Maharashtra politics

  • सीट बंटवारे के बाद महाराष्ट्र कांग्रेस में विवाद

    महाराष्ट्र में महा विकास अघाड़ी की तीनों पार्टियों शिव सेना उद्धव ठाकरे गुट, एनसीपी शरद पवार गुट और कांग्रेस में सीटों का बंटवारा हो गया है। उद्धव ठाकरे 21 और कांग्रेस 17 सीटों पर लड़ेगी। शरद पवार की पार्टी को 10 सीटें मिली हैं। सीट बंटवारे के बाद बाकी पार्टियों में तो सब ठीक है क्योंकि दोनों पार्टियां टूटने के बाद कमजोर हुई हैं और उनको जितनी सीटें मिली हैं वह पर्याप्त है। लेकिन कांग्रेस पार्टी टूटी भी नहीं और फिर भी उसकी सीटें कम हो गईं। तभी कांग्रेस के अंदर कई स्तर पर घमासान शुरू हो गया है। वैसे...

  • नकली शिव सेना कौन है

    चुनाव आयोग और महाराष्ट्र विधानसभा के स्पीकर के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी असली और नकली शिव सेना का फैसला कर दिया है। उन्होंने सोमवार को महाराष्ट्र की एक चुनावी सभा में उद्धव ठाकरे गुट की पार्टी को नकली शिव सेना कहा। इसका मतलब है कि उनकी नजर में भी एकनाथ शिंदे का गुट असली शिव सेना है। चुनाव आयोग और स्पीकर ने भी उसी को असली शिव सेना माना क्योंकि उसके साथ ज्यादा विधायक और सांसद थे। यह अलग बात है कि उसके साथ जितने सासंद थे उतनी सीटें भी भाजपा उनको बड़ी मुश्किल से दे रही...

  • सुप्रिया सुले के खिलाफ लड़ेंगी अजित पवार की पत्नी

    मुंबई। महाराष्ट्र की बारामती सीट पर इस बार हाई प्रोफाइल मुकाबले की घोषणा हो गई। शरद पवार गुट की एनसीपी की ओर से सुप्रिया सुले के नाम की घोषणा होने के साथ ही अजित पवार गुट ने सुनेत्रा पवार को उम्मीदवार बनाने का ऐलान कर दिया। अजित पवार ने पहले ही साफ कर दिया था कि उनकी पत्नी इस बार बारामती सीट से चुनाव लड़ेंगी। एनसीपी अजित गुट के नेता सुनील तटकरे ने शनिवार को सुनेत्रा पवार के नाम की घोषणा की। गौरतलब है कि अजित और सुप्रिया चचेरे भाई-बहन हैं। इस रिश्ते से सुप्रिया और सुनेत्रा ननद-भाभी हैं। बहरहाल,...

  • महाराष्ट्र में विपक्षी तालमेल में खटपट

    मुंबई। महाराष्ट्र में कांग्रेस, उद्धव ठाकरे और शरद पवार के गठबंधन में एक बार फिर खटपट की खबर है। बुधवार को उद्धव ठाकरे ने अपनी पार्टी के 17 उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर दिया। इसके बाद से गठबंधन में विवाद शुरू हो गया है। शरद पवार ने कहा है कि उद्धव गुट ने गठबंधन धर्म का निर्वाह नहीं किया है। कांग्रेस ने भी उद्धव की इस एकतरफा घोषणा पर आपत्ति जताई है। उद्धव ने जिन 17 सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा की है उनमें से तीन पर कांग्रेस के नेता इंतजार कर रहे हैं। बहरहाल, उद्धव की घोषणा के...

  • राज ठाकरे को कुछ भी देगी भाजपा

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • अजित पवार की मुश्किल बढ़ाई

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • अमित शाह से मिले राज ठाकरे

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • शरद पवार का नाम का इस्तेमाल नहीं करेंगे अजित

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • महाराष्ट्र की राजनीति से अब दूर केसीआर

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • उद्धव की एकतरफा घोषणा से नाराजगी

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • शरद पवार ने शिंदे और अजित को लंच पर बुलाया

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • राज ठाकरे भी भाजपा के साथ जाएंगे

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • शरद पवार को नया नाम इस्तेमाल करने की सलाह

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • अजित पवार के हमले क्यों तेज हो रहे हैं?

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • स्पीकर ने भी अजित गुट को असली एनसीपी माना

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • सरकार के श्वेत पत्र में चव्हाण का नाम है

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • राज्यसभा की सीट पर असर नहीं

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • शरद पवार बनाम अजित पवार

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • अशोक चव्हाण ने कांग्रेस छोड़ी

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • उद्धव का मोदी पर नरम-गरम रुख

    भारतीय जनता पार्टी ने अब ठान लिया है कि महाराष्ट्र में हर हाल में राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना यानी मनसे से तालमेल करना है। शिव सेना के अलग होने के बाद भाजपा पहले तो कहती रही थी कि वह अकेले चुनाव लड़ेगी। फिर बाद में शिव सेना का विभाजन करा कर एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। फिर शरद पवार की पार्टी एनसीपी में विभाजन करा कर अजित पवार को उप मुख्यमंत्री बनाया और उनकी पार्टी से तालमेल किया। अब वह राज ठाकरे की पार्टी से भी तालमेल करने जा रही है।...

  • और लोड करें