबसे अच्छी राजधानी बनाएंगे दिल्ली को : अमित शाह

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली को स्वच्छ हवा एवं पानी तथा हर गरीब को घर दे कर विश्व की सबसे अच्छी राजधानी बनाने का वादा आज दोहराया

जब तक मैं हूं बिजली, पानी, स्वास्थ्य, शिक्षा व तीर्थ मुफ्त रहेंगे : केजरीवाल 

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने छोटी राजनीतिक यात्रा में कई उतार-चढ़ाव देखें हैं। बीते पांच साल में उन्हें आंदोलनकारी, अराजकतावादी और यहां तक की आतंकवाद कहा गया लेकिन इन सबसे बेखबर केजरीवाल अपनी सरकार के साथ काम पर लगे रहे और अब वह एक बार फिर चुनाव मैदान में हैं। राजधानी में सिर्फ दो दिनों बाद मतदान होना है। जुझारू केजरीवाल ने कहा कि उनका मानना है कि हिंदू बनाम मुसलमान की विभाजनकारी राजनीति के बजाय काम की राजनीति का समय आ गया है। यहां साक्षात्कार के कुछ अंश दिए जा रहे हैं। प्रश्न : भाजपा का कहना है कि सत्ता में वापस आने के बाद ‘आप’ कुछ महीनों के लिए ही मुफ्त पानी और बिजली मुहैया कराएगी? उत्तर : जब तक केजरीवाल यहां है, तब तक यह सब मुफ्त रहेगा। यह हमारे घोषणापत्र में है और मैं आपको अपनी गारंटी देता हूं। पानी, बिजली, अस्पताल, स्कूल, महिलाओं के लिए यात्रा, वरिष्ठ नागरिकों के लिए तीर्थयात्रा, हमारी सरकार के सत्ता में रहने तक सभी मुफ्त रहेंगे। हमारे लिए कोई वित्तीय बोझ नहीं है। बजट में लाभ दिख रहा है, जबकि पूर्व में शीलाजी (पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित) के समय में यह घाटे में रहा करता था। कर… Continue reading जब तक मैं हूं बिजली, पानी, स्वास्थ्य, शिक्षा व तीर्थ मुफ्त रहेंगे : केजरीवाल 

बुंदेलखंड में कठपुतलियां बता रहीं ‘पानी की कहानी’

देश में बुंदेलखंड की पहचान समस्याग्रस्त इलाके की बन चुकी है, सारी समस्याओं की जड़ ‘पानी’ है। यही कारण है कि इस इलाके में जलसंकट के निदान के लिए कई अभियान चले, मगर तस्वीर नहीं बदली।

जल को संविधान की समवर्ती सूची में शामिल करने की मांग

देश मे जल संकट और राष्ट्रीय सिंचाई परियोजनाओं को पूरा होने में हो रहे विलम्ब को देखते हुए राज्यसभा में जल को संविधान की समवर्ती सूची में शामिल करने की मांग की गई।

और लोड करें