nayaindia Loksabha election 2024 भाजपा वोट परसेंटेज और कांग्रेस वोट के साथ नोट की चिंता में
Columnist

भाजपा वोट परसेंटेज और कांग्रेस वोट के साथ नोट की चिंता में

Share

भोपाल। प्रदेश में विधानसभा चुनाव संपन्न होने के बाद अब दोनों ही प्रमुख दल भाजपा और कांग्रेस लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुट गए हैं भाजपा सभी 29 सीटों को जीतने के साथ-साथ वोट परसेंटेज बढ़ाने के लिए प्रयासरत हो गई है वही प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस को जीतने लायक वोटो के साथ-साथ नोटों का भी इंतजाम करना है जिसके सहारे चुनाव लड़ाया जा सके।

दरअसल लोकसभा चुनाव 2024 के लिए पूरे देश के साथ-साथ प्रदेश में भी राजनीतिक दलों ने तैयारियां तेज कर दी हैं सत्ताधारी दल भाजपा ने जिस तरह से विधानसभा चुनाव के पहले वोट प्रतिशत बढ़ाने का प्रयास किया था और चौंकाने वाले उम्मीदवार मैदान में उतारे थे लगभग उसी तर्ज पर लोकसभा चुनाव की तैयारी भी तेज कर दी गई है 11 जनवरी को राजधानी भोपाल में चुनिंदा भाजपा नेताओं की बैठक होने जा रही है जिसमें चुनावी रणनीति का रोड मैप तैयार किया जाएगा पार्टी 10% अधिक वोट बढ़ाने का टारगेट लेकर आगे बढ़ सकती है 2019 के लोकसभा चुनाव में पार्टी को 58 फीस रिपोर्ट मिले थे और पार्टी ने प्रदेश की 29 में से 28 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की थी और इस बार पार्टी छिंदवाड़ा सहित सभी 29 सीटों को जीतना चाहती है इसके लिए अभी से बेहतर प्रत्याशियों की तलाश भी तेज कर दी गई है। जिस तरह से तीन केंद्रीय मंत्रियों सहित सात सांसदों को विधानसभा का चुनाव लड़वाया गया था लगभग उसी तर्ज पर राज्यसभा के सदस्यों को लोकसभा का चुनाव लड़वाया जा सकता है और कुछ ऐसे वरिष्ठ विधायक जिन्हें मंत्री नहीं बनाया गया है।

उन्हें भी लोकसभा में टिकट दिया जा सकता है संगठन की और ग्रुप की बैठक में इस पर रणनीति बनेगी वही मंत्रियों को भी प्रभार जिलों के प्रभार इस तरह से सोपे जाएंगे जिससे कि लोकसभा चुनाव के समीकरण साधे जा सके 16वीं विधानसभा के निर्वाचित सदस्यों के लिए दो दिवसीय प्रबोधन कार्यक्रम 9 और 10 जनवरी को विधानसभा भवन के मानसरोवर सभागार में आयोजित किया गया है जिसमें लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला मंगलवार को भोपाल आ रहे हैं विधानसभा अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर ने बिगर दिवस अपने दिल्ली प्रवास के दौरान लोकसभा स्पीकर ओम बिरला से भेंट कर उन्हें प्रबोधन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया था।

वहीं दूसरी ओर पिछले दो दिन से प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में कांग्रेस पार्टी की महत्वपूर्ण बैठकर चल रही है शनिवार की बैठक में कांग्रेस के हारे हुए उम्मीदवार शामिल हुए थे जिसमें अधिकांश ने अपनी हार के लिए उन कांग्रेसी नेताओं को जिम्मेदार बताया जिन्होंने टिकट न मिलने के बाद पार्टी प्रत्याशियों के खिलाफ काम किया पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी ने सभी सदस्यों से लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुटने के लिए कहा उन्होंने कहा कि लगभग 100 सीटों पर हमारे प्रत्याशी एक या दो प्रतिशत के मतों से हारे हैं जिसे हमें बढ़ाना है। उन्होंने पार्टी के पदाधिकारी के लिए पार्टी फंड जुटाने के लिए टारगेट भी तय किया है। साथ ही राहुल गांधी की 14 जनवरी से 20 मार्च तक निकलने वाली भारत जोड़ो ने न्याय यात्रा के संबंध में भी तैयारी करने को कहा प्रदेश में यह यात्रा मुरैना ग्वालियर शिवपुरी गुना राजगढ़ आगर मालवा उज्जैन रतलाम और झाबुआ जिलों से निकलेगी इस यात्रा को सफल बनाने के लिए सभी उम्मीदवारों को कम करना होगा अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव मध्य प्रदेश प्रभारी भंवर जितेंद्र सिंह प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी मध्य प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंगार उपनेत प्रतिपक्ष हेमंत कटारे 9 जनवरी से 12 जनवरी तक दतिया भिंड मुरैना श्योपुर शिवपुरी गुना और अशोकनगर जिले का दौरा करेंगे।

कुल मिलाकर प्रदेश में लोकसभा चुनाव 2024 की तैयारियां तेज हो गई हैं एक तरफ जहां चुनाव आयोग ने मतदाता सूची में नाम जुड़वाने की तारीख तय कर दी है वही प्रमुख दल भाजपा और कांग्रेस अभी से जमीनी जमत करने में जुट गए हैं भाजपा जहां एक बार फिर वोट प्रतिशत बढ़कर सभी 29 लोकसभा सीटों को जीतने की रणनीति पर काम शुरू कर रही है वहीं कांग्रेस वोट प्रतिशत बढ़ाने के साथ-साथ फंड इकट्ठा करने के लिए भी कसरत कर रही है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें