nayaindia Lok Sabha election 2024 दिग्गजों पर चुनाव लड़ने का दबाव
Columnist

दिग्गजों पर चुनाव लड़ने का दबाव

Share
Lok Sabha election 2024
Lok sabha election 2024

भोपाल। प्रदेश में पहले चरण में 6 सीटों पर मतदान होना है उन सीटों पर नामांकन पत्र दाखिल करने का सिलसिला शुरू हो गया है वहीं कांग्रेस में 18 प्रत्याशियों की सूची आज रात तक आने की संभावना है। जिस तरह से पार्टी के दिग्गज नेताओं पर चुनाव लड़ने का दबाव बनाया जा रहा है उससे सूची अब तक नहीं जारी हुई। अभी भी दिग्गज नेता चुनाव न लड़ना पड़े इसके प्रयास कर रहे हैं। अब देखना है कि पार्टी चुनाव लड़ने में सफल होती है या दिग्गज नेता चुनाव न लड़ने में सफल हो जाते हैं।

दरअसल, भाजपा ने जहां सभी 29 सीटों पर प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं वहीं कांग्रेस ने खजुराहो सीट समाजवादी पार्टी को समझौते के तहत दी है और 10 सीटों पर उम्मीदवार घोषित किए हैं लेकिन अभी भी 18 सीटों पर पार्टी के प्रत्याशी घोषित नहीं हो पाए। आज दिल्ली में कांग्रेस केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक है और जिसमें 16 प्रत्याशियों के नाम घोषित होने की संभावना है। सबसे ज्यादा मशक्कत इंदौर सीट पर हो रही है। पार्टी हाईकमान दिग्गज नेताओं को लोकसभा चुनाव के मैदान में उतरना चाहता है।

इस बीच नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंगार के बारे में कहां जा रहा है कि उन्होंने स्क्रीनिंग कमेटी के सामने अनौपचारिक चर्चा में यह प्रस्ताव रखा कि वे स्वयं धार लोकसभा से चुनाव लड़ने के पहले तैयार है बशर्ते पार्टी के दिग्गज नेता जिसमें प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी, इंदौर से पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, गुना से पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह, सतना से पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह, राजगढ़ से और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव को खंडवा या गुना में से किसी एक सीट पर मैदान में उतारा जाए।

कुल मिलाकर भाजपा ने जहां पार्टी प्रत्याशियों के नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने बुधवार को सीधी से लोकसभा के पार्टी प्रत्याशी डॉक्टर राजेश मिश्रा और शहडोल से भाजपा प्रत्याशी हिमाद्री सिंह का नामांकन पत्र दाखिल करवाया। इस दौरान उपमुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ला, कैबिनेट मंत्री प्रहलाद पटेल भी मौजूद रहे।

इस दौरान मुख्यमंत्री डॉक्टर मोहन यादव ने कांग्रेस पर जमकर हमला भी बोला। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने पदयात्रा निकाली जहां-जहां से यात्रा निकाली लोग कहते हैं कांग्रेस छोड़ो यात्रा थी। वह जहां-जहां गए वहां से लोग कांग्रेस छोड़ते चले गए जिस रास्ते से कांग्रेस के नेता गए उसे रास्ते में आगे आगे भाई साहब पीछे-पीछे फुल स्टॉप।

कांग्रेस ने खजुराहो सीट समाजवादी पार्टी के लिए समझौते में दे दी है और इस समय दो दर्जन से ज्यादा नेता लखनऊ में डेरा डाले हुए हैं। खजुराहो से टिकट लेने के लिए क्योंकि यहां से भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा चुनाव लड़ रहे हैं। इस कारण इस हाई प्रोफाइल सीट पर सभी चुनाव लड़ना चाह रहे हैं। यहां तक कि फिल्म अभिनेता अभिषेक बच्चन का भी नाम मीडिया में उछाला गया।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें