nayaindia lok sabha sumanlata ambrish सुमनलता अंबरीश क्या फिर निर्दलीय लड़ेंगी
Election

सुमनलता अंबरीश क्या फिर निर्दलीय लड़ेंगी

Share
lok sabha sumanlata ambrish
lok sabha sumanlata ambrish

यह लाख टके का सवाल है कि कर्नाटक में इतने जतन से सजाया गया भाजपा का खेल कितना चल पाएगा? भाजपा ने एचडी देवगौड़ा की पार्टी जेडीएस के साथ तालमेल किया और निर्दलीय सांसद सुमनलता अंबरीश को भी पार्टी में शामिल कर लिया। लेकिन मुश्किल यह थी कि देवगौड़ा परिवार हर हाल में मांड्या सीट पर चुनाव लड़ने के लिए अड़ा हुआ था। वह परिवार का पुराना गढ़ रहा है। जेडीएस हासन और मांड्या सीट नहीं छोड़ सकती थी। मजबूरी में भाजपा को मांड्या सीट देवगौड़ा की पार्टी के लिए छोड़नी पड़ी। गौरतलब है कि सुमनलता अंबरीश इसी सीट से सांसद हैं। lok sabha sumanlata ambrish

यह भी पढ़ें: भारत के लोकतंत्र व चुनाव निष्पक्षता पर अमेरिका नहीं बोलेगा तो क्या रूस बोलेगा?

अब उन्होंने चुनाव लड़ने की तैयारी कर ली है। बताया जा रहा है कि वे एक बार फिर निर्दलीय चुनाव लड़ सकती हैं। ध्यान रहे पिछली बार उनके साथ एक सहानुभूति थी क्योंकि चुनाव से कुछ समय पहले ही उनके पति कन्नड़ फिल्मों के बड़े अभिनेता अंबरीश की मौत हुई थी। इस सहानुभूति के अलावा भाजपा ने भी उनको समर्थन दिया था। इसलिए वे चुनाव जीत गई थीं। इस बार भाजपा और जेडीएस साथ मिल कर लड़ रहे हैं और सीधा मुकाबला कांग्रेस से होगा तो सुमनलता अंबरीश के लिए मुश्किल हो सकती है।

यह भी पढ़ें: मुख़्तार अंसारी जैसों का यही हश्र!

तभी यह सवाल भी उठ रहा है कि क्या वे कांग्रेस के समर्थन से चुनाव लड़ सकती हैं? इसके लिए उनको भाजपा से इस्तीफा देना होगा। बहरहाल, उन्होंने कहा है कि वे अपने अगले कदम के बारे में तीन अप्रैल को फैसला करेंगी। अगर वे भाजपा से अलग होती हैं तो इससे भाजपा के चुनाव अभियान को झटका लगेगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें