Covid के नए वेरिएंट ने ब्रिटेन में फैलाई दहशत, 24 घंटे में 223 लोगों की मौत

ब्रिटेन में मिले डेल्टा के नए वेरिएंट AY.4.2 को अभी खतरा नहीं माना जा रहा है, लेकिन अचानक से हुई मौतें और नए संक्रमितों में वृद्धि को देखते हुए इसे कम भी नहीं आंका गया है।

सर्टिफिकेट पर फोटो का विवाद

ब्रिटेन ने कहा है कि कोवीशील्ड वैक्सीन से उसे कोई समस्या नहीं है, बल्कि भारत में वैक्सीनेशन के बाद दी जा रही सर्टिफिकेट को लेकर समस्या है।

ब्रिटेन ने भारत के दबाव में Covishield को दी मान्यता, लेकिन कोविन सर्टिफिकेट को मंजूरी नहीं

भारत सरकार के दबाव के आगे ब्रिटेन की सरकार को झुकना पड़ा है और Britain ने भारत की कोविशील्ड वैक्सीन लगवाए लोगों को अपने यहां बिना क्वारंटीन के प्रवेश अनुमति (Britain Recognized Covishield) दे दी है।

सहयोगी को Kiss करने वाले ब्रि​टेन के स्वास्थ्य सचिव Matt Hancock को देना पड़ा Resign, पाकिस्तान मूल के जाविद ने ली जगह

Matt Hancock Kiss Video : लंदन | महिला सहयोगी के साथ किस करने के चलते टूटे कोरोना कायदों में ब्रिटेन के स्वास्थ्य सचिव मैट हैनकॉक को इस्तीफा देने पर मजबूर होना पड़ा है। उन्होंने शनिवार को इस्तीफा दे दिया। उन्होंने ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को लिखे पत्र में कोविड मार्गदर्शन का उल्लंघन करने की बात कहते हुए माफी मांगी है। I have resigned as Health Secretary pic.twitter.com/eyWi1AA19i — Matt Hancock (@MattHancock) June 26, 2021 हैनकॉक ने लिखा कि “हम उन लोगों के लिए ऋणी हैं जिन्होंने इस महामारी में इतना बलिदान दिया है। जबकि ईमानदार होने के बजाय हमने उन्हें निराश किया है जैसा कि मैंने मार्गदर्शन का उल्लंघन करके किया है।” “आखिरी चीज जो मैं चाहता हूं वह यह है कि मेरे निजी जीवन के लिए एक-दिमाग वाले फोकस से ध्यान भटकाना है जो हमें इस संकट से बाहर निकाल रहा है।” ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि उन्हें हैनकॉक का इस्तीफा मिला है। इस पर उन्हें खेद है, और उन्हें अपनी सेवा पर “बेहद गर्व” होना चाहिए। उनके डाउनिंग स्ट्रीट कार्यालय ने बाद में कहा कि महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने उनके प्रतिस्थापन के रूप में साजिद जाविद सांसद की नियुक्ति को मंजूरी दी है। हालांकि शुरू में बोरिस… Continue reading सहयोगी को Kiss करने वाले ब्रि​टेन के स्वास्थ्य सचिव Matt Hancock को देना पड़ा Resign, पाकिस्तान मूल के जाविद ने ली जगह

G7 Summit Infra Project : सपना कैसे होगा साकार?

चीन का मॉडल यह है कि ऋण चीन देता है, चीन की कंपनियां परियोजना पर काम करती हैं, जिनमें चीन में ही उत्पादित सामग्रियों का इस्तेमाल होता है। चीन ऐसा इसलिए कर पाया, क्योंकि वहां अर्थव्यवस्था में सरकार का काफी दखल है। जबकि जी-7 की अर्थव्यवस्था निजी क्षेत्र के हाथ में है। जी-7 ने अपनी हाल की शिखर बैठक में चीन की बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव परियोजना का जवाब उससे भी बेहतर इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट ( g7 summit infra project ) से देने का एलान किया। इसे बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड (बी3डब्लू) परियोजना नाम दिया गया है। जाहिर है, इसको लेकर दुनिया भर में भारी दिलचस्पी पैदा हुई है। लेकिन असल सवाल यह उठा है कि इस प्रोजेक्ट के लिए धन कौन देगा? चीन का मॉडल तो यह है कि ऋण चीन के ही बैंक देते हैं, चीन की कंपनियां परियोजना पर काम करती हैं, जिनमें ज्यादातर चीन में ही उत्पादित सामग्रियों का इस्तेमाल किया जाता है। इस तरह चीन ने अपने अंदरूनी विकास को दुनिया की एक बड़ी परियोजना से जोड़ दिया है। चीन ऐसा इसलिए कर पाया, क्योंकि वहां अर्थव्यवस्था में सरकार का काफी दखल है। पश्चिमी देशों में अर्थव्यवस्था मोटे तौर पर प्राइवेट सेक्टर के हाथ में है।… Continue reading G7 Summit Infra Project : सपना कैसे होगा साकार?

ब्रिटेन में एक डोज़ से होगा कोरोना का खात्मा, जॉनसन&जॉनसन के सिंगल डोज़ को मंजूरी

लंदन. यूनाइटेड किंगडम सरकार ने शुक्रवार यानी आज फार्मा कंपनी जॉनसन&जॉनसन की सिंगल शॉट वैक्सीन को मंजूरी दे दी है। स्वास्थ्य मंत्री मैट हैंकॉक ने कहा है-इस निर्णय से यूके के सफल कोरोना वैक्सीनेशन कार्यक्रम को और मजबूती मिलेगी। अब हमारे पास चार सुरक्षित वैक्सीन हैं जिनके जरिए लोगों का वैक्सीनेशन किया जाएगा. सरकार का मानना है कि आने वाले महीनों में सिंगल शॉट वैक्सीन की वजह से वैक्सिनेशन में बड़ा फर्क आएगा। इसे भी पढ़ें दुनिया के आयरमैन Elon Musk ने एक बार फिर टवीट कर बताई स्पेसशिप की महत्ता जॉनसन 72 % संक्रण रोकने में है कारगर ब्रिटेन ने इस वैक्सीन के 2 करोड़ डोज का ऑर्डर दिया है। अमेरिका में हुए ट्रायल के दौरान जॉनसन&जॉनसन की वैक्सीन को हल्के और गंभीर कोरोना संक्रमण को रोकने में 72 फीसदी कारगर पाया गया था। ब्रिटेन ने अब तक 6.2 करोड़ वैक्सीन डोज लगाए हैं। ज्यादातर वैक्सीन डोज ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका और फाइज़र की वैक्सीन के हैं। इसके अलावा मॉडर्ना की वैक्सीन को भी अनुमति दी जा चुकी है। जुलाई के अंत तक सभी लोग कोरोना की डोज़ प्राप्त कर लेंगे बता दें कि बीते कई महीने तक लगातार कम होते नए मामलों के बाद ब्रिटेन में अब एक बार फिर केस बढ़ने… Continue reading ब्रिटेन में एक डोज़ से होगा कोरोना का खात्मा, जॉनसन&जॉनसन के सिंगल डोज़ को मंजूरी

पश्चिम देशों से आ रही राहत की खबर :  अमेरिका के बाद अब ब्रिटेन ने हटायी सारी पाबंदियां

New Delhi: भारत में अभी भी कोरोना कहर बरसा रहा है. हालांकि देश के कुछ राज्यों से राहत पहुंचाने वाली खबरें जरूर आई हैं. लेकिन अभी भी एक दिन में कोरोना से मरने वाले लोगों की संख्या डराने वाली है. इन सबके बीच ब्रिटेन से राहत की खबर आई हैं . जानकारी के अनुसार ब्रिटेन में अस सभी पाबंदियां हटा ली गई हैं. वहां की सरकार ने कहा है कि अब लोग एक दुसरे से गले मिल सकते है, साथ में घूम सकते है, रह सकते है, स्कूलों में भी मास्क लगाना जरूरी नहीं, सिनेमा घरो से लेकर रेस्टुरेंट तक सबकुछ पूरी क्षमता के साथ खोलने की इजाजत दे दी गई है. लोगों का कहना है कि इतने दिनों की पांबदियों के बाद अभी के हालात भावुक करने वाले हैं . ब्रिटेन की इस खबर के बाद से दुनियाभर के देशों को कुछ सकारात्मकता तो जरूर मिलेगी. बता दें कि इसके पहले भी कुछ देशों ने कोरोना को पूरी तरह हराने का दावा किया था. इसके साथ ही उन देशों में भी सभी तरह की पाबंदियों को खत्म कर दिया गया था. टीकाकरण होने पर राहत की सांस जैसे जैसे दुनिया के कई देश वैक्सीनेट हो रहे है. टीकाकरण का… Continue reading पश्चिम देशों से आ रही राहत की खबर : अमेरिका के बाद अब ब्रिटेन ने हटायी सारी पाबंदियां

भारत बन रहा दुनिया का अछूत

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने इस साल दूसरी बार अपना भारत दौरा रद्द किया है। पहली बार जब उनको गणतंत्र दिवस की परेड में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल होने के लिए बुलाया गया था तब और दूसरी बार इस महीने के आखिर में प्रस्तावित दौरा उन्होंने रद्द किया है। पहली बार उन्होंने अपने कारणों से दौरा रद्द किया था। उस समय ब्रिटेन में कोरोना का महामारी की नई लहर आई थी और चारों तरफ त्राहिमाम की स्थिति थी। लेकिन इस बार उन्होंने भारत की स्थिति को देखते हुए दौरा रद्द किया। भारत में कोरोना वायरस की स्थिति बेकाबू होने की वजह से उन्होंने अपना दौरा टाला है और इतना ही नहीं उनके देश में ट्रैवल के मामले में भारत को रेड लिस्ट में डाल दिया है। भारत से जाने वाली उड़ानों पर ब्रिटेन ने पाबंदी लगा दी है। भारत के डबल म्यूटेंट वैरिएंट से ब्रिटेन में अलग चिंता है कि इस बीच भारत में ट्रिपल म्यूटेंट वैरिएंट का पता चल गया है। कोरोना वायरस के संक्रमण से खुद को मुक्त करने वालों देशों ने धीरे धीरे भारत से दूरी बनानी शुरू कर दी है। न्यूजीलैंड ने भी अपने यहां भारत के यात्रियों के आने पर पाबंदी लगा… Continue reading भारत बन रहा दुनिया का अछूत

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति प्रिंस फिलिप का निधन, पीएम मोदी ने जताया दुख

लंदन। ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति प्रिंस फिलिप का शुक्रवार को 99 वर्ष की आयु में निधन हो गया। लंदन स्थित बकिंघम पैलेस की ओर से जानकारी देते हुए कहा गया कि प्रिंस फिलिप अब हमारे बीच नहीं रहे। महारानी की ओर से जारी एक बयान में राजमहल ने बताया है कि शुक्रवार की सुबह प्रिंस फिलिप का विंडसर कैसल में निधन हो गया। आपको बता दें कि प्रिंस फिलिप आगामी 10 जून को अपना 100वां जन्मदिन मनाने वाले थे। बयान में आगे कहा गया है कि गहरे दुख के साथ सूचित करना पड़ रहा है कि महारानी के पति प्रिंस फिलिप- ड्यूक ऑफ एडिनबर्ग का निधन हो गया है। उन्होंने आज सुबह विंडसर कैसल में अंतिम श्वांस ली। यह भी पढ़ें:- कोरोना वैक्सीन लगवाओ और आइसक्रीम-बियर का फ्री मजा उठाओ, यहां मिल रहे शानदार ऑफर गौरतलब है कि प्रिंस फिलिप को पिछले दिनों लंदन के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां से बाद में उनको छुट्टी दे दी गई थी। प्रिंस फिलिप को ड्यूक ऑफ एडिनबर्ग भी कहा जाता है। 1947 में एलिजाबेथ द्वितीय से प्रिंस फिलिप ने शादी की थी। उन्होंने 2017 में सार्वजनिक जीवन से संन्यास ले लिया था। यह भी पढ़ें:-  खतरनाक हो रहा… Continue reading महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति प्रिंस फिलिप का निधन, पीएम मोदी ने जताया दुख

Prince Philip NO More : 100वां जन्मदिन मनाने से पहले ही ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति प्रिंस फिलिप की मौत

आज सुबह ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति प्रिंस फिलिप का निधन हो गया है.प्रिंस फिलिप 99 वर्ष के थे. प्रिंस फिलिप विंडसर कैसल में भर्ती थे.प्रिंस फिलिप को कुछ समय पहले ही हार्ट में इनफेक्‍शन हो गया था. जिसके बाद प्रिंस फिलिप को ईलाज के लिए 16 फरवरी 2021 को अस्पताल में भर्ती कराया गया.  करीब एक माह से अधिक तक तक हार्ट इनफेक्‍शन का इलाज कराने के बाद वे घर लौटे थे.  रॉयल फैमिली की ओर से जारी एक बयान में कहा गया, बेहद दुख के साथ महारानी ने यह घोषणा की है कि उनके पति और ड्यूक ऑफ एडिनबर्ग प्रिंस फिलिप अब इस दुनिया में नहीं रहे. इसे भी पढ़ें मिसेज वर्ल्ड विजेता ने भरे मंच पर छीन लिया मिसेज श्रीलंका की विजेता से ताज, लगा दिया यह आरोप प्रिंस फिलिप नौसेना के पूर्व कमांडर भी रहे थे फिलिप को ‘ड्यूक ऑफ एडिनबर्ग’ भी कहा जाता था. प्रिंस फिलिप और महारानी एलिजाबेथ  द्वितीय का विवाह 1937 में हुआ था. प्रिंस फिलिप ने पत्नी पूरी जिंदगी क्‍वीन के पति के तौर पर चैरिटी वर्क करते हुए गुजारी थी.2017 में प्रिंस फिलिप ने सार्वजनिक जीवन से संन्यास ले लिया था.फिलिप यूनानी शाही परिवार के सदस्य थे और उनका जन्म… Continue reading Prince Philip NO More : 100वां जन्मदिन मनाने से पहले ही ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति प्रिंस फिलिप की मौत

गले नहीं उतरी बात

ब्रिटेन की सरकार ने जिस तरह नस्लभेद की समस्या पर परदा डालने की कोशिश की, उससे उसकी फजीहत होनी ही थी। जिस समय पूरी दुनिया में नस्लभेद के खिलाफ एक नई चेतना आई है, अगर तब बोरिस जॉनसन सरकार की ये उम्मीद पूरी नहीं होनी थी कि कुछ औपचारिकताओं के जरिए समस्या को ढका जा सकता है। जॉनसन सरकार ने समस्या की पड़ताल के लिए एक जांच समिति बनाई। उसकी रिपोर्ट में कहा गया कि भले ही ब्रिटेन एक उत्तर-नस्लीय समाज नहीं बन पाया है, लेकिन लोगों के जीवन में नस्ल के बजाय पारिवारिक ढांचे और सामाजिक वर्ग की भूमिका ज्यादा अहम है। अमेरिका में काले व्यक्ति जॉर्ज फ्लाएड की मौत के बाद ब्रिटेन के भीतर उपजे तनाव और ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ प्रदर्शनों के बाद ये कमीशन स्थापित किया गया था। रिपोर्ट में ब्रिटेन के भारतीय समुदाय समेत कुछ अन्य जातीय समूहों का उदाहरण देते हुए ये साबित करने की कोशिश की गई है कि नस्लवाद भले ही मौजूद हो, लेकिन वो ब्रिटिश जीवन में अब निर्णायक भूमिका में नहीं निभाता। कमीशन के अध्यक्ष टोनी सिवेल ने कहा है कि सुबूत ये दिखाते हैं कि हमारा समाज एक खुला समाज है। पिछले पचास सालों में देश ने लंबा रास्ता तय… Continue reading गले नहीं उतरी बात

सारा खेल नैरेटिव का

पहले ब्रिटेन ने अपने यहां चीन के टीवी चैनल सीजीटीएन को बंद किया। जैसा कि राजनयिकों के निष्कासन के मामले में होता है, तो कुछ- कुछ उसी तरह जवाबी कार्रवाई करते हुए चीन ने अपने देश में बीबीसी के प्रसारण पर रोक लगा दी।

ब्रिटेन में सराहनीय पहल

कुछ स्कैंडेनेवियन देशों और न्यूजीलैंड जैसे मुल्कों को छोड़ दें, तो आज भी दुनिया भर में राजनीति में महिलाओं की भागीदारी सीमित ही है। महिलाएं के राजनीति में आगे बढ़ने में कई बाधाएं हैं

ब्रिटेन में नए स्ट्रेन से बढ़ी मौतें

अब तक माना जा रहा था कि कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन ज्यादा संक्रामक है और ज्यादा तेजी से फैलता है, लेकिन अब कहा जा रहा है कि यह ज्यादा खतरनाक भी है।

ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी में तबाही

भारत में भले कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार कम हो रहा है पर दुनिया के कई देशों में इस वायरस ने अब भी तबाही मचा रखी है। ब्रिटेन में मंगलवार को एक दिन में रिकार्ड संख्या में 16 सौ लोगों की मौत हुई है।

और लोड करें