SCO में बोले PM Modi, कहा- कट्टरटा बड़ी चुनौती , उदाहरण अफगानिस्तान में देखने को मिला…

अफगानिस्तान के हाल में हुए घटनाक्रम ने इस बात को साफ कर दिया है कि कट्टरता किस तरह नुकसान पहुंचा सकती है….

खूब लड़ी अफगानिस्तान की ‘मर्दानी’ : पहली महिला गवर्नर को तालिबानियों ने पकड़ा, आखिरी वक्त तक बंदूक…

बता दें कि अफगानिस्तान की ‘मर्दानी’ कहीं जा रहीं मेयर सलीमा मजारी को भी तालिबानियों ने पकड़ लिया है.  सलीमा अफगानिस्तान की पहली महिला गवर्नर हैं जिन्होंने काफी समय से तालिबानियों के खिलाफ अपनी आवाज बु

कट्टरपंथी रईसी बने ईरान के राष्ट्रपति

तेहरान। ईरान में शुक्रवार को हुए राष्ट्रपति चुनाव के नतीजे शनिवार को आए। कट्‌टरपंथी माने जाने वाले 60 साल के इब्राहिम रईसी चुनाव जीत गए हैं। रईसी इस समय ईरान की सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस हैं। रईसी के अलावा चुनाव मैदान में उतरे उम्मीदवारों ने उन्हें जीत की बधाई दी है। इब्राहिम रईसी को ईरान के सुप्रीम लीडर अयातुल्लाह अली खुमैनी का समर्थन हासिल है। चुनाव से पहले खुमैनी ने कहा था- अब हम पूर्व को प्राथमिकता देंगे। जबकि पारंपरिक तौर पर ईरान की विदेश नीति न पूर्व और न पश्चिम की रही है। ईरान में 1988 में पांच हजार राजनीतिक कैदियों को सामूहिक फांसी दी गई थी। माना जाता है कि इस सामूहिक फांसी में रईसी की भूमिका रही थी। हालांकि, रईसी इस मामले में बयान देने से बचते रहे हैं। अमेरिका ने भी इस मामले में रईसी की निंदा की थी। बहरहाल, शुक्रवार को हुए मतदान में शाम पांच बजे तक 23 फीसदी यानी 1.4 करोड़ लोगों ने वोट किया था। ईरान के राष्ट्रपति चुनाव में इस बार चार उम्मीदवार मैदान में थे। चुनाव से पहले खुमैनी के नेतृत्व वाले गार्जियन कौंसिल ने सैकड़ों नेताओं को चुनाव लड़ने से अयोग्य करार दे दिया था। ये नेता मौजूदा… Continue reading कट्टरपंथी रईसी बने ईरान के राष्ट्रपति

ईरान में चीन की चुनौती

ईरान के साथ चीन ने इतना बड़ा सौदा कर लिया है, जिसकी भारत कल्पना भी नहीं कर सकता। 400 बिलियन डॉलर चीन खर्च करेगा, ईरान में ! काहे के लिए ? सामरिक सहयोग के लिए।

मायूसी अमेरिका को क्यों?

बाइडेन प्रशासन ईरान पर सारी शर्तें थोपना चाहता है। तो इस पर ईरान की प्रतिक्रिया कैसे अनुचित मानी जाएगी। बाइडेन प्रशासन अगर ट्रंप के दौर के तनावों को घटना चाहता है, तो उसे भी सकारात्मक रुख अपनाना चाहिए।

इस्लामी देश और भारत

प्रमुख अरब देशों के साथ भारत के संबंध जितने घनिष्ट आजकल हो रहे हैं, उतने वे पहले कभी नहीं हुए।

ईरान में 2 सप्ताह के लिए लॉकडाउन

ईरान में ताजा कोरोनोवायरस मामलों और मौतों की संख्या में रिकॉर्ड वृद्धि के कारण, देश में शनिवार से दो सप्ताह के लिए लॉकडाउन लग रहा है।

ईरान बना सकता है अमेरिका पर हमले की योजना: ट्रम्प

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने आशंका जतायी है कि ईरान अमेरिकी ड्रोन हमले में अपनी सेना के मेजर जनरल कासिम सुलेमानी की मौत का बदला लेने के लिए अमेरिका में हत्या या अन्य हमलों की योजना बना सकता है

चुनाव से पहले डरा अमेरिका

अमेरिका में 2016 के चुनाव में रूसी दखल इतना चर्चित हुआ कि उसकी जांच हुई। जांच रिपोर्ट से इस बात की पुष्टि हुई कि रूस ने चुनाव नतीजों को प्रभावित किया। अब एक बार फिर वैसी ही आशंकाएं घर गई हैं।

ईरान, रूस मिलकर करेंगे कोविड-19 वैक्सीन का उत्पादन

ईरान और रूस मिलकर इस्लामिक गणराज्य में कोविड-19 वैक्सीन का उत्पादन करेंगे। इस दौरान ईरान में मामलों की संख्या शनिवार को बढ़कर 384,666 हो गई है। इस बीच इराक

ईरान दुनिया में आतंक का प्रमुख प्रायोजक: पोम्पियो

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने ईरान को ‘दुनिया में आतंक का प्रमुख प्रायोजक देश’ बताते हुए 13 ईरानी नागरिकों पर ‘ईरानी शासन की ओर से मानवाधिकारों के अशिष्ट उल्लंघन’ के लिए वीजा प्रतिबंधों की घोषणा की है।

ईरान की चिंता करे भारत

पश्चिम एशिया के देशों में ईरान भारत का पुराना दोस्त देश रहा है। उसने तेल खरीद में भारत को कई किस्म की रियायतें दी हुई थीं पर अमेरिका की ओर से लगाई गई पाबंदियों की वजह से भारत ने डर कर पांव पीछे खींच लिए।

ईरान ने चाबहार प्रोजेक्ट से भारत को हटाया

ईरान ने भारत को चाबहार रेल परियोजना से बाहर कर दिया है। ईरान ने कहा है कि समझौते के चार साल बीत जाने के बाद भी भारत इस परियोजना के लिए फंड नहीं दे रहा है, इसलिए वह अब खुद ही चाबहार रेल परियोजना को पूरा करेगा।

ईरान को चीनी प्रलोभन

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाड ट्रंप की कृपा कुछ ऐसी है, जो ईरान को चीन की गोद में बिठा देगी। ‘न्यूयार्क टाइम्स’ ने एक 18 पृष्ठ का दस्तावेज उजागर किया है, जिससे पता चलता है कि ईरान में चीन अगले 25 साल में 400 बिलियन डाॅलर्स का विनियोग करेगा।

ईरानः महिलाओं से जारी बेरहमी

सिर्फ इसी महीने ईरान से तीन महिलाओं की बेरहमी से हत्या की खबर आई है। गौरतलब है कि इन सभी मामलों में हत्यारे पिता, पति या भाई जैसे करीबी लोग थे।

और लोड करें