kishori-yojna
भारत-अमेरिका में क्वाड पर ठप्पा

प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति बाइडेन ने रणनीतिक साझेदारी और व्यापार व निवेश भागीदारी पर भी जोर दिया।

सुरक्षा परिषद में भारत की हो स्थायी सदस्यता

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में वर्तमान में पांच स्थायी और 10 ऐसे अस्थायी सदस्य हैं, जिन्हें महासभा द्वारा दो साल के कार्यकाल के लिए निर्वाचित किया जाता है।

हिंद-प्रशांत क्षेत्र को 7.9 करोड़ टीको की खुराक

विश्व को कोविड-19 के टीकों की 1.2 अरब से अधिक खुराक दान करने का संकल्प लेने वाले चार देशों के समूह ‘क्वाड’ ने हिंद-प्रशांत क्षेत्र में करीब 7.9 करोड़ खुराक की आपूर्ति की है।

राहुल ने मोदी पर साधा निशाना

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कटाक्ष करते हुए पूछा कि क्या वह लोकतंत्र और संस्थानों की रक्षा के बारे में अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस द्वारा की गई टिप्पणी को स

भारत-अमेरिका सहयोग पर ‘गर्व’

जॉन्स हॉपकिंस विश्वविद्यालय के आंकड़ों के अनुसार कोरोना वायरस महामारी से अमेरिका में अब तक 42,853,604 लोग संक्रमित हुए हैं और 687,084 लोगों की मौत हुई है।

देवगौड़ा जैसी बाइडेन की कहानियां!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका के दौरे पर जा रहे हैं, जहां राष्ट्रपति जो बाइडेन के साथ उनकी पहली आमने-सामने की मुलाकात होगी।

मोदी-बाइडेन की 24 सितंबर को पहली मुलाकात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की पहली आमने-सामने की मुलाकात 24 सितंबर को वाशिंगटन में होगी।

अमेरिकी रक्षा मंत्री से राजनाथ ने की बात

अफगानिस्तान में चल रहे संकट के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अमेरिकी रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन से बात की। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसी हफ्ते अमेरिका की यात्रा पर जाने वाले हैं।

बाइडेन और शी में सात महीने बाद बात

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने गुरुवार को सात महीने में पहली बार चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग से बातचीत की।

क्या भारत में ऐसा होगा?

बाइडेन की ये बातें गौरतलब हैं- ‘पूंजीवाद बिना स्वस्थ प्रतिस्पर्धा के पूंजीवाद नहीं रह जाता, वह शोषण बन जाता है।’ इस पैमाने पर अपने देश की हालत से करें। क्या यहां ऐसा नहीं लगता कि वर्तमान भारत सरकार भारतीय पूंजीवाद को शोषण में बदलने में अपनी भूमिका निभा रही है। joe biden Capitalism अमेरिका को पूंजीवाद का गढ़ माना जाता है। वह ऐसा गढ़ कैसे बना, अगर इसे जानना चाहें, तो दो रोज पहले राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कदम उठाया, उस पर गौर करना चाहिए। बाइडेन ( joe biden Capitalism ) ने उस मौके पर यह टूक कहा कि अमेरिकी पूंजीवाद की ताकत उसका खुलापन और प्रतिस्पर्धा है। तो एक महत्त्वपूर्ण कार्यकारी आदेश के जरिए उन्होंने अर्थव्यवस्था में एकाधिकार (मोनोपॉली) को खत्म करने और प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देने के उपाय घोषित किए। इससे उन्होंने हाल के वर्षों में बढ़ी इस शिकायत का समाधान ढूंढा है कि अमेरिकी पूंजीवाद खास कर हाई टेक कंपनी की मोनोपॉली में तब्दील हो गया है। माना गया है कि आर्थिक और आविष्कार संबंधी क्षेत्रों में अमेरिका की धार कमजोर होने के पीछे यही असली वजह है। यह भी पढ़ें: रविशंकर प्रसाद को हटाए जाने का रहस्य! बाइडेन की ये बातें गौरतलब हैं- ‘पूंजीवाद बिना स्वस्थ… Continue reading क्या भारत में ऐसा होगा?

रूस के राष्ट्रपति पुतिन का बड़ा बयान:  ट्रंप को बताया टैलेंटेड तो बाइडन के लिए कहा उनसे कोई उम्मीद करना बेकार…

नई दिल्ली । अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की तारीफ में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने तारीफों के कसीदे गढ़े हैं. लेकिन तारीफ करते हुए पुतिन अमेरिका के वर्तमान राष्ट्रपति जो बाइडन की कड़ी निंदा कर दी. पुतिन ने धर्म की प्रशंसा करते हुए कहा कि वह एक असाधारण व्यक्ति हैं जिसके लिए सब कुछ आसान है. वही मौजूदा राष्ट्रपति के बारे में बोलते हुए पुतिन ने कहा कि वह एक कैरियर मैन है और उनसे कुछ ज्यादा उम्मीद नहीं करते हैं. रूस के राष्ट्रपति के इस बयान के बाद से अमेरिका और रूस के रिश्ते में कड़वाहट आने की उम्मीद की जा रही है. रूस के राष्ट्रपति का यह बयान तेजी से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रहा है. अमेरिकी नागरिकों को भी रूस के राष्ट्रपति द्वारा दिया गया यह बयान किसी भी सूरत में पसंद आने वाला नहीं है. असाधारण प्रतिभा के धनी हैं ट्रंप रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने ये बयान अमेरिका न्यूज़ नेटवर्क के साथ दिए गए पहले इंटरव्यू में कहा. इस न्यूज़ वक्त लेस्टर होल्ड का एक हिस्सा कल दुनियाभर के सामने भी आ गया. कार्यक्रम के इस भाग में राष्ट्रपति पुतिन डोनाल्ड ट्रंप को एक असाधारण प्रतिभा के धनी व्यक्ति बता… Continue reading रूस के राष्ट्रपति पुतिन का बड़ा बयान: ट्रंप को बताया टैलेंटेड तो बाइडन के लिए कहा उनसे कोई उम्मीद करना बेकार…

Corona Relief: भारत को किया जा रहे मदद के लिए अमेरिकी सांसदों ने की बाइडन प्रशासन की प्रशंसा

New Delhi: भारत में कोरोना के बढ़ते मामले परेशानी की सबब बना हुए हैं. देश में आई इस आपदा से निपटने के लिए कई देश भारत के साथ खड़े दिखाई दिये हैं. भारत की मदद के लिए आगे आए देशों में अमेरिका भी शामिल है. भारत में बढ़ते कोरोना के संक्रमण को देखते हुए अमेरिका ने हर संभव मदद की भरोसा दिया है. अमेरिका से आने वाली मदद की पहली खेप कल भारत पहुंच भी गई. बता दें कि इस ममद के लिए अमेरिका की हर तरफ प्रसंसा हो रही है. अमेरिकी सांसदों ने भी भारत को 10 करोड़ डॉलर की मदद देने के लिए बाइडन प्रशासन की प्रशंसा की है.  सीनेट के सदस्य कोरी बूकर ने ट्वीट किया, “हम यह नहीं भूल सकते कि यह एक वैश्विक महामारी है.  हमें दूसरे देशों की कोविड-19 से लड़ने के लिए जरूरी टीके एवं आपूर्ति प्राप्त करने में मदद करनी होगी. यह राष्ट्रपति बाइडन का सही कदम है क्योंकि भारत (वायरस के) अनियंत्रित प्रसार और निराश करने वाली कमियों से जूझ रहा है. भारतीय मूल की अमेरिकी सांसद प्रमिला जयपाल ने कही ये बात भारतीय मूल की अमेरिकी सांसद प्रमिला जयपाल ने कहा कि यह वैश्विक महामारी है और जब तक इस… Continue reading Corona Relief: भारत को किया जा रहे मदद के लिए अमेरिकी सांसदों ने की बाइडन प्रशासन की प्रशंसा

Relief: भारत की मदद के लिए मेडिकल इक्विपमेंट भेजेगा दक्षिण कोरिया, अमेरिका ने भी कही मदद की बात

New Delhi:  दक्षिण कोरिया ने कहा है कि वह भारत की मदद के लिए ऑक्सीजन संकेंद्रक, कोविड-19 के उपचार में इस्तेमाल होने वाली किट और अन्य मेडिकल इक्विपमेंट की आपूर्ति करेगा. दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के तेजी से प्रसार के लिहाज से भारत सबसे बुरी तरह प्रभावित है. बुधवार को दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस के 775 नए मामले सामने आये जिससे देश में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,20,673 हो गयी है और संक्रमण से 1,821 लोगों की मौत हुई है.दक्षिण कोरिया के स्वास्थ्य अधिकारी यून ताएहो ने बुधवार को कहा कि सरकार ने भारत से दक्षिण कोरिया के नागरिकों को वापस लाने के लिए कुछ उड़ानों की अनुमति दी है. उन्होंने बताया कि भारत से लौटने वाले नागरिकों को तीन बार संक्रमण की जांच करानी होगी और उन्हें पृथक-वास में रहना होगा. यून ने हालांकि दक्षिण कोरिया की तरफ से कितनी राहत सामग्री भेजी जायेगी, इस बारे में विस्तार से नहीं बताया. दक्षिण कोरिया के विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को कहा था कि वह भारत को जरूरी मात्रा में चिकित्सकीय सामान की आपूर्ति पर‘विचार कर रहा है. भारत के लिए जरूरी मदद की पूरी श्रृंखला तत्काल भेज रहे हैं – राष्ट्रपति बाइडन इधर, अमेरिका के राष्ट्रपति जो… Continue reading Relief: भारत की मदद के लिए मेडिकल इक्विपमेंट भेजेगा दक्षिण कोरिया, अमेरिका ने भी कही मदद की बात

बाइडेन का भारतवंशियों को सलाम!

मंगल ग्रह पर मार्स रोवर पर्सिवियरेंस की सॉफ्ट लैंडिंग में अहम रोल निभाने वाली नासा की इंजीनियर स्वाति मोहन की तारीफ करते हुए बाइडेन ने कहा है कि अब भारतीय-अमेरिकी लोग अमेरिका की कमान संभाल रहे हैं।

वाह! बाइडेन, बहादुर म्यांमारी यूथ  व मंगल ग्रह से आवाज!

भारत के खटराग, झूठ, बरबादी ने अपने दिमाग को रिटायर सा कर दिया है। न देशी टीवी देखता हूं और न देशी हेडलाइन, घटनाओं में दिमाग खपाता हूं।

और लोड करें