आपदाओं से त्रस्त दुनिया

संयुक्त राष्ट्र एक वैश्विक संस्था के रूप में दुनिया पर मंडरा रहे खतरों के बारे में…

निजीकरण रोक पाएंगे कर्मचारी?

गोलाबारूद कंपनियों के निजीकरण के मामले में सरकार को फिलहाल पुनर्विचार के लिए तैयार होना पड़ा…

यही तो एक रास्ता है!

असम में जब विधान सभा चुनाव में एक साल से भी कम समय बचा है, तो…

अपने हित ही सर्वोपरि

लगता नहीं है कि हाउदी मोदी और नमस्ते ट्रंप जैसे कार्यकर्मों से वर्तमान चुनाव में राष्ट्रपति…

और कितनी बढ़ेगी असहशीलता?

इस वक्त भारत का क्या हाल हो गया है, ये घटना उसकी एक मिसाल है। यहां…

लड़कियों की लिए मुश्किल

सोशल मीडिया स्त्रियों के लिए एक प्रतिकूल जगह है, ऐसी शिकायतें पहले भी आई थीं। अब…

पीड़ितों की सुनेगी सरकार?

भारत में एक बड़ी आबादी के साहूकारों के चक्कर में फिर फंस जाने का खतरा मंडरा…

एक ठोस कूटनीतिक पहल

गुजरे हफ्ते ये अहम बात हुई कि भारतीय विदेश सचिव हर्षवर्धन शृंगला और थल सेना प्रमुख…

ऐसे लोकपाल का क्या लाभ?

लोकपाल और लोकायुक्त की स्थापना को लेकर तकरीबन दस साल पहले हुआ आंदोलन अब तक भूला…

कोरोना की ऐसी मार!

आज से छह महीने पहले इसका अंदाजा लगाना भी मुश्किल था कि कोरोना की ऐसी भीषण…

मानवाधिकारों के पक्ष में

गुवाहाटी हाई कोर्ट ने पिछले दिनों मानवाधिकारों के पक्ष में एक अहम फैसला दिया। ये निर्णय…

बेलगाम होती गैर-बराबरी

दुनिया में आर्थिक गैर-बराबरी का हाल यह है कि संकट का समय भी धनवान लोगों के…

Amazon Prime Day Sale 6th - 7th Aug