यूक्रेन ने रूसी सेना को पीछे धकेला

रूस पर यूक्रेन के हमले के 83 दिन हो गए हैं और अब यूक्रेन की सेना ने दावा किया है कि उसने रूसी सेना को पीछे धकेल दिया है।

प्रतिबंधों का उलटा असर?

अमेरिकी वेबसाइट ब्लूमबर्ग ने बताया है कि रूसी मुद्रा रुबल इस साल अब तक दुनिया में सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाली मुद्रा साबित हुई है।

रूस का मिसाइल हमला जारी

यूक्रेन पर रूसी हमले के 78 दिन हो गई हैं इसके बावजूद जंग धीमी पड़ने की बजाय तेज हो गई है। रूस ने यूक्रेन के अलग अलग शहरों पर मिसाइल से हमला तेज कर दिया है।

पुतिन ने कहा यूक्रेन में जीतेगे

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रूस के विजय दिवस के मौके पर दावा किया कि दूसरे विश्वयुद्ध की तरह रूस यूक्रेन में भी जीतेगा।

यूक्रेनः भारत पहल क्यों न करे?

हर नेता ने कोशिश की कि भारत रूस की भर्त्सना करे लेकिन भारत का रवैया यह रहा कि भर्त्सना से क्या फायदा होगा? क्या युद्ध बंद हो जाएगा?

रूसी विजय दिवस यूक्रेन में नहीं मनेगा

रूस के विजय दिवस यानी नौ मई से पहले तनाव बढ़ रहा है और कई तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं।

अमेरिका दे रहा है यूक्रेन को खुफिया जानकारी

यूक्रेन पर रूस के हमले के 69 दिन हो गए हैं और इस दौरान यूक्रेन के पूर्वी हिस्से में जंग तेज हो गई है।

रूस-यूक्रेन का कांटा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जर्मनी यात्रा के दौरान जर्मन प्रेस के मन उनसे पूछने के लिए कई सवाल रहे होंगे।

रूस के खिलाफ यूक्रेन को बड़ी कामयाबी

यूक्रेन पर रूस के हमले के 68 दिन हो गए हैं। युद्ध के 68वें दिन दोनों देशों ने एक दूसरे पर बड़ा हमला करने का दावा किया है।

अमेरिकी मदद से मजबूत हुआ यूक्रेन

यूक्रेन की सेना ने दावा किया है कि देश के पूर्वी हिस्से में डोनबास पर रूस का हमला सफल नहीं हो पाया है।

यूक्रेन को रूसी हमले के बचाएगा अमेरिका

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा है कि उनका देश यूक्रेन की मदद में रूस से लड़ने नहीं जा रहा है लेकिन रूसी हमले से यूक्रेन को बचा रहा है।

पूर्वी यूक्रेन पर तेज हुआ हमला

क्षेत्र में चार दिन से भारी गोलीबारी हो रही है। गुतारेस और पुतिन ने मानवीय सहायता के प्रस्तावों पर चर्चा।

यूक्रेन को हथियार देगा जर्मनी

रूस की धमकियों की परवाह नहीं करते हुए जर्मनी यूक्रेन को 50 गेपर्ड टैंक देगा।

रूस ने शांति वार्ता का प्रस्ताव ठुकराया

रूस ने यूक्रेन के शहर मारियुपोल में जाकर शांति वार्ता करने के प्रस्ताव को ठुकरा दिया है। ध्यान रहे इससे पहले तुर्की के इस्तांबुल में शांति वार्ता के कई दौर हो चुके हैं।

सरकार ने चैनलों से कहा अली, बली ने करों!

सरकार ने समाचार चैनलों को सख्त परामर्श जारी किया, जिसमें उनसे संबद्ध कानूनों द्वारा निर्धारित कार्यक्रम संहिता का पालन करने के लिए कहा गया है।

और लोड करें